Tuesday, September 28, 2021

क्या आप भारत के इन 10 सबसे पवित्र और बड़ी नदियों के बारे में जानते हैं, आज जान लीजिए

पूरी दुनिया में भारत ही एक ऐसा देश है जहां नदियों की पूजा की जाती है। यहां नदियां आस्था से जुड़ी हुई हैं, जिसका एक विशेष महत्व होता है। आज हम आपको भारत के 10 नदियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपने आपमें धर्म और आस्था के कई पहलुओं को समेटे हुए है।

गंगा नदी

Longest and purest rivers in india

हिमालय पर्वत के गंगोत्री से निकलने वाली या नदी भारत की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। गंगा नदी गंगोत्री से निकलकर उत्तराखंड उत्तर प्रदेश बिहार से बंगाल होते हुए बंगाल की खाड़ी में गिर जाती है। भारत में लोग गंगा नदी को “मां गंगा” कह कर पुकारते हैं। इस नदी का जल इतना पवित्र माना जाता है कि धर्म से जुड़े हुए सभी कार्य में इसका होना अनिवार्य होता है। धर्म ग्रंथ के अनुसार इस नदी में नहाने से इंसान के सभी पाप धूल जाते हैं। ऐसे कई पर्व और त्योहार हैं जिसमें गंगा नदी की पूजा की जाती है।

गोदावरी नदी

Longest and purest rivers in india

गोदावरी भारत की प्रमुख नदियों में से एक है। दक्षिण भारत की सबसे बड़ी नदी को दक्षिण भारत में गंगा तुल्य नदी माना जाता है। वहां इसकी पूजा भी की जाती है। इसका उद्गम स्थल महाराष्ट्र के नासिक जिले के तरह त्र्यंबक पहाड़ियों में है। इस नदी की लंबाई लगभग 1464 किलोमीटर है और यह छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश में बहते हुए बंगाल की खाड़ी में गिरती है।

यमुना नदी

Longest and purest rivers in india

यमुना भारत की तीसरी सबसे प्रमुख नदी है। यह हिमालय पर्वत के यमुनोत्री से निकलती है। उत्तराखंड दिल्ली और उत्तर प्रदेश जैसे राज्य इसके किनारे अवस्थित है। इस नदी की लंबाई 13 से 76 किलोमीटर है आपको बताते चलें कि यहां गंगा नदी की प्रमुख सहायक नदियों में से है। लोग इसे माता की संज्ञा देकर इसकी पूजा-अर्चना भी करते हैं।

नर्मदा नदी

Longest and purest rivers in india

यह गुजरात राज्य की प्रमुख नदी है। नर्मदा नदी को मां रेवा के नाम से भी जाना जाता है। मध्य प्रदेश के अमरकंटक के मैकला पर्वतमाला से निकलने वाली नर्मदा नदी गुजरात की प्रमुख नदी है। मैकला से निकलकर यह मध्यप्रदेश, गुजरात में बहती हुई बंगाल की खाड़ी में मिल जाती है। इसकी कुल लंबाई 1312 किलोमीटर है।

कृष्णा नदी

Longest and purest rivers in india

भारत की प्रमुख नदियों में से एक कृष्णा नदी दक्षिण भारत की प्रमुख नदी मानी जाती हैं। यह नदी महाराष्ट्र के महाबलेश्वर से निकलती है और आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में बहती है। कृष्णा नदी की लंबाई लगभग 1300 किलोमीटर है। कृष्णा नदी से महाराष्ट्र आंध्र प्रदेश और कर्नाटक राज्यों के सिंचाई के कार्यों में बहुत लाभ मिलता है।

ब्रह्मपुत्र नदी

Longest and purest rivers in india

ब्रह्मपुत्र उत्तर पूर्व भारत की सबसे प्रमुख नदी है साथ हीं इस नदी को भारत की सबसे बड़ी नदी होने का गौरव प्राप्त है। ब्रह्मपुत्र नदी मानसरोवर से निकलती है। नदी भारत के साथ-साथ चीन और बांग्लादेश में भी बहती है जिसे चीन में सांग्पो, बांग्लादेश में जमुना और अरुणाचल प्रदेश में दिहांग नदी के नाम से पुकारा जाता है। इस नदी की लंबाई 2900 किलोमीटर है।

सरस्वती नदी

Longest and purest rivers in india

इस नदी की चर्चा पौराणिक काल से जोड़ी जाती है। हिमालय के शिवालिक पर्वतमाला से निकलने यह नदी उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में स्थित है संगम में मिल जाती है। भारत और पाकिस्तान दोनों देशों में बहने वाली इस नदी की लंबाई लगभग 1600 किलोमीटर है।

शिप्रा नदी

Longest and purest rivers in india

मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर शिप्रा नदी के किनारे बसा हुआ है। धार्मिक दृष्टि से उज्जैन एक तीर्थ स्थान है। उज्जैन में हर 12 वर्ष के बाद लगने वाला कुंभ मेला इसी शिप्रा नदी के किनारे लगता है इसकी कुल लंबाई 195 किलोमीटर है।

कावेरी नदी

Longest and purest rivers in india

कावेरी नदी दक्षिण भारत की प्रमुख नदियों में से एक है जो ब्रह्मगिरी से निकालकर कर्नाटक और तमिलनाडु राज्यों में बहती है। इस नदी का शिवसमुद्रम जलप्रपात भारत का दूसरा सबसे बड़ा जलप्रपात है। इस नदी का भारत में कुल लंबाई 805 किलोमीटर है।

ताप्ती नदी

Longest and purest rivers in india

ताप्ती नदी भारत की प्रमुख नदियों में से एक है यह नदी मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात में भर्ती है। मध्यप्रदेश के बैतूल जिले से निकलने वाली इस नदी की लंबाई 724 किलोमीटर है।