Sunday, June 26, 2022

दोनों पैर से विकलांग होते हुए कठिन परिश्रम से बोर्ड में हासिल किए 100% मार्क्स, कायम की मिसाल

अगर कोई व्यक्ति कुछ बनने की ठान ले तो दुनिया की कोई भी ताकत उसे सफल होने से नहीं रोक सकती। इंसान के अंदर वह ताकत होती है कि वह अपने प्रयास से हर नामुमकिन को मुमकिन कर सकता है। ऐसे ही जज्बे की कहानी हैं राजस्थान (Rajasthan) के दौसा के रहने वाले दिव्यांग रवि कुमार मीणा (Ravi Kumar Meena) की। रवि स्वस्थ ना होते हुए भी सफलता प्राप्त किए, जो स्वस्थ लोगों के लिए एक मिसाल है। रवि कुमार माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान में टॉप करते हुए 100% नंबर हासिल किए। – Handicapped Ravi Kumar Meena from Dausa, Rajasthan got 100% marks in the 12th examination.

12वीं की परिक्षा में रवि कुमार हर विषय में प्राप्त किए 100% नंबर

पिछले शनिवार को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की दिव्यांग और मूकबधिर विद्यार्थियों की 12वीं की रिजल्ट आई हैं। इस परीक्षा में रवि कुमार राजस्थान बोर्ड टॉप करते हुए 100% नंबर हासिल किए हैं। मीणा दौसा जिले के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गंडरावा के विद्यार्थी हैं। रवि हर एक विषय जैसे हिंदी, अंग्रेजी, राजनीति विज्ञान, इतिहास और भूगोल में 100 में से 100 नंबर प्राप्त कर इतिहास रच दिए हैं।

दोनों पैर ना होने के बावजूद भी कम नहीं हुआ हौसला

एक आम इंसान के लिए इतनी बड़ी सफलता प्राप्त करना नामुमकिन सा लगता है, लेकिन रवि शारीरिक तौर पर पूरी तरह स्वस्थ ना होने के बावजूद भी यह सफलता अपने नाम किए हैं। बता दें कि रवि के दोनों पैर काम नहीं करते। वह अपने शारीरिक कमजोरी की परवाह किए बिना अपने हौसले को बढ़ावा दिए और यह सफलता अपने नाम किया। – Handicapped Ravi Kumar Meena from Dausa, Rajasthan got 100% marks in the 12th examination.

यह भी पढ़ें:-प्रकृति के इन अजीबोगरीब तस्वीरों को देखकर दांतों तले दबा लेंगे अंगुली

सफलता से परिवार बेहद खुश हैं

यह रवि का हौसला ही था कि दोनों पैर ना होने के बावजूद भी वह हर रोज ट्राई साइकिल के जरिए स्कूल जाते थे। इसके अलावा स्कूल से वापस घर आकर भी वह 6 से 8 घंटे तक पढ़ाई करते थे। रवि कड़ी मेहनत किए जिसका फल भी उन्हें मिला। अब हर कोई रवि के हौसले की और उनके परिश्रम की तारीफ करते नहीं थक रहा है। उन्होंने अपनी मेहनत से 12वीं की परीक्षा में हर विषय में 100 में से 100% नंबर हासिल किए हैं। उनकी इस सफलता से उनका परिवार बेहद खुश हैं और साथ ही आसपास के लोग बधाई देने आ रहें हैं।

यह भी पढ़ें:-Lightyear 0 Car : आ गई दुनिया की पहली Solar Car, सिंगल चार्ज में 7 महीने तक कर सकेंगे सफर

रवि की सफलता से हैं हर कोई हैरान

रिपोर्ट्स के अनुसार रवि की इस सफलता ने उनके स्कूल के अध्यापक तथा पूरे गांव के लोगों को हैरान कर दिया। इस खुशी के मौके पर रवि के स्कूल के अध्यापक के साथ ही प्रिंसिपल भी उनके घर आए और उन्हें इस सफलता के लिए बधाई दिए। मीडिया से बात करते हुए अधिकारियों ने कहा कि रवि ने पूरे दौसा जिले का नाम रोशन किया है। रवि की असफलता हर एक युवा के लिए एक प्रेरणा की तरह है। – Handicapped Ravi Kumar Meena from Dausa, Rajasthan got 100% marks in the 12th examination.