Saturday, December 3, 2022

महिला सशक्तिकरण: देश के इन 5 रेलवे स्टेशन को सिर्फ महिलाएं करती हैं संचालित

आज के दौर में महिलाओं ने सभी क्षेत्रों में अपना दबदबा बना रखा है। अब कोई ऐसा क्षेत्र नहीं, जहां महिला आपको देखने को नहीं मिलेगी। आज हम आपको अपने देश के 5 ऐसे रेलवे स्टेशनों के बारे में बताने वाले हैं, जहां के सभी डिपार्टमेंट में आपको केवल महिलाएं हीं देखने को मिलेंगी। यानी इन स्टेशनों पर सुपरवाइजर, स्टेशन मास्टर, टिकट चेक तथा रिजर्वेशन क्लर्क के काम को केवल महिलाएं हीं देखती हैं।

माटुंगा रेलवे स्टेशन (मुंबई)

देश का वो पहला स्टेशन जिसको अबतक केवल महिलाओं ने हीं चलाया है, वो है मुंबई का माटुंगा रेलवे स्टेशन। जी हां, यह स्टेशन जब से बना है यहां के सभी डिपार्टमेंट के काम को केवल महिलाएं हीं करती हैं।

बता दें कि, यह स्टेशन मध्य रेलवे (सीआर) के अंतर्गत आता है। यह स्टेशन जब से बना है इसको केवल महिलाओं ने हीं चलाया है और यही कारण है कि इसका नाम लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड् रिकॉर्ड्स 2018 में दर्ज़ किया गया था।

कितने हैं यहां कर्मचारी

इस स्टेशन पर 41 महिला कर्मचारी काम करती हैं। जिसमे आरपीएफ़, वाणिज्यिक और परिचालन विभाग के कर्मचारी भी शामिल हैं। महिलाएं यहां 24 घंटे मौजूद रखकर अपने काम को बखूबी करती हैं।

गांधी नगर रेलवे स्टेशन (जयपुर)

जयपुर के गांधी नगर रेलवे स्टेशन देश का वो दूसरा स्टेशन है, जहां के सभी डिपार्टमेंट को सिर्फ महिलाएं की चलाती हैं। इस स्टेशन पर भी स्टेशन मास्टर, आरपीएफ़, टिकट चेकर तथा सभी डिपार्टमेंट में केवल महिला कर्मचारी हीं मौजूद है।

यह भी पढ़ें:- आधुनिक खेती से दौसा के किसान कर रहे हैं लाखों की कमाई, जिले के कलेक्टर ने भी की प्रशंशा

कितना है महिला कर्मचारी मौजूद?

जयपुर के इस स्टेशन पर 40 महिला रेलवे कर्मचारी मौजूद हैं। यहां पर ये महिलाएं सभी डिपार्टमेंट में देखने को मिल जायेगी। रोजाना इस स्टेशन से 50 ट्रेनें गुजरती हैं और जिसमे 25 ट्रेनें इस स्टेशन पर रुकती भी हैं।

अजनी रेलवे स्टेशन (नागपुर)

महाराष्ट्र का अजनी रेलवे स्टेशन नागपुर में स्थित है। यह स्टेशन देश का तीसरा रेलवे स्टेशन है, जिसके सभी डिपार्टमेंट में सिर्फ़ महिलाएं हीं काम करती हैं। बता दें कि, यह स्टेशन मध्य रेलवे के नागपुर खंड का हिस्सा है तथा यह रूट दिल्ली-चेन्नई रूट है।

कितना है कर्मचारी तैनात?

इस स्टेशन को 22 महिला कर्मचारी चलाती हैं, जिसमे 3 रेलवे सुरक्षा बल कर्मी, 6 वाणिज्यिक क्लर्क, 1 स्टेशन मास्टर, 4 टिकट चेकर, 4 सफाई कर्मचारी तथा 4 कुली हैं।

मणिनगर रेलवे स्टेशन (अहमदाबाद)

मणिनगर स्टेशन अहमदाबाद में स्थित है। यह देश चौथा स्टेशन है, जहां सिर्फ़ महिलाएं हीं तैनात हैं। बता दें कि, यह रेलवे स्टेशन पश्चिम रेलवे के अंतर्गत आता है।

कितने है महिला कर्मचारी मौजूद?

अहमदाबाद का मणिनगर स्टेशन पर 1 स्टेशन मास्टर, 23 वाणिज्यिक क्लर्क, 2 प्वाइंट पर्सन्स तथा रेलवे सुरक्षा बल के 10 जवान (महिला) तैनात हैं। साथ ही 36 दूसरे फ्रंटलाइन कर्मियों में भी महिलाएं हीं हैं।

चंद्रागिरी रेलवे स्टेशन (आंध्रप्रदेश)

आंध्रप्रदेश के चंद्रागिरी रेलवे स्टेशन देश का 5वां स्टेशन है, जहां में सभी डिपार्टमेंट के काम को सिर्फ महिलाएं हीं देखती हैं। यह स्टेशन दक्षिण मध्य रेलवे के गुंटकल खंड में आता है।

कितने है कर्मचारी मौजूद?

आंध्रप्रदेश के इस स्टेशन पर स्टेशन मास्टर, सुरक्षाकर्मी, बुकिंग क्लर्क, प्वाइंट्समैन तथा सफाईकर्मी सभी की संख्या कुल 12 है।