Tuesday, September 28, 2021

बिहार के भागलपुर में हो रही है रसीले सेबों की खेती, एक एकड़ में खेती द्वारा हो रही है 18 लाख रुपयों की कमाई

सेब की खेती ज्यादातर ठंडे प्रदेशों में होती है लेकिन आज हम आपको बिहार के एक ऐसे किसान से रूबरू कराएंगे जो मात्र 1 एकड़ में सेब की खेती द्वारा 18 लाख रुपए कमा रहे हैं।

बिहार में सेब की खेती

बिहार में सेब की खेती की शुरुआत गोपाल सिंह (Gopal Singh) ने की थी। उन्होंने वकालत की पढ़ाई की है। वे अपने पंचायत के मुखिया के तौर पर भी कार्य कर चुके हैं। साथ ही कृषि के क्षेत्र में भी एक प्रगतिशील किसान है और खेती के लिए देश के कई राज्यों का भ्रमण भी किया है। – advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

4 वर्ष पूर्व हुई थी शुरुआत

गोपाल सिंह (Gopal Singh) भागलपुर (Bhagalpur) के तेतरी ग्राम से ताल्लुक रखते हैं।
उनका एक बड़ा सा प्लॉट एनएच (NH) के करीब है और उसमें वे सेब की खेती कर रहे हैं। उन्होंने अपने खेतों में सेब के पौधों को लगभग 4 वर्ष पूर्व लगाया था, जो अब फल दे रहे हैं। उन्हें यह उम्मीद है कि अगले सीजन में उन्हें अत्यधिक मात्रा में फल प्राप्त होगा। – advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

लगाया खेतो में अन्य प्रकार के फल

उन्होंने बताया कि सेब की खेती प्रारंभ करने से पूर्व उन्होंने इंटरनेट पर एक्सप्लोर किया एवं बहुत से जगहों का दौरा कर जानकारी इकट्ठा की। उन्होंने अपने खेतों में अमरूद, मौसंबी और नारंगी आदि फलों के पेड़ों को लगाया है। जब उन्हें HRMN-99 सेब की किस्म के बारे में जानकारी मिली जो 45 से 48 डिग्री टेंपरेचर में तैयार होकर फल देता है।

उसके बाद उन्होंने उसे अपने खेतों में लगाने का निश्चय किया। वे कृषि विशेषज्ञ की मदद से हिमाचल प्रदेश से सेब की लगभग 1000 पेड़ को लेकर आए और अपने 4 एकड़ जमीन में लगा दिया।- advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

आखिर किस तरह लगाए पौधे?

उन्होंने यह जानकारी दिया कि जिस तरह हम अन्य पेड़ को लगाते हैं, उस तरह से सेब के पेड़ को भी लगाया जाता है। 15 * 20 की दूरी पर सेब के पौधों को लगाना उचित होता है।

पौधों में उर्वरक के लिए जैविक खाद का उपयोग करना चाहिए। उन्होंने बताया कि अपने पौधों की सिंचाई ड्रिप इरिगेशन तकनीकी द्वारा करता हूं, जिसमें पानी की बचत होती है। – advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

हो सकती है 18 लाख की कमाई

उन्होंने बताया कि 7 सालों के बाद इस सेब की खेती से 1 क्विंटल फल की प्राप्ति होगी।

वही चौथे साल के बाद एक पेड़ से लगभग 50 किलो सेब का उत्पादन होना अनिवार्य है, जिस हिसाब से एक पौधे से लगभग 50000 रुपए प्राप्त होगी। – advocate gopal singh from bhagalpur Bihar is doing apple farming

अगर आप गार्डेनिंग सीखना चाहते हैं तो हमारे “गार्डेनिंग विशेष” ग्रुप से जुड़ें – जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें