Saturday, December 3, 2022

इलेक्ट्रिक बाइक और कार के बाद अब दुनिया को मिला पहला इलेक्ट्रिक एयरप्लेन, 3 मिनट के चार्ज में भड़ सकेंगे एक घंटे तक उड़ान

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती महंगाई की मार से उबरने के साथ-साथ प्रदूषण और जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता को कम करने के लिए कम्पनियों ने इलेक्ट्रिक वाहनों जैसे बाइक, कार, ऑटोरिक्शा, बस और साइकिल का निर्माण किया। ऐसे में अभी तक आप सभी ने इलेक्ट्रिक वाहनों के बारें देखा-सुना होगा या फिर अधिकांश लोग सफर भी किए होंगे। लेकिन अब आप भविष्य में इलेक्ट्रिक हवाईजहाज मे भी सफर कर सकते हैं।

जी हाँ, टेक्नोलॉज़ी के इस युग में अब इन्जीनियरों ने इलेक्ट्रिक से संचालित होने वाले हवाई जहाज का अविष्कार किया है, जिसका हाल ही में अमेरिका (America) के वाशिंगटन (Washington) में सफल परिक्षण किया गया है। पहली बार सफल उड़ान भरनेवाली इलेक्ट्रिक हवाईजहाज (Electric Airplane) का नाम एलिस (Alice) है।

किस तकनिक पर काम करता है यह इलेक्ट्रिक हवाईजहाज

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इलेक्ट्रिक हवाईजहाज के प्रोटोटाइप का निर्माण इजराइल (Israel) एविएशन एयरक्राफ्ट (Eviation Aircraft) नामक कम्पनी ने किया है। इस कम्पनी के CEO और प्रेसीडेंट ग्रेगरी डेविड का कहना है कि, “इस नई तकनिक को अन्तिम बार साल 1950 में आखिरी बार देखा गया था। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक, Alice Electric Airplane देखने में प्राइवेट जेट की तरह प्रतीत होता है और इसमें 9 यात्री आसानी से बैठ सकते हैं। इस इलेक्ट्रिक हवाईजहाज में इलेक्ट्रिक कार में इस्तेमाल होनेवाली बैट्री तकनीक का प्रयोग किया गया है।

यह भी पढ़ें:- भारत में समुद्र के भीतर 300 किमी प्रति घन्टे की रफ्तार से दौड़गी बुलेट ट्रेन, 65 किमी गहराई में बनेगी Under Sea Tunnel

3 मिनट चार्ज करने पर 1 घन्टे की उड़ान भर सकता है यह हवाईजहाज

एलिस नामक इलेक्ट्रिक हवाईजहाज (Alice Electric Airplane) वाशिंगटन स्टेट के ग्रैंड काउंटी इन्टरनेशनल एयरपोर्ट से निरिक्षण किया गया। इस परिक्षण में E-एयरप्लेन सफल 3500 फीट उँचाई तक उड़ान भरते हुए एयरफ्लिज का दो चक्कर लगाया। 8 मिनट तक उड़ान भरने के बाद एलिस ने सफलतापूर्वक लैंड करके इतिहास रच दिया। एलिस इलेक्ट्रिक हवाईजहाज तीन मिनट के सिंगल चार्ज में 1 घन्टे तक उड़ान भरने में सक्षम है।

पैसेंजर जेट्स के मुकाबले एलिस की रफ्तार है कम

बता दें कि, एलिस हवाईजहाज (Alice Airplane) को लंबी दूरी के लिए डिजाइन नहीं किया गया है लेकिन अभी इसकी रेंज लंदन से पेरिस, एम्सटैर्डम या ज्यूरिक तक का सफर तय किया जा सकता है। हालांकि, इसकी स्पीड रेंज की बात करें तो यह मौजूदा दौर के पैसेंजर जेट्स के मुकाबले पीछे है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जहां बोइंग 737 की स्पीड 588 मील/ घंटा है वहीं एलिस की रफ्तार महज 287 मील/घंटा है।

साल 2027 तक बाजार में आ जाएगा एलिस एयरप्लेन

एलिस हवाईजहाज बनाने वाली कम्पनी एविएशन एयरक्राफ्ट ने दावा किया है कि, इस ऑल इलेक्ट्रिक एयरप्लेन को अधिक देखरेख की आवश्यकता नहीं है। बता दें कि कंपनी ने इसे तीन कंफीग्रेशन कम्प्यूटर, एक्जेकेटिव और कार्गो में बनाया है। इसमें से कम्प्यूटर कान्फिगरेशन वाले हवाईजहाज में 9 यात्री और 3 पायलट सफर कर सकते हैं जबकी एक्जेकेटिव हवाईजहाज में 6 यात्री ही यात्रा तय कर सकते हैं। बता दें कि, कम्पनी का दावा है कि साल 2027 तक इलेक्ट्रिक से चलनेवाली एलिस इलेक्ट्रिक हवाईजहाज बाजार में बिक्री के लिए उप्लब्ध हो जाएंगे।

कुछ दिन पहले उड़ने वाली बाइक (Flying Bike) का सफल निरिक्षण किया गया था और अब इलेक्ट्रिक हवाईजहाज (Alice Airplane) का किया गया है। उम्मीद है आनेवाले समय में इससे लोगों को सफर तय करने में काफी सहुलियत होगी।