Sunday, October 24, 2021

ब्रिटेन से 80 लाख की नौकरी छोड़कर भारत लौटा ये युवक, जरबेरा फूलों की खेती से कमा रहे करोड़ों रुपये: जानें कैसे

अब भारत के पढ़े-लिखे युवा भी खेती के क्षेत्र में जा रहे हैं। उनमें से एक आजमगढ़ के अभिनव सिंह (Abhinav Singh) हैं, जो ब्रिटेन (Britain) में अपनी अच्छी नौकरी छोड़ जरबेरा फूलों की खेती में हाथ आजमा रहे हैं। इसके जरिए वह कई युवाओं को रोजगार भी प्रदान कर रहे हैं।

After leaving 80 lakh pakage from Britain this boy is doing gerbera flower farming

80 लाख रुपये का पैकेज छोड़ भारत वापस लौटे

अभिनव सिंह आजमगढ़ के चिलबिला गांव के रहने वाले है। वह ब्रिटेन में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के पद पर तैनात थे, जिसमें उनकी सैलरी 80 लाख रुपये सालाना थी, लेकिन वहां उन्हे हमेशा अपने देश की याद सताती थी। इसी वजह से अभिनव वापस लौटने का फैसला किए।

After leaving 80 lakh pakage from Britain this boy is doing gerbera flower farming

यह भी पढ़ें :- एक लीटर तेल से लगभग 14 हज़ार तक कि कमाई, जिरेनियम की खेती से यह किसान कर रहा है कमाल: जानिए डिटेल्स

गांव लौट कर 1 एकड़ खेत में किए जरबेरा फूल की खेती

अभिनव अपने गांव में ही सरकारी योजनाओं की मदद से 1 एकड़ खेत में पाली हाउस लगाकर जरबेरा फूल की खेती करने लगे। इन फूलों का उपयोग ज्यादातर सजावट के लिए किया जाता।

After leaving 80 lakh pakage from Britain this boy is doing gerbera flower farming

50 से ज्यादा लोगों को दिए रोजगार

फूल की खेती से ना केवल अभिनव सिंह (Abhinav Singh) को बल्कि आसपास के 50 से ज्यादा लोगों को मुनाफा हुआ है। अभिनव ने 50 से ज्यादा महिलाएं और पुरुषों को रोजगार दिया है। अभिनव के अनुसार जरबेरा फूल की डिमांड लगातार बढ़ रही है, जिससे आने वाले समय में किसानों की आए बढ़ेगी।

After leaving 80 lakh pakage from Britain this boy is doing gerbera flower farming

विदेशों में भी कर रहे जरबेरा फूल को निर्यात

फसल के लिए बेकार मानी जाने वाली खेत पर अभिनव ने इस फूल की खेती शुरू की इसलिए पूरे क्षेत्र में उनकी काफी प्रशंसा हो रही है। विदेशों में भी अब अभिनव जरबेरा फूल को निर्यात करना शुरू कर चुके हैं। साथ ही अभिनव फूल की खेती के क्षेत्र के अन्य किसानों को भी प्रशिक्षित कर रहे है, ताकि उनकी भी आय बढ़े।