Sandeep Kumar qualified for Tokyo Olympic 2021

जिन्दगी काँटों का सफ़र है, हौसला इसकी पहचान है रास्ते पर तो सभी चलते हैं, जो रास्ते बनाये वही तो बलवान है। यानी अगर हमारे इरादे बुलंद हो तो लाख मुश्किलें क्यों न आए लेकिन टल ही जाती हैं। भारतीय रेस वाकर संदीप कुमार (Indian race walker Sandeep Kumar) ने इसे वाकया को सही साबित कर दिखाया है। गांव में गाय, भैंस, बकरी चराने वाले संदीप अब अंतराष्ट्रीय स्तर पर खेल मैदान नाप रहें हैं। जो उनकी कड़ी मेहनत और हौसले का परिचायक है।

Sandeep Kumar

टोक्यो ओलंपिक का टिकट तय

रांची में आयोजित आठवीं राष्ट्रीय ओपन रेस वॉकिंग चैंपियनशिप (8th National open race walking championship) में संदीप ने टोकियो ओलंपिक (Tokiyo Olympic) के लिए क्वालीफाई कर लिया है। 20 किलोमीटर की रेस वॉक में उन्होंने 1:20:16 के साथ एक नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया है।

यह भी पढ़ें :- फौजी बहादुर सिंह ने अंतरास्ट्रीय मैराथन में जीता गोल्ड मेडल, पूरे देश का नाम किये रौशन

क्या है रेस वॉकिंग ?

रेस वॉकिंग कॉम्पटीशन में कंटेस्टेंट तेज़ी से चलकर फिनिश लाइन को पार करते हैं। इसमें एथलीट के पिछले पैर का अंगूठा तब तक जमीन से ऊपर नहीं उठ सकता जबतक के आगे वाले पैर की एड़ी जमीन को नहीं छू ले। आगे के पैर का घुटना मुड़ना नहीं चाहिए और पूरा पैर सीधा करते हुए अपने शरीर का वजन खींचना होता है। इसमें 10,20,50 किमी रेस को तय किया जाता है।

Sandeep Kumar qualified for Tokyo Olympic 2021

कम उम्र में मां के गुजर जाने के बाद पिता ने की परवरिश

रेस वॉकिंग में टोक्यो ओलंपिक का टिकट पक्का कर चुके संदीप कुमार बहुत ही सामान्य परिवार से हैं। हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव सुरेती पिलानिया में उनके पिता ने गाय, भैंस और बकरियां पाली हुई हैं। उन्होंने खेतों में मजदूरी कर के संदीप को इस मुकाम तक पहुंचाया है। करीब सात – आठ साल की उम्र में अपनी मां को खो चुके संदीप को पिता से दोहरा प्रेम मिला।

Sandeep Kumar qualified for Tokyo Olympic 2021

बकरियों के साथ दौड़ लगाते थे संदीप

संदीप के बड़े भाई सुरेन्द्र ने मीडिया को बताया कि “बचपन से ही संदीप ने खूब बकरियों का दूध पिया है। वह बचपन में पिता के साथ बकरियां चराते समय दौड़ लगाता था।”

संदीप जब सेना में भर्ती हुए तो घर की आर्थिक हालत सुधरी। फिलहाल वो सूबेदार पद पर हैं। बता दें कि रियो ओलंपिक 2016 में भी वह इंडिया को रिप्रेजेंट कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here