Wednesday, September 28, 2022

अब खाना बनाने का नो टेंशन! मात्र 15 मिनट में यह मशीन 120 तरह का खाना पका सकती है: Nosh

आज के भाग-दौड़ भरी दिनचर्या में खासकर वर्किंग प्रोफेशनल्स लोगों के लिए खाना पकाना बहुत मुश्किल है। इनमें से कुछ लोगों को भोजन पकाने के लिए समय नहीं मिलता और जिन्हें मिलता है वे मनपसंद भोजन नहीं बना पाते। कभी नमक तो कभी मिर्च तो कभी मसाले की न्यूनता या अधिकता हो जाती है। इन सब समस्याओं से बचने के लिए उन्हें होटलों में बना भोज्य पदार्थ ही खाना पड़ता है। लेकिन अब आपको भोजन पकाने की चिन्ता करने की जरुरत नहीं है, क्योंकि टेक्नोलॉज़ी के इस युग में यतिन वराछिया (Yatin Varachhia) ने ऐसे मशीन का आविष्कार (Automatic Cooking Machine) किया है, जो मिनटों में खाना पका सकती है। इसी कड़ी में आइए जानते हैं यतिन और उनके आविष्कार के बारें में-

यतिन का परिचय

गुजरात (Gujarat) के एक छोटे से गांव खंडवा के रहने वाले यतीन वराछिया (Yatin Varachhia) ने अपनी 12वीं तक की शिक्षा गांव से ही पूरी की है। उसके बाद उन्होंने बेंगलुरू के भारतीय विज्ञान संस्थान से विज्ञान से स्नातक की उपाधि ग्रहण की। पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कई बड़ी कंपनियों में नौकरी की, जिसके दौरान उन्हें काम के सिलसिले में अक्सर बाहर जाना पड़ता था, जिससे उन्हें मन पसंद भोजन की काफी दिक्कतें होती थी।

यतिन की पत्नी भी नौकरी करती थी, जिससे समय की कमी के कारण खाना पकाने का समय नहीं मिलता था। व्यस्त जीवन में इस समस्या से निजात पाने के लिए उन्होंने एक कुक भी रखा, ताकि उन्हें पसंद के अनुसार स्वादिष्ट भोजन मिल सके। लेकिन कुक के हाथों से बना खाने का स्वाद उन्हें अच्छा नहीं लगा। ऐसे में यतिन कुछ ऐसा करना चाहते थे जिससे इस समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएं।

दोस्तों के साथ मिलकर तैयार की अनोखे डिवाइस बनाने की योजना

वह एक ऐसे मशीन का निर्माण करना चाहते थे, जिसकी सहायता से बहुत ही कम समय में अपने पसंद का खाना बनकर तैयार हो जाए। उन्होंने अपने कुछ दोस्तों से भी बातचीत तो पता चला कि उन्हें भी इस समस्या से जूझना पड़ता है। उसके बाद उन्होंने खाना बनाने की समस्या को दूर करने के लिए वर्ष 2017 में अपने दोस्त प्रणव रावल, अमित गुप्ता और सुदीप के साथ मिलकर एक विशेष डिवाइस का निर्माण करने की योजना तैयार की।

यह भी पढ़ें :- बिजली की कमी को पूरा करने के लिए बंजर जमीन पर लगाया सोलर प्लांट, हो रही लाखों रुपए की कमाई

3 वर्ष में बनकर तैयार हुआ खाना पकाने की ऑटोमेटिक मशीन

हालांकि, ऐसे डिवाइस को बनाने में मोटी रकम की जरुरत थी। इसके लिए उन्होंने 15 लाख रुपये की बड़ी रकम इकट्ठा की, इस काम में उन्हें सरकार की तरफ से भी समर्थन मिला। इस अनोखे डिवाइस को बनाने के लिए यतिन और उनके दोस्तों ने साथ कई प्रकार के एक्सपेरिमेंट किए और 6 अलग-अलग प्रोटोटाइप बनाया। उसके बाद उन्होंने खाना बनाने की ऑटोमैटिक मशीन (Automatic Cooking Machine) का आविष्कार किया, जिसका नाम “NOSH” है। इस मशीन को तैयार करने में 3 साल का वक्त लगा।

ऑटोमेटिक कुकिंग मशीन में कैसे बनता है खाना?

माइक्रोवेव की तरह दिखने वाली इस मशीन में खाना बनाना बहुत ही सरल है। इसमें मशीन में मसाले, तेल और पानी के लिए अलग-अलग स्लॉट डिजाइन की गई है। साथ ही इसमें मीट, पनीर और सब्जी के लिए एक अलग ट्रे भी लगाई गई है। खाना बनाना के लिए जब आप इसमें रॉ मटेरियल डालेंगे तो उसके बाद आप अपने पसंद के अनुसार डिश को चयन करना होगा। डिश का चुनाव करने के बाद बहुत ही कम समय में आपकी पसंद के जैसा खाना तैयार कर देगी।

Automatic Cooking Machine nosh
Automatic Cooking machine, Nosh

खाना पकाने की प्रक्रिया में नहीं पड़ती है किसी की भी जरुरत

हालांकि, एक आम व्यक्ति को खाना बनाने में जितना समय लगता है, यह मशीन भी उतना ही समय लेता है। उदाहरण के लिए यह मशीन पनीर बनाने में जहां 35 मिनट का समय लेती है वहीं पोहा बनाने में इसे 15 मिनट का समय लगता है। इस मशीन की सबसे खास बात यह है कि रेसिपी के अनुसार यह मशीन को हाथ के बने खाने जैसा स्वादिष्ट भोजन तैयार कर देती है। इस प्रक्रिया में भोजन पकाने के लिए किसी भी व्यक्ति की आवश्यकता नहीं होती है।

120 प्रकार के डिश बनाने में सक्षम है NOSH

आर्टिफिशल इंटेलीजेंस (AI) से लैस इस मशीन (Automatic Cooking Machine) को मोबाइल एप के माध्यम से नियंत्रित किया जाता है। NOSH मशीन में आप पोहा, पनीर, गाजर का हलवा, बिरयानी, कढ़ाही पनीर, उपमा, चिकन खुरचन, फ़िश करी, गार्लिक प्रॉन, पास्ता और मटर पनीर जैसे 120 प्रकार के अन्य व्यंजन को बना सकते हैं। वहीं इससे बने खाने का स्वाद भी बिल्कुल हैंडमेड खाने के जैसा होता है। बता दें कि, इस मशीन को तैयार करना आसान नहीं था, इसे हर डिश के हिसाब से तैयार किया गया है।

यह भी पढ़ें :- खिलाड़ी से बनीं मवेशी पालक, देशी गाय डेयरी फार्म की शुरुआत कर आज कमा रहीं अच्छा मुनाफा

प्री-ऑर्डर पर महज 40 हजार में खरीड सकते हैं ऑटोमेटिक कुकिंग मशीन

यतिन (Yatin Varachhia) खाना बनाने की ऑटोमैटिक मशीन की मार्केटिंग करने के लिए सोशल मीडिया और बेवसाईट के माध्यम से करते हैं। NOSH ऑटोमेटिक मशीन को पहले ऑर्डर करने पर 40 हजार खर्च आता है जबकी इसकी कीमत 50 हजार रुपये है। यदि आप इस मशीन का प्री-ऑर्डर करते हैं तो आपको एडवांस में 1 हजार रुपये भुगतान करना पड़ेगा और बाकी के पैसे मशीन के डिलीवरी के वक्त करना होगा। हालांकि, उनकी वेबसाइट पर इसके बारें में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई है।

देखिए यह मशीन कैसे खाना बनाती है

यूजर फ्रेंडली है यह NOSH मशीन

ऑटोमेटिक कुकिंग मशीन NOSH (Automatic Cooking Machine NOSH) को ऑर्डर करने के बाद आने में 4-5 माह का वक्त लगेगा। उनकी टीम में 15 लोग काम करते हैं जो प्रोसेसिंग से लेकर पैकेजिंग सभी का काम संभालते हैं। यह मशीन यूजर फ्रेंडली है जिसके कारण इसे कोई भी बहुत ही आसानी से चला सकता है। इसके अलावा यतिन कहते हैं, इस मशीन को लेकर किसी को भी कोई दिक्कत होती है तो उन्हें सुविधा मुहैया कराई जाती है।

यतिन और उनके दोस्तों द्वारा बनाई गई इस ऑटोमेटिक कुकिंग मशीन ऐसे अनेकों लोगों को समस्याओं से निजात दिलाएगा जिन्हें भोजन बनाने में दिक्कते होती है और मन पसंद खाना नहीं मिल पाता है।