Wednesday, August 4, 2021

शुभम यादव ऐसे पहले छात्र हैं जिन्होंने इस्लामिक स्टडी से मास्टर किया है और फर्स्ट आये हैं

हमें ऐसे बहुत से व्यक्ति मिलेंगे जो अपने परिवार और बच्चों के लिए हर वह कार्य करते हैं जो जीवन चलाने के जरूरी होता है। यह कार्य वह इसलिए करते हैं ताकि उनका बच्चा पढ़-लिख कर एक अच्छा व्यक्ति बन सके और उनका परिवार खुशहाल जीवन व्यतीत कर सके।

कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जो पिता के इस परिश्रम को अहमियत नहीं देते और उनकी मेहनत से कमाए हुए पैसे को यूं हीं खर्चते हैं और कुछ बच्चे ऐसे भी होते हैं जो अब अपने पिता के मेहनत को समझकर ऐसी उपलब्धि हासिल करतें हैं जिससे वह अन्य बच्चों के लिए प्रेरणा बनते हैं। आज हम आपको ऐसे लड़के की कहानी बताएंगे जिनके पिता किराने की दुकान चलाते हैं और बेटे ने इस्लामिक स्टडी की में एंटर करने की परीक्षा में सफलता हासिल की है।

Subham Yadav

शुभम यादव

21 वर्षीय शुभम यादव (Shubham Yadav) राजस्थान (Rajasthan) के अलवर (alwar) के निवासी हैं। उनके पिता का नाम प्रदीप यादव (Pradeep Yadav) है और वह किराने की दुकान चलाते हैं और मां इंदुबाला शिक्षिका हैं। हिंदू समाज के इस बेटे ने इस्लामिक स्टडीज की परीक्षा में अव्वल स्थान पाया है। उन्होंने सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ कश्मीर से इस्लामिक स्टडी के एग्जाम में टॉप स्थान प्राप्त कर एक मिसाल कायम किया है। वह देश के प्रथम गैर कश्मीरी, हिन्दू युवा है जिन्होंने यह सफलता प्राप्त की है। उन्होंने इस क्षेत्र को इसलिए चुना ताकि यह मुस्लिम फोबिया और धुर्वीकरण करण की वातावरण को सही कर सकें। शुभम को इस सफलता के लिए सम्मान भी प्राप्त हुआ है।

ख्वाहिश है सिविल सेवा में जाने की

शुभम की ख्वाहिश है कि वे भी सिविल सेवा में जाएं। उन्होंने बताया कि ध्रुवीकरण और बढ़ते मुस्लिम फोबिया के कारण ऐसा प्रतीत होता है कि हमें एक साथ रहकर दोनों के धर्म को समझना चाहिए। उन्होंने ये जानकारी दी कि इस स्टडी में उनकी संस्कृति और कानून की खोज है। आगे उन्होंने बताया कि अगर उन्हें आने वाले कल में मौका मिले कि प्रशासनिक सेवा दे सकें तो वह इस क्षेत्र में जाना चाहेंगे।

यह भी पढ़ें :- 6 साल का बच्चा बना दुनिया का सबसे कम उम्र का कंप्यूटर प्रोग्रामर, गिनीज़ बुक में नाम हुआ दर्ज

मिला चुका है सम्मान

वह 29 अक्टूबर को सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ कश्मीर में इस्लामिक अध्ययन में मास्टर कोर्स के लिए अखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा में टॉप करने वाले हिंदू और काश्मीर में ना रहने वाले व्यक्ति हैं। उन्हें इस सफलता के लिए पुरस्कार से सम्मानित भी किया है। उन्होंने साइक्लोजिकल से ग्रेजुएशन किया है। अब उन्हें अपने LLB के परीक्षा में आने वाली सफलता का इंतजार है। उन्होंने बताया कि वह पहले कानून के विषय में स्टडी करना चाहते हैं।

The Logically शुभम यादव जी को बधाई देता है और दुआ करता है कि वह जो कार्य करना चाहते हैं उसमें वह सफल हों।