Sunday, June 26, 2022

घर की छत पर इन बातों का ख्याल रखकर, थोङी मेहनत कर आप बिना मिट्टी के उगा सकते हैं सब्जियां व फल

यह तो हम सब जानते हैं कि रासायनिक उर्वरकों द्वारा उगाए गए फल तथा सब्जी हमारी सेहत के लिए बेहद हानिकारक है। यही वजह है कि अब ज्यादातर लोग अपने घर में ही गार्डेनिंग कर रहे हैं। घर की गार्डेनिंग की बात करें तो लोग गमले में या फिर अपने घर की छत पर सब्जियों और फलों की खेती कर रहे हैं। घर की छत पर खेती करने वाले लोगों तथा जिनके पास खेती हेतु जमीन नहीं हैं उन दोनों के लिए हाइड्रोपोनिक तकनीक से खेती करना बहुत हीं फायदेमंद होता है।

इस विधि से हमें ताजी सब्जी तो मिलती ही है। साथ ही यह हमारे सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। ना केवल गांव में बल्कि अब शहर में भी लोग गार्डेनिंग करके घर पर ही ताजी सब्जी और फल उगा रहे हैं। जिसके पास जगह की कमी होती है वह बालकनी तथा छत पर भी गार्डेनिंग करते हैं। जानकार कहते हैं कि रासायनिक सब्जियां हमारे शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचाता है। आम लोगों में कुछ हद तक जागरूकता आई है और वे ऐसे सब्जी तथा फल का उपयोग कम से कम कर रहे हैं। – Vegetables and fruits grown by organic farming or hydroponic technology has good for health.

2 तरीकों से छत पर की जा सकती हैं बागवानी

Grow Fruits And Vegetables On The Roof Of The House By Hydroponic Method

जानकारों के अनुसार आप 2 तरीकों से छत पर बागवानी कर सकते हैं। पहला तरीका है ऑर्गेनिक फार्मिंग, जिसमें सब्जियों को बोरी, ट्रे और मटके और गमलों में मिट्टी के अंदर लगाया जाता है। पौधों के विकास के लिए खास तौर पर जैविक खाद का प्रयोग किया जाता है। साथ ही नियमित रुप से इन पौधों की सिंचाई की भी समूचित व्यवस्था की जानी चाहिए। सरकार गार्डनिंग को बढ़ावा देने के लिए छत पर गार्डन कर रहे लोगों को सब्सिडी भी देती है। इसका दूसरा तरीका थोड़ा अलग है, जो हाइड्रोपोनिक तकनीक के नाम से जाना जाता है।

बिना मिट्टी की खेती

हाइड्रोपोनिक तकनीक की सबसे खास बात है इसमें पौधों को लगाने के लिए मिट्टी की आवश्यकता नहीं पड़ती। यही वजह है कि आज भी ज्यादातर किसान हाइड्रोपोनिक तकनीक से फसल नहीं उगाते। हाइड्रोपोनिक तकनीक आसान तो है परंतु इसे सीखना बहुत मुश्किल है क्योंकि इसमें पानी की सहायता से फल और सब्जियां उगाई जाती हैं। – Vegetables and fruits grown by organic farming or hydroponic technology has good for health.

यह भी पढ़ें:-इस फूल की खेती से कुछ ही महीने में होती है लाखों में कमाई, औषधीय गुणों के कारण बाजार में खूब डिमांड है

हाइड्रोपोनिक तकनीक से उगा सकते हैं यह सब्जियां

हाइड्रोपोनिक खेती करने के लिए करीब 15-30 डिग्री तापमान की जरुरत होती हैं, इसमें 80 से 85 प्रतिशत आर्द्रता वाली जलवायु का होना बहुत जरुरी है। हाइड्रोपोनिक तकनीक से हम पालक आलू, टमाटर, हरी मिर्च, पुदीना, तोरई, भिंडी जैसे हरी सब्जियां बड़े ही आसानी से उगा सकते हैं। उसके अलावा उन सब्जियों को भी इस तकनीक के माध्यम से उगाई जा सकती हैं, जो आम तौर पर विदेशी मानी जाती हैं।

Grow Fruits And Vegetables On The Roof Of The House By Hydroponic Method

हाइड्रोपोनिक खेती के जरिए आप भी वो सभी सब्जी भी आसानी से उगा सकते हैं जो बाजार में काफी कीमती होती हैं। ऑर्गेनिक फार्मिंग हो या हाइड्रोपोनिक तकनीक हो दोनों ही तरह से उगाई गई सब्जियां हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद हैं। साथ ही उसका उपयोग व्यवसायिक तरीके से भी किया जा सकता है। ऐसे कई मामले आ चुके हैं, जिसमें घर की बालकनी और छत पर बड़े स्तर से सब्जियां उगा कर लोग अच्छी कमाई भी कर ले रहे हैं। – Vegetables and fruits grown by organic farming or hydroponic technology has good for health.

यह भी पढ़ें:-गर्मियों में अपने गार्डन को हरा-भरा रखने के लिए इन टिप्सों को अपनाएं: Gardening Tips