Saturday, July 15, 2023

मजदूर पिता के बेटे ने अपनी मेहनत से JEE Mains की परीक्षा में हासिल किया 100% अंक, सॉफ़्टवेयर इन्जीनियर बनने का है सपना: प्रेरणा

आमतौर पर अधिकांश लोग अपनी परिस्थितयों का रोना रोते हैं और हार मानकर बैठ जाते हैं लेकिन सफलता उसे ही मिलती है जो जीवन की कठिन से कठिन परिस्थितयों का भी डटकर सामना करते हैं और आगे बढ़ते हैं। परिणामस्वरूप यही लोग आगे चलकर प्रेरणा की मिसाल पेश करते हैं और अनेकों लोगों के लिए एक आइकॉन बन जाते हैं।

कुछ ऐसी ही कहानी है एक गुलशन की, जिसने दयनीय आर्थिक स्थिति में भी अपनी मेहनत जारी रखी और परिणामस्वरुप JEE Mains में टॉप स्थान हासिल किया। इसी कड़ी में चलिए जानते हैं गुलशन के प्रेरणादायक सफर के बारें में-

मजदूर के बेटे ने JEE Mains में किया टॉप

गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) बिहार (Bihar) के छोटे से गांव पटवा टोली (Patwa Toli) के रहनेवाले हैं। उनके पिता का नाम तुलसी प्रसाद (Tulsi Prasad) है, जो परिवार का भरण-पोषण करने के लिए मजदूरी का काम करते हैं। ऐसे में एक मजदूर की घर की स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है कि उस घर की आर्थित स्थिति कैसी होगी। इसके बावजूद भी गुलशन ने हार नहीं मानी और आगे बढ़ते गए।

गुलशन ने JEE Mains की परीक्षा में सफलता हासिल करना चाहते थे लेकिन आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से वह किसी बढ़िया कोचिंग संसथान में नामकन नहीं ले सकते थे। ऐसे में उन्हें फॉर्च्यूनेट 40 नामक संस्था के बारें में जानकारी मिली जो आर्थिक रूप से कमजोर 40 छात्रों को मुफ्त में JEE की तैयारी कराता है। इस इन्स्टीट्यूट से उन्होंने तैयारी की और 100% अंकों के साथ कामयाबी भी हासिल की।

यह भी पढ़ें:- Mushroom Farming कर हासिल की सफलता और अन्य युवाओं को किया प्रेरित: Krishna Gopal

परिवार में है खुशी का माहौल

गुलशन के पिता ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि बेटे की पढ़ाई के लिए उन्होंने हर सम्भव प्रयास किया है। पहले वह मजदूरी करते थे लेकिन अब बुनकर का काम करते हैं। उन्होंने आगे बताया कि, बेटे गुलशन की सफलता से पूरे परिवार में खुशी का माहौल है साथ ही उन्हें भरोसा है कि बेटा पढ़-लिखकर जरुर एक बड़ा आदमी बनेगा। वहीं गुलशन भी पढ़-लिखकर सॉफ़्टवेयर इन्जीनियर बनना चाहते हैं।

परिवार और शिक्षकों को दिया है सफलता का श्रेय

मीडिया से बातचीत के दौरान गुलशन ने बताया कि, उन्होंने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा गाँव से ही पूरी की है। उसके बाद वह इन्जीनियरिंग की तैयारी करने लगे और उनका चयन फॉर्च्यूनेट 40 में हो गया। उसके बाद वह फिट्जी पंजाबी बाग से JEE Main की तैयारी में जुट गए। कड़ी मेहनत के बाद उन्होंने JEE Mains की परीक्षा में सफलता हासिल की और साथ ही उन 20 छात्राओं के लिस्ट में भी जगह बनाई जिन्होंने 100% अंक प्राप्त किए हैं। इसके साथ ही उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय परिवार और शिक्षकों को दिया है।

विपरीत परिस्थितयों के बावजूद भी गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने कड़ी मेहनत से इस सफलता को हासिल किया है। The Logically उनके इस सफलता के लिए उन्हें बधाई देता है और साथ ही उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी देता है।