Fig Farming by Sameer Dombay

नौकरी छोड़ खेती करना…कई बार लोग इसे नासमझी का नाम दे देते हैं। लेकिन इंसान को वही कार्य करना चाहिए जिसमे ज्यादा रुचि हो। एक ऐसे ही युवा किसान हैं समीर डॉम्बे, जो MNC की नौकरी छोड़ खेती को अपनी कमाई का जरिया बना लिए।

समीर डाम्बे (Sameer Dombay) महाराष्ट्र (Maharastra) के दौड के रहने वाले हैं। वर्ष 2013 में इंजीनियरिंग करने के बाद समीर का एक मल्टीनेशनल कम्पनी में प्लेसमेंट हो गया, जहां उनकी सैलरी बहुत हाई थी। अच्छी-खासी नौकारी होने के बाद भी समीर का मन किसी दूसरी ओर जा रहा था। हर वक्त उनके मन में कुछ अलग करने का विचार आता था।

Fig Farming by Sameer Dombay

नौकरी छोड़ शुरु की खेती

ऐसे में आखिरकार उन्होनें वर्ष 2014 में अपनी अच्छी-खासी नौकरी को छोड़ गांव लौट अंजीर की खेती (Fig Farming) करने का फैसला लिया। समीर के इस फैसले से उनके माता-पिता बेहद नाराज थे। ऐसे में घरवालों के बार-बार मना करने के बावजूद भी वे अपने खेती करने के फैसले पर अडिग रहे।

यह भी पढ़ें :- सरकारी नौकरी नहीं मिली इसलिए बन गए किसान, अब खेती के जरिए कमा रहे लाखों

खेती को बिजनेस के तरीके से शुरु किया

समीर (Sameer Dombay) बताते हैं कि उनके क्षेत्र की तरफ अंजीर की खेती (Fig Farming) काफी अधिक होती है, लेकिन किसानों को खेती और बिजनेस के आधुनिक तरीके के बारे में जानकारी ना होने के कारण अधिक मुनाफा नहीं हो पाता था। तब समीर ने इस खेती को बिजनेस के तरीके से शुरू किया। वे खेती के साथ-साथ प्रोसेसिंग और पैकेजिंग के कार्य भी करने लगे।

Farmer Sameer Dombay

दूसरे किसानों को भी देते हैं कमाई का अवसर

समीर ने 1 एकड़ जमीन पर अंजीर की खेती (Fig Farming) की शुरुआत की। उसके बाद उन्होनें फसल के पैदावार को फूड मार्केट में सप्लाई कर दी। प्रोडॉक्ट की क्वालिटी अच्छी होने के कारण रेगुलर बेसिस पर सप्लाई शुरु हो गया। आज के समय में समीर का प्रोडॉक्ट सुपर मार्केट के साथ-साथ ऑनलाइन भी उप्लब्ध है। अब वे दूसरे किसानों से उनके उत्पाद खरीद कर सुपर मार्केट में सप्लाई करते हैं और उन्हें अच्छी कमाई का अवसर भी प्रदान करते हैं। वे कहते हैं कि जो फल हार्वेस्टिंग के दो या तीन दिन बाद मार्केट में पहुंचते थे उन्हें अब वे 1 दिन में ही पहुंचा देते हैं। पहले बिचौलिए को मिलने वाले पैसे भी अब बंद हो चुके हैं। बाजार में डिलीवरी के बाद बचे हुए फ्रूट्स को समीर जैम और जेली बना कर उसे भी ऑनलाइन और ऑफ़लाइन बेचने का काम करतें हैं।

कम्पनी का टर्नओवर करोड़ों में

आमदनी का जिक्र करते हुए समीर बताते हैं कि सिर्फ फ्रूट्स से प्रति एकड़ डेढ़ से दो लाख रुपये तक की कमाई की जा सकती है। वर्तमान में उनकी कम्पनी का टर्नओवर डेढ़ करोड़ से अधिक है। दूसरे किसान भी अच्छी कमाई कर सके इसके लिए समीर उन्हें भी जानकारियां देते हैं।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here