Tuesday, September 28, 2021

बरसात के मौसम में पौधों को दीमक से बचाने के लिए आजमाएं ये घरेलू नुस्खे, बढ़ जाएगी पौधे की उम्र

बदलते मौसम का प्रभाव केवल इंसान पर ही नहीं बल्कि पेड़-पौधों पर भी पड़ता है। बात अगर बरसात के मौसम की हो, तो इस मौसम में घरों में रखे गए फर्नीचर की भी देखभाल करने की जरूरत होती है क्योंकि बरसात के मौसम में सबसे ज्यादा डर दीमक लगने का रहता है।

घर में लगाए गए पेड़-पौधें और फर्नीचर को बरसात के दिनों में दीमक लगने से बचाया जा सकता है। इसके लिए बाजार में उपलब्ध कीटनाशक या कोई केमिकल युक्त प्रोडक्ट इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं होती है, बल्कि घर में ही उपलब्ध चीजों से हम पेड़-पौधों में लगे दीमक से छुटकारा पा सकते हैं। घरेलू चीजों के उपयोग से हमारे पेड़-पौधों को नुकसान भी नहीं पहुंचता है।

पेड़ पौधों में कहां लगते हैं दीमक?

पेड़-पौधों में दीमक केवल जड़ों में ही नहीं बल्कि तने, मिट्टी या पत्तों में भी लग सकते हैं। अगर तनों में दीमक लग जाए, तो इसके अंदर छेद कर देते हैं। कई बार यह पौधों को इस तरह से हानि पहुंचाते हैं। इसे पूरी तरह समाप्त करने के लिए हमें शूरू से ही देखरेख करनी चाहिए। यह भी देखते रहे कि पेड़-पौधों की जड़े, पत्ते और तना अच्छी तरह से बढ़ रहे हैं या नहीं। बरसात के मौसम में पौधों पर अधिक ध्यान देना चाहिए क्योंकि इस मौसम में दीमक लगने का खतरा ज्यादा रहता है। पौधों कोदीमक से बचाने के लिए कई घरेलू नुस्खे भी है जिनके उपयोग से आप पौधों को बचा सकते हैं।- methods to protect plants in monsoon

methods to protect plants in monsoon
  1. खट्टे दही का उपयोग

पेड़-पौधों को दीमक लगने से बचाने के लिए खट्टे दही का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए खट्टी दही का घोल तैयार कर स्प्रे बॉटल में भरकर इसका उपयोग करना है। अगर पौधों में दिमक लग गए हैं, तो बाल्टी में अधिक मात्रा में घोल तैयार कर फिर इसका छिड़काव करें। छिड़काव करते समय सिर्फ मिट्टी में ही नहीं बल्कि तने, पत्ते और आसपास भी हल्का गढ़ा खोदकर खट्टा दही डालें ऐसा अगर आप 2 दिन बीच देकर पूरे महीने भर करते हैं, तो दीमक से आप पूरी तरह छुटकारा पा सकते हैं।- methods to protect plants in monsoon

यह भी पढ़ें :- प्लास्टिक के बेकार पड़े डब्बों से ऐसे बनाइये खूबसूरत गार्डन पॉट: वीडियो देखकर सीखें

  1. साबुन का पानी अथवा बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल अक्सर पेड़-पौधों को सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है। अगर दीमक को पूरी तरह खत्म करना हो, तो बेकिंग सोडा का उपयोग किया जा सकता है। पेड़-पौधों में दीमक लगने की वजह से अगर छेद हो गए हो, तो आप उसमें बेकिंग सोडा का घोल बनाकर डाल सकते हैं, जिससे दीमक खत्म हो जाएंगे। एक बार अगर दीमक लग जाए, उसके बाद वह बहुत तेजी से फैलता है इसलिए शुरुआत में ही अगर घरेलू उपाय किया जाए तो यह पूरी तरह से समाप्त हो सकता है। बेकिंग सोडा के बजाय अगर साबुन के पानी का भी उपयोग करें तो यह भी दीमक को खत्म करने के लिए बेहतर विकल्प है।- methods to protect plants in monsoon

methods to protect plants in monsoon
  1. हींग का भी उपयोग

पेड़ पौधों में दीमक लगने शुरू हो गए तो उसके जड़ों के पास की मिट्टी को खरोंचे। अगर पौधें गमले में हो, तो पहले इसके मिट्टी को निकाले इसके बाद इन्हें छन्नी से छान लें फिर वापस उसे गमले में डाले। गमले में मिट्टी डालने के बाद दो बड़े चम्मच हींग को एक बाल्टी में मिक्स करें और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। हींग अगर अच्छी तरह से मिक्स हो गया हो तो आप इसे पेड़-पौधों पर छिड़काव करें। अगर आप चाहते हैं तो पौधों को पानी भी दे सकते हैं या इस तरह भी डाल सकते हैं। ऐसा करने से पौधें में लगे दीमक खत्म हो जाते हैं।- methods to protect plants in monsoon

methods to protect plants in monsoon

बरसात के मौसम में अपने पेड़-पौधों की देखभाल करते रहे। अगर पौधों में दीमक लग जाए तो ऊपर दी गई जानकारी को एक बार जरूर इस्तेमाल करें। इसके इस्तेमाल से आप अपने पेड़-पौधों को सुखने से बचा सकते हैं। – methods to protect plants in monsoon

अगर आप गार्डेनिंग सीखना चाहते हैं तो हमारे “गार्डेनिंग विशेष” ग्रुप से जुड़ें – जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें