Sunday, December 5, 2021

नदी के उफ़ान में डूबते 7 लोगों को बचाकर, भारतीय सेना ने फिर एक बार दिया अपने शौर्य का परिचय

हम अपने घरों में बहुत ही सुख और शांति से रहते हैं। बिना किसी डर और चिंता के हम अपने परिवार के सदस्य, रिश्तेदार इन सबके साथ खुशी-खुशी समय व्यतीत करतें हैं। यह सब सम्भव होता है तो सिर्फ हमारे देश के सैनिकों के वजह से। हमारे देश के सैनिक अपने जान की बाजी लगाकर दिन-रात देश की सुरक्षा करते हैं। अपनी जान की परवाह किये बिना वह देश की रक्षा करतें हैं। भारतीय सेना हमारी देश की सुरक्षा कवच है। इसी कारण आज हम सभी अपने अपने घरों में आराम से रहते हैं। हमारी सुरक्षा के लिए ये सेना अपने घर परिवार से दूर, बर्फीले जगहों पर, देश की सीमा पर, पहाड़ी इलाके और भी ऐसी कई जगहे जहां ये तैनात रहते हैं। हम अपने घरों में रात में चैन से सोते हैं लेकिन भरतीय सेना रात के अंधेरों में भी देश की सुरक्षा के लिए जगे रहते हैं।

भारतीय सेना ने एक बार अपनी जान जोखिम में डाल कर उफनते दरिया के बीच से लोगों की जान बचाई हैं।

यह घटना जम्मू-कश्मीर की है। जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिला जबरदस्त बारिश से ग्रस्त है। यहां तेज बारिश के वजह से उज्ज दरिया में उबाल आ जाता है जिससे यहां के लोगों का जीवन संकट में आ जाता है। उज्ज दरिया के तेज बहाव के बीच एक टापू पर 7 लोग 24 घंटे से फंसे हुए थे। इन्हें सुरक्षित बाहर निकालने के लिए प्रशासन ने भरतीय सेना की मदद ली। भरतीय सेना को जैसे ही खबर मिली कि 7 लोग 24 घंटे से उज्ज दरिया के तेज बहाव में फंसे हुए हैं, उनकी जान बचाने के लिए वह निकल पड़े। उस समय वहां अत्यधिक तेज बारिश हो रही थी और उज्ज दरिया उबाल मार रहा था। ऐसे में किसी की जान बचाने के लिए दरिया में उतरने का अर्थ है, अपनी मौत को निमंत्रण देना। इसके बावजूद भी हमारे देश के सैनिकों ने अपना धैर्य नहीं खोया और कोशिश की। उनकी कोशिश रंग लायी। उन्होनें एम-17 हेलीकाप्टर की मदद से लोगों को सकुशल बाहर निकाला।

#Breaking | Watch: A group of villagers who were stuck in Jammu due to heavy rainfall were rescued by Indian Airforce helicopter.

TIMES NOW’s Pradeep with details. pic.twitter.com/vHoLDcJCcM

— TIMES NOW (@TimesNow) August 28, 2020

यह सच है, भारतीय सेना किसी भी परिस्थिति में देश के नागरिकों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहती है। रात भर बिना कुछ खाए-पिये तेज बहाव में जहां से बचने की उम्मीद छोड़ चुके लोगों को देश के जवानों ने अपनी बहादुरी से उन्हें सही सलामत बाहर निकाला। ऐसे में उनलोगों के लिए यह जवान ईश्वर के दूत से कम नहीं हैं जो अपनी जान पर खेलकर उनकी जान बचाई।

The Logically हिन्दुस्तानी सेना को अपनी ज़िंदगी जोखिम में डाल कर देश की सुरक्षा करने के लिए उन्हें तहे दिल से सैल्यूट करता हैं और गर्व करता हैं कि देश की सुरक्षा ऐसे बहादुरों के हाथ में है।