Flag march by Handicap Tahsildar

कुछ लोगों में देश के लिए कुछ कर गुजरने का ऐसा जज्बा होता है कि वह देश की सुरक्षा के लिए कुछ भी कर सकते हैं। कुछ ऐसा ही जज्बा रखते हैं रणवीर सिंह गोदारा (Ranveer Singh Godara), जिन्होंने जिंदगी में कभी हार नहीं मानी, हर चुनौती का डट कर सामना किया। कहा जाता है कि रणवीर सिंह के खून में देश सेवा का जज्बा है। वर्तमान में वह जोधपुर (Jodhpur) के देचू में तहसीलदार हैं। बीते सोमवार से रणवीर सिंह एक वीडियो में सोशल मीडिया (Social Media) पर छाया हुआ है।

दिव्यांग होने के बावजूद कर रहे हैं देश की सेवा

इस वीडियो में रणवीर सिंह दिव्यांग होने के बावजूद भी लॉकडाउन का सही से पालन करवाने के लिए पुलिस के साथ “फ्लैग मार्च” करते हुए लोगों से घर में रहने की अपील करते नज़र आ रहे हैं। रणवीर सिंह में देशसेवा का ऐसा जज्बा है कि वह आपना फर्ज निभाने के लिए अपनी तकलीफ भी भूल जाते हैं। उनके अंदर देश के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा शुरू से था, इसलिए उन्होंने सेना ज्वाइन करने का सपना देखा। उनका भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) में एयरमैन के तौर पर सिलेक्शन हुआ और इसके जरिए उनका सपना भी पुरा हुआ।

Flag march by Handicap Tahsildar

एक घटना ने बदल दी पूरी जिंदगी

साल 2009 में रणवीर सिंह के साथ एक ऐसी घटना घटी, जिसने उनकी पूरी जिंदगी को बदल कर रख दिया। वह हैदराबाद (Hyderabad) में भारतीय वायुसेना में सेवाएं दे रहे थे। एक दिन एक्सरसाइज के दौरान उनके पैर में गोली लगी, जिससे उनका पैर काटना पड़ा। साल 2014 में मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर इनको वायु सेना ने पद से मुक्त कर दिया, परंतु उनका देश सेवा का जुनून खत्म नहीं हुआ। उसके बाद उन्होंने राजस्थान (Rajasthan) के सर्वोच्च परीक्षा (RAS) की तैयारी शुरू कर दी और अपने कड़ी मेहनत से RAS अधिकारी बन गए।

यह भी पढ़ें :- पांच माह की गर्भवती महिला कोरोना के बीच बच्चे को लेकर कर रही ड्यूटी, सोशल मीडिया पर वायरल हुई फोटो

पुरे मन से करते हैं कर्तव्य का पालन

RAS के पद पर उनकी पहली नियुक्ति क्षेत्रवाद तहसीलदार के रूप में हुई। इसके साथ ही उन्हें देचू तहसील का अतिरिक्त प्रभार भी सौंप दिया गया। इस समय राजस्थान में रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा चल रहा है। ऐसे में रणवीर सिंह गोदारा (Ranveer Singh Godara) अपने कर्तव्य को पूरी जिम्मदारी से निभा रहे हैं। रणवीर सिंह को को’रोना काल में अपने क्षेत्र में फ्लैग मार्च करते हुए देखा गया, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में रहा। लोग उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। देश की रक्षा करते हुए रणवीर ने अपना एक पैर खो दिया, फिर भी वह अपने ड्यूटी को मुस्तैदी से पुरा करते हैं। रणवीर सिंह के हौसले और जज्बे को नमन।

बिहार के ग्रामीण परिवेश से निकलकर शहर की भागदौड़ के साथ तालमेल बनाने के साथ ही प्रियंका सकारात्मक पत्रकारिता में अपनी हाथ आजमा रही हैं। ह्यूमन स्टोरीज़, पर्यावरण, शिक्षा जैसे अनेकों मुद्दों पर लेख के माध्यम से प्रियंका अपने विचार प्रकट करती हैं !

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here