IAS Sachin Atulkar

स्वस्थ शरीर हीं आपका असली धन है। अंग्रेजी में एक कहावत है “Health is wealth”। शरीर जब स्वस्थ और फिट हो तो हर कार्य करना अच्छा लगता है। स्वस्थ रहकर हीं इस जिंदगी को बेहतर तरीके से जिया जा सकता है। उपकरण बातें जानते हुए भी कई लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग नहीं रहते तो कुछ लोग इसे अपनाकर उसके लिए रूटीन बना लेते हैं। आज की कहानी “स्वास्थ्य सबसे बड़ा धन” वाली कहावत को चरितार्थ करने वाले एक ऐसे IPS ऑफिसर हैं जिसने पढ़ाई और काम के साथ-साथ अपने सेहत का भी भरपूर ध्यान रखा। आइए जानते हैं उस फिटनेस जुनूनी IPS ऑफिसर के बारे में।

सचिन अतुलकर (Sachin Atulkar) का जन्म भोपाल (Bhopal) में हुआ। वह अपने फिटनेस के प्रति बहुत सजग रहते हैं। वे 2007 बैच के IPS अधिकारी हैं। उन्होंने सिर्फ 22 वर्ष की उम्र में पहले ही प्रयास में UPSC की परीक्षा में सफलता हासिल कर के पूरे देश में अपनी काबिलियत का परचम लहराया था। पुलिस डिपार्टमेंट के अफसर-कर्मचारी सचिन को अपना आईकॉन मानते हैं। वर्तमान में वे उज्जैन (Ujjain) में SP के पद पर कार्यरत हैं।

IAS Sachin Atulkar

सचिन के पिता फॉरेस्ट सर्विस से रिटायर्ड हैं। सचिन के भाई मिलिटरी में हैं। सचिन का परिवार हमेशा से हीं स्वास्थ्य के प्रति जागरुक रहा है। सचिन ने जब बॉडी बिल्डिंग का चयन किया तो उन्हें एक कोच का मार्गदर्शन मिला जिसके परिणामस्वरुप वे अपना परफेक्ट बॉडी बनाने में सफल रहें। सचिन अपने व्यस्त जीवन से वक्त निकालकर प्रतिदिन एक्सरसाइज करते हैं तथा कभी-कभार योगा भी करते हैं। सचिन बेहद स्मार्ट पर्सनालिटी रखते हैं।

यह भी पढ़े :- पिता टैक्सी चलाते थे, शुरु से ही सरकारी स्कूल में पढ़कर अथक प्रयास से बने IAS अधिकारी: पढ़ें इनके सफलता की कहानी

व्यायाम करने के बारे में सचिन ने बताया कि व्यायाम करने से मानसिक चिंता दूर होती है तथा माइंड फ्रेश होता है। व्यायाम की वजह से हीं वे अपनी ड्यूटी अच्छे से कर पाते हैं। सचिन एक अच्छे स्पोर्ट्स पर्सन भी हैं। उनको हमेशा से खेलों में रुचि थी। उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर वर्ष 1999 में क्रिकेट भी खेला है। सचिन के अपने IPS ट्रेनिंग के वक्त हॉर्स राइडिंग का भी शौक बना लिया। सचिन को राष्ट्रीय स्तर पर हॉर्स राइडिंग के शो जपिंग में 2010 में सचिन को गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया है।

सचिन अपने अंदर की इन्हीं विशेषताओं की वजह से जिस जगह भी जाते है वहां लोगो के आकर्षक का केंद्र बन जाते हैं। सचिन सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहते हैं। सचिन की उज्जैन में महाकाल की सवारी के दौरान खिंची गई तस्वीरों को 30 हजार से अधिक लाइक्स भी मिल चुका है।

IAS Sachin Atulkar

सोशल मिडिया पर फेमस होने के बाद सचिन ने एक पोस्ट में लिखा कि, “किसी भी व्यक्ति के रूप को देखकर ही उसका सबकुछ मानकर प्रसिद्धि नहीं देनी चाहिए, उस व्यक्ति के अंदर और भी कई सारी योग्यता और काबिलियत हो सकती है जिसे खुले आँखो से नहीं देखा जा स्कता। हम सब को एक साथ मिलकर एक व्यक्ति को सुन्दर बनाने के बजाय पूरे राष्ट्र को सुन्दर बनाने की कोशिश करनी चाहिए।”

The Logically सचिल अतुलकर की सोंच और उनकी काबिलियत को सलाम करता है तथा उनके फिटनेस की सराहना करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here