Friday, February 3, 2023

लखनऊ के माटी कला बज़ार में कारीगरों का जो समान नही बिक पाया, उसे CM योगी ने खुद खरीद लिया

दिवाली के समय में सभी कुम्हार अपने-अपने कार्यों में व्यस्त है। बाकी लोग भी अपने घर की साफ-सफाई और डेकोरेशन की सारी सामग्री खरीदने में व्यस्त हैं। हमारे देश में दीवाली का त्योहार स्वच्छता को दर्शाता है। इस वक्त सभी व्यक्ति घर को साफ-सुथरा कर उन्हें बेहतरीन तरीकों से सजाने में मग्न रहतें हैं। इसी दौरान एक और बात देखने को मिली है, लखनऊ की। वहां “माटी कला” बाजार है। वहां के कलाकारों ने जो सामग्री बनाई थी, उसे हमारे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खरीद लिया है। वहां के कलाकार मुख्यमंत्री जी से भेंट के लिए गयें थे और वह उन्हें ये सब उपहार स्वरूप देना चाहतें थे। लेकिन मुख्यमंत्री जी ने उनकी कीमत उन्हें अदा किया।

कलाकारों को दियें उपहार

ऐसा नहीं है कि “माटी कला बाजार” में जो भी कलाकार अपने हुनर से बनाए हुए सामग्रियों को लेकर पहुंचे थे, उनकी बिक्री नहीं हुई। इन कलाकारों द्वारा बनाए गए सामान की अच्छी खासी बिक्री हुई थी, जिससे वे बेहद खुश थे। अपने ख़ुशी को साझा करने के लिए वे यूपी (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री से मिलने के बारे में सोचे। कलाकार बड़े उत्साह से बची हुई सामग्री मुख्यमंत्री जी को भेंट स्वरूप देना चाहते थे। लेकिन हमारे मुख्यमंत्री ने उनकी कीमत अदा की और बाद में उन कलाकारों को तोहफे भी दिए।

CM yogi buys diwali diya

6 लाख तक जलेंगे दीये

हम आपको एक जानकारी देना चाहते हैं कि हमारे योगी आदित्यनाथ आज राम जन्म स्थान पर जाकर वहां पूजा-अर्चना करने वाले हैं। राम मंदिर के शिलान्यास के उपरांत वहां प्रथम दिवाली मनाई जा रही है। इस दिवाली के अवसर पर पूरी अयोध्या नगरी में ज्योति ही ज्योति दिख रही है। यह वहां के लोगों में एक अलग सी चमक ला रही है। साथ ही यहां जो सरयू नदी है उस तट पर 6 लाख के करीब द्वीप जलाये जाएंगे। यहां 500 साल के बाद राम जन्म भूमि पर दिए जाने वाले हैं। यहां जो भी व्यक्ति हैं उनके लिए वर्चुअल दीपोत्सव की व्यवस्था हुई है।

दीवाली में जितना हो सके प्रदूषण मुक्त दीवाली मनाये और इस सुख-समृद्धि के पर्व को रौशनी से जगमगा कर उत्साहपूर्वक मनाएं, सभी बड़ो का आशीर्वाद लें।