Wednesday, August 4, 2021

तीसरी बार मे UPSC निकाल बने IAS, अनोखे तरह के टाइम मैनेजमेंट से मिली सफलता

कामयाबी किसी भी उम्र, ओहदा, रंग-रूप, अमीरी-गरीबी देखकर नहीं बल्कि इंसान के मेहनत, आत्मसम्मान और विश्वास से मिलती है। सबसे पहले हमें अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित कर यह संकल्प लेना होगा कि किसी भी हालत में मैं अपना लक्ष्य प्राप्त करने से पीछे नहीं हटूंगा। इस कहानी में हम आपको एक ऐसे शख्स से रूबरू कराएंगे जिन्होंने समय प्रबंधन को महत्व दिया और तीसरी बार में UPSC पास किया।

वह शख्स है ऋषभ सीए

ऋषभ सीए (Rishabh CA) तमिलनाडु से ताल्लुक रखते हैं। आईएएस ऑफिसर बनने से पूर्व इंजीनियर रह चुके हैं। इन्होंने अपनी ज़िंदगी में यह निश्चय किया कि मैं UPSC की तैयारी करूंगा और इसमें लग गयें। इन्होंने 2 बार UPSC का एग्जाम दिया लेकिन असफल रहें। फिर इन्होंने तीसरे एग्जाम में सिर्फ सफलता ही नहीं की बल्कि टॉपर बनकर सभी युवाओं के लिए उदाहरण भी बने। इन्होंने वर्ष 2018 में 23वीं स्थान पर UPSC पास कर टॉपर लिस्ट में अपना नाम एड किया। इतना हीं नहीं यह इसी वर्ष जीएस टू पेपर के टॉपर भी रहें। इन्हें इस पेपर में 250 में से 125 नम्बर आए जो सभी विद्यार्थियों से अधिक थे।

IAS rishabh

करेन्ट अफेयर जरूरी है

इन्होंने यह बताया कि सबसे पहले तो यह देखना चाहिए कि सिलेबस कैसे हैं?? टॉपिक्स करेन्ट अफेयर्स से जुड़े हैं या नहीं?? या फिर कौन-कौन हैं जो करेन्ट अफेयर्स से जुड़ें हैं। मतलब आप इस तरह देखिए जैसे करेन्ट अफेयर्स और आपके विषय की तैयारी भी हो। इसके उपरांत आप अपनी किताबों को एकत्रित कर तैयारी में लग जाएं। अगर आप एक ही किताब अधिक बार पढ़ेंगे तो यह ज्यादा मददगार होगा।

पिछले वर्ष के टेस्ट को भी देखें

इन्होंने यह जानकारी दी कि जब आप अपना सिलेबस सेलेक्ट कर चुके हैं तो आप 3 वर्ष के कॉचन पेपर्स को अवश्य देखें। यह आपको परीक्षा और इसकी तैयारी में अधिक मदद करेगा। इस पेपर को जरूर हल करें ताकि आपको पता चले कि आपमें क्या कमी है। अगर आपको कहीं भी दिक्कत हो तो उसे दूर करने की कोशिश करें।

यह भी पढ़े :- सफलता नही मिलने तक शादी न करने का प्रण लिया, तीसरे प्रयास में UPSC निकाल IAS अधिकारी बन गई

नोट्स भी बनायें

ऋषभ ने यह बताया कि अगर आप तैयारी में लगें हैं तो नोट्स जरूर बनाएं। नोट्स पढ़ाई में अधिक मदद करतें हैं। इसके माध्यम से रिवीजन और राइटिंग दोनों ही बेहतर होती है। अगर आप प्रश्न पत्र हल कर रहें हो तो आप यही सोचे की आप एग्जाम हॉल में हैं और यह पेपर आपको समयानुसार हल करना है। अगर तैयारी ठीक हो रही है तो टेस्ट सीरीज से भी जुड़ें।

क्या है ऋषभ की सलाह

ऋषभ ने यह सलाह दी है कि उत्तर को आप इनोवेटिव बनाने की प्रयास करें। आपने जो प्रस्तुतिकरण किया है वह अन्य कैंडिडेट्स से भिन्न हो और एग्जामिनर इससे आकर्षित हों। अपने उतर में इनपुट जरूर डालें। जैसे:- पिक्चर, मैप, फैक्ट्स और सारणी आदि। अगर कोई रिपोर्ट या केस स्टडी स्मरण रहें तो उसे भी डालें। पेपर को पूरी तरह सॉल्व करें ताकि मन में सन्तुष्टि रहे कि आपने सभी प्रश्न हल कियें हैं और पास होंगे। इसके साथ ही किसी एक ही पश्न पर टाइम वेस्ट ना करें बल्कि टाइम मैनेजमेंट का ध्यान रखें। तो आप इस परीक्षा में जरूर पास होंगें।