Tuesday, May 24, 2022

गर्मी में पक्षियों को बचाने के लिए इन युवाओं ने शुरू की मुहिम, बिना रूके हर रोज दे रहे पानी और दाना

भारत के कुछ राज्यों में इन दिनों बहुत अधिक गर्मी पड़ रही है। ऐसे ही राज्यों में से एक हैं बिहार जहां जला देने वाली गर्मी पड़ रही है। हालात ऐसे हो गाए हैं कि घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। ऐसे में जरा सोचिए उन जानवरों के बारे में जो रास्ते पर रहते हैं। उनके लिए दिन गुजारना कितना मुश्किल हो रहा होगा।

हम खुद तो गर्मी से बचने के लिए कई तरीके खोज लेते हैं, परंतु रास्ते में रहने वाले जानवर तथा पक्षियों के लिए कुछ भी नहीं करते जबकि गर्मी में हमसे ज्यादा उन्हें परेशान होती हैं। ऐसे में बिहार के जमुई जिले के कुछ युवाओं ने केवल अपने बारे में ना सोंच कर पक्षियों के बारे में भी सोंचा है। – Youth of Jamui, Bihar are arranging food grains and water for birds in the open.

  • पक्षियों के लिए शुरू किया एक मुहीम

दरअसल जमुई जिले के युवाओं ने पक्षियों को पानी पिलाने और दाना खिलाने की एक अनोखी मुहिम शुरू की है, जिसकी चर्चा हर तारीफ हो रही है। नौकरी और पढ़ाई से समय निकाल कर यह युवा हर दिन किसी न किसी गांव या मोहल्ले में जाकर पक्षियों के लिए जल पात्र पेड़ पर टांग देते हैं या फिर सुरक्षित स्थान पर रख देते हैं। इस भीषण गर्मी में प्यासे पक्षियों को परेशानी न हों, इसलिए यह युवा अलग-अलग जगह जा कर मिट्टी के बर्तन में पानी और दाना पेड़ पर टांग रहे हैं। वह खुद ऐसा करने के साथ ही लोगों को भी ऐसा करने के लिए जागरूक कर रहे हैं ताकि पक्षियों को गर्मी में किसी प्रकार की परेशानी ना हो।

Santosh Is Running A Campaign To Save The Birds From The Heat

इस साल अप्रैल के महीने में ही इतनी ज्यादा गर्मी पड़ने लगी कि पिछले कई सालों का रिकॉर्ड टूट गया। उसी प्रकार जमुई में भी पिछले कुछ सालों की तुलना में इस साल अधिक गर्मी पड़ी है। यहां का तापमान लगभग 43 डिग्री सेल्सियस तक जा चुका है। ऐसे में आम लोग भी पानी के लिए परेशान हैं। इसी परेशानी को समझते हुए युवाओं ने पक्षियों के लिए भी कुछ करने का फैसला किया। जल्द ही उन्हें पंछियों के लिए दाना-पानी जुटाने का आइडिया आया, बस फिर किया था लग गए यह युवा काम पर। – Youth of Jamui, Bihar are arranging food grains and water for birds in the open.

  • शहर से लेकर गांव तक चला रहे है मुहीम

शुरूआत में यह युवा शहर के अलग-अलग जगहों पर पेड़ की टहनियों पर जलपात्र और दाने का बर्तन लटकाए। इस मुहीम में आगे चल कर सरकारी भवनों की छतों पर तथा स्कूल और कॉलेज के छतों पर भी जलपात्र और दाने वाले बर्तन रखे गए। जब उन्हें इसमें सफलता मिली तो वह इस मुहिम को गांवों तक ले जाने का फैसला किया। पिछले तीन सप्ताह से चल रहे इस मुहिम में अब आम लोग भी जुड़ते जा रहे हैं। इस मुहीम को शूरू कराने वाले विवेक कुमार (Vivek Kumar) कहते हैं कि वह लोग अपना यह काम सुबह ही शुरू कर देते हैं।

यह भी पढ़ें:-वो 5 देश जहां आप चन्द रूपयों में बन सकते हैं रईस, यहां का 1 रूपया वहां का सैंकड़ों रूपए के बराबर

  • लोग भी दे रहे साथ

विवेक के अनुसार टोली में काम करने वाला हर युवा अपने पानी का बोतल लेकर आता है और हर रोज 2 घंटे तक काम करता है। अगर किसी पात्र में कोई पानी नहीं भर पाता है तो वह खुद जाकर भरते हैं। जानवरों के प्रति इन युवाओं का प्रेम देखते हुए अन्य लोग भी इस मुहिम में उनका साथ दे रहे हैं। वहां के स्थानीय लोग भी अपने घरों और छतों पर जल पात्र रख रहे हैं, जिससे चिड़ियों को गर्मी में दाना-पानी मिल सके। उन युवाओं में से एक संतोष कुमार बताते हैं कि गर्मी में पंछियों को दाना-पानी देना न सिर्फ मानवता का काम है, बल्कि यह पर्यावरण और प्राकृतिक संतुलन के लिए भी बेहद जरूरी है।

Santosh Is Running A Campaign To Save The Birds From The Heat
  • इस मुहिम से जुड़ने के लिए लोगों से कर रहे हैं अपील

संतोष कुमार (Santosh Kumar) के अनुसार इस मुहीम के तहत उन्होंने जमुई के लोगों से अपील की भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों को बचाने के लिए उनसे जुड़े और अपने घरों और सार्वजनिक स्थानों पर जल पात्र रखें। इससे तपती धूप में उड़ रहे पक्षियों को दाना और पानी मिलेगा, जिससे उन्हें बेहद राहत मिलेगी। जमुई जिले के युवाओं का यह मुहिम वाकई में प्रशंसा योग्य है। – Youth of Jamui, Bihar are arranging food grains and water for birds in the open.

यह भी पढ़ें:-पिता को हुई कैंसर की बीमारी से मिली सीख, अब जैविक खाद बनाने का काम शुरू कर लाखों रुपये महीने में कमा रहे हैं