Sunday, December 5, 2021

ख़ुद की जान गवां दिए लेकिन नदी में डूबते तीन बच्चों को बचा लिए: Manjeet Singh

हम अपने आस-पास अक्सर लोगों को किस्से-कहानियों में एक दूसरे के लिए जान देने की बात कहते सुनते हैं। कुछ लोगों के लिए यह बस कहने की बात हो सकती है.. पर हर किसी के लिए नहीं। कुछ लोग दूसरों की जान बचाने के लिए अपनी जान दाव पर ही नहीं लगाते बल्कि अपनी जान गवां भी देते है। आज के इस मतलबी दुनिया में एक ऐसे ही शक्स थे मंजीत सिंह जो दूसरों के लिए अपनी जान की बाजी लगा दिए और ख़ुद इस दुनिया को अलविदा कह गए।

मंजीत सिंह (Manjeet Singh) फ्रेस्नो (Fresno) के रहने वाले थे जो 5 अगस्त की शाम को अमेरिका के Reedley beach पर 3 बच्चों की जान बचाने में अपनी जिंदगी की जंग से हार गए। बुधवार की शाम को मंजीत किंग्स नदी पर घूमने गए थे। वहां उन्होंने देखा कि 3 बच्चे नदी में डूब रहे। उनको बचाने के लिए मंजीत नदी में कूद पड़े। बच्चों की जान तो बच गई लेकिन मंजीत की नदी में डूबने से मौत हो गई।

Credit-CNN

ABC30 की रिपोर्ट के मुताबिक़ मंजीत (Manjeet Singh) सिंह 2 साल पहले भारत से यूएस (UAS) गए थे। कुछ दिन पहले ही फ्रेस्नो (Fresno) जाकर ट्रक का अपना बिजनेस शुरू किए थे। 5 अगस्त को ही एक स्कूल की शुरुआत भी की थी जहां ट्रक ड्राइविंग की ट्रेनिंग दी जा रही थी।

ट्रेनिंग के बाद वह शाम को किंग्स नदी पर घूमने गए। वहां नदी के किनारे ही 3 बच्चें खेल रहे थें जिनमें दो लड़कियां और 1 लड़का था। लड़के की उम्र 10 साल है, वहीं दोनों लडकियां 8 साल की है। तीनों बच्चों को नदी के किनारे खेलने के दौरान करेंट का झटका लगा। जिसके बाद वे पुल से नीचे पानी में गिर गए। मंजीत वहीं खड़े थे। बच्चों की ऐसी हालत देखकर उन्हें बचाने के लिए वह भी नदी में कूद पड़े। नदी किनारे खड़े लोगों की मदद से तीनों बच्चों की जान बच गई लेकिन दुर्भाग्यवश मंजीत नदी में डूब गए और उनकी मौत हो गई।

29 वर्षीय मंजीत सिंह ऐसे बच्चों की मदद के लिए अपनी जान गवां दिए जिन्हें वह जानते तक नहीं थे। The logically ईश्वर से मंजीत सिंह के आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता है।