Thursday, August 18, 2022

7 माह के बच्चे को साथ लेकर ड्यूटी पर लौटी महिला कॉन्सटेबल, मां और वर्दी दोनों का फर्ज निभा रही

मां एक ऐसा शब्द है जिसको बोलकर या सुनकर अंदर से एक सुकून आता है। जी हां, त्याग और ममता की मूरत कहलाने वाली मां की बराबरी इस दुनिया में कोई भी नहीं कर सकता। मां चाहे किसी भी परिस्थितियों में हो लेकिन अपने संतान के प्रति अपना फर्ज निभाने से कभी नहीं चूकती।

आज हम एक ऐसी हीं मां की बात करेंगे, जो आज के समय में एक साथ दो- दो फर्ज निभा रही है। जी हां, असम (Assam) की एक महिला कांस्टेबल सचिता रानी रॉय (Constable Sachita Rani Roy) अपने सात महीने के बच्चे को लेकर ड्यूटी पर रोजाना तैनात रहती हैं। बता दें कि, इनके पति भी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान हैं और वे अभी असम से बाहर तैनात हैं।

मैटर्निटी लीव्स समाप्त हो जाने के कारण करना पड़ रहा है रोजाना ड्यूटी

महिला कांस्टेबल सचिता (Constable Sachita Rani Roy) ने बताया कि, मैटर्निटी लीव्स समाप्त हो जाने के कारण उन्हे इस परिस्थिति में भी रोजाना ड्यूटी करना पड़ रहा है हालांकि उन्होंने लीव्स को बढ़ाने का अनुरोध किया था लेकिन इसे खारिज कर दिया गया।

यह भी पढ़ें :- सड़क पर गलत कार पार्किंग का फोटो खींचिए और 500 रु का ईनाम पाइए, नितिन गडकरी ने की यह घोषणा

बच्चे को लेकर पूरे दिन करती हैं काम

दरअसल, कांस्टेबल सच्चिता रानी रॉय लीव्स के खारिज होने जाने के बाद रोज अपने बच्चे को साथ सुबह 10.30 बजे अपने कार्यालय पहुंच जाती हैं और पूरे दिन अपना ड्यूटी पूरा करने के बाद हीं घर जाती हैं।

घर पर कोई नहीं है, बच्चे की देखभाल करने वाला

उन्होंने (Constable Sachita Rani Roy) बताया कि, उनके घर पर बच्चे की देखभाल करने वाला कोई नहीं है और इसी कारण उन्हे ड्यूटी पर अपने सात महीने के बच्चे को लाना पड़ रहा है। उन्होंने आगे बताया कि, उनके साथ काम करने वालें कुछ लोग उनके बच्चे का देखभाल करते है। उन्होंने उन सहयोगियों को आभार व्यक्त भी किया।

छुट्टी नहीं मिलने तक ड्यूटी को रखेगी जारी

27 वर्षीय सच्चिता बताती हैं कि, उन्होंने छुट्टी के लिए आवेदन दिया है लेकिन जब तक छुट्टी नहीं मिल जाती वे ऐसे हीं अपनी ड्यूटी को जारी रखेगी और अपने दोनो फर्ज को निभाती रहेंगी