Lockdown में माँ-बाप से बिछड़ गए बच्चे : उनके पोषण का पुलिस ने उठा लिया जिम्मा

206
Police

अभी तक हम लोगों ने पुलिस वालों को लोगों तक राहत सामाग्री पहुंचाते , लोगों की सुरक्षा करते देखा था लेकिन दिल्ली के ग्रेटर कैलाश थाने के 2 पुलिस कर्मी हेड कांस्टेबल ताराचंद और महिला कांस्टेबल नीलम ने 5 गरीब बच्चों को खाने के साथ साथ उनकी पढ़ाई का जिम्मा भी उठाया है ।

बच्चों से कैसे मिले पुलिसकर्मी

पूरा देश जहाँ कोरोना महामारी के कारण गरीबी और भुखमरी की समस्या से जूझ रहा है ऐसे में
दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में पुलिसवालों को 5 बच्चों के बारे में पता चलता है जिसमें 2 लड़कियां और 3 लड़के हैं जो पिछले कई दिनों से भूखे रह रहे हैं जिनके माता पिता इस लॉकडॉन में कहीं दूसरी जगह फंसे हुए हैं । ऐसे में इन बच्चों के बारे में पता चलते हीं हेड कॉन्स्टेबल ताराचंद और महिला कांस्टेबल नीलम ग्रेटर कैलाश उस इलाके में पहुंचकर तत्काल खाने पीने की व्यवस्था करते हैं और फिर वे लॉकडॉन का पालन करते हुए इन बच्चों को पढ़ाने का जिम्मा भी उठाते हैं।

पुलिस ने शिक्षक बन बच्चों में जगाई पढ़ने की अलख

हेड कांस्टेबल ताराचंद और महिला कांस्टेबल नीलम ने जब इन बच्चों को जाना तो पता चला इनमे से 3 बच्चे शिक्षा से पूरी तरह बिमुख थे जबकि 2 बच्चे ग्रेटर कैलाश इलाके के ही सरकारी स्कूल में पढ़ते थे। उन्हें इन बच्चों में पढ़ाई की जरूरत भी महसूस हुई जिसके बाद उन्होंने इन बच्चों के माता पिता से बातचीत किया लेकिन शुरुआत में इन बच्चों के माता पिता ने पढ़ाई करवाने से इनकार कर दिया । पढ़ाई का महत्व समझाने के बाद इन बच्चों के माता पिता राज़ी हो गए। जिसके बाद पिछले महीने 10 अप्रैल से ही हेड कॉन्स्टेबल ताराचंद और महिला कांस्टेबल नीलम इन बच्चों को रोजाना शाम 5 से 6 बजे तक 1 घण्टे पढ़ाना शुरू कर दिया । जिसके बाद रोज बच्चे एबीसीडी गिनती नई-नई कविताएं , नई-नई कहानियां , पेंटिंग तथा और भी तरह-तरह की चीजें सीखते हैं । इस कार्य में इन पुलिस वालों को उनके सीनियर अधिकारी का भी सहयोग मिला जिन्होंने इन बच्चों के लिए पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराई।

लॉकडॉन में भी इन बच्चों की पढ़ाई जारी रहने के कारण इनके माता-पिता बेहद खुश हैं और इन पुलिस कर्मियों को धन्यवाद भी दे रहे हैं । ऐसे कोरोना योद्धा हम सभी के लिए प्रेरणास्रोत हैं।

Freut mich sehr dass sich unweit meines zuhause wohl tatsächlich eine kleine Bienenfresser Kolonie angesiedelt hat 😊 #wildlifephotography european bee-eater #birds pic.twitter.com/A6ClrSWfhY

— Mathias (@swaninga_fotos) May 24, 2020

Landscape of Brahamigiri, above/ahead of Iruppu waterfall in Karnataka.
There is an elephant, showed by Sathish Anna. Can you locate?#dailypic 37 @WildlifeofDay #BBCWildlifePOTD @ElephantMag #wildlifephotography #nammamysuru @aranya_kfd #wildlife #PhotosOfMyLife pic.twitter.com/NK4AKgzaau

— Tushar (@tusharshinde212) May 22, 2020

Shaurya is next generation youth . Involved in works like education and environment , he utilizes his leisure time. He loves to interact with change-makers and write about them through his blogs.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here