Sunday, June 26, 2022

UPSC के रिजल्ट में एक बार फिर ‘बिहारी लड़का’ बना टॉपर, शुभम कुमार ने सफलता का परचम लहराया

संघ लोकसेवा आयोग (UPSC Result 2020) ने 2020 की परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। इस बार बिहार के कटिहार निवासी शुभम कुमार ने टॉप किया है। वहीं, दूसरे स्थान पर जागृति अवस्थी और तीसरे नंबर पर अंकिता जैन हैं। परीक्षा में कुल 761 उम्मीदवार सफल हुए हैं। जिसमें 545 पुरूष और 216 महिला कैंडिडेट्स शामिल हैं। जारी नतीजे के अनुसार, सामान्य श्रेणी के 263, ईडब्लूएस (EWS) के 86 और ओबीसी (OBC) के 229 अभ्यर्थियों ने सफलता हासिल की है।

बिहार मुख्यमंत्री से लेकर केंद्र तक सभी ने दी बधाई

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) UPSC सिविल सेवा परीक्षा में प्रथम स्थान हासिल करने पर बिहार के शुभम कुमार को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। उन्होंने शुभम कुमार के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि बिहार के विकास आयुक्त आमिर सुबहानी जी ने भी पूर्व में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। साथ ही बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी और बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने भी उन्हें बधाई दी है। कई केंद्रीय मंत्रियों ने भी शुभम को बधाई देकर हौसला बढ़ाया।

Shubham kumar UPSC 2020 topper

बिहार या मध्यप्रदेश कैडर चाहते हैं शुभम

यूपीएससी में टॉप करने वाले शुभम कुमार की इच्छा है कि उन्हें बिहार कैडर ही दिया जाए। शुभम Bihar Topper Shubham Kumar ने बताया कि वह चाहते हैं कि वह बिहार में रहकर बिहार के विकास के लिए काम करें। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें बिहार कैडर नहीं दिया जाता है तो वह मध्यप्रदेश में काम करना पसंद करेंगे। 

बॉम्बे आईआईटी से ग्रेजुएट हैं, बोकारो से हुई स्कूली शिक्षा

IAS की परीक्षा में ऑल इंडिया टॉप करने वाले शुभम All India topper फिलहाल इंडियन डिफेंस अकाउंट सर्विस में ट्रेनिंग कर रहे हैं। पूर्णिया से शुरुआती पढ़ाई करने वाले UPSC Topper Shubham Kumar ने बोकारो से 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद बॉम्बे आईआईटी से सिविल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन की है।

पिछ्ले साल 290 रैंक पर मिलने पर संतुष्टि नहीं तो दोबारा दी परीक्षा

पिछले वर्ष भी शुभम ने सिविल सर्विसेज की परीक्षा उत्तीर्ण की थी,  लेकिन उन्हें 290 रैंक मिली थी। इससे वह संतुष्ट नहीं हुए और दोबारा परीक्षा में शामिल होकर सर्वोच्च स्थान हासिल कर बिहार का नाम देश भर में रोशन किया।

माता – पिता ने शुभम के बारे में यह बताया

शुभम कुमार के पिता ग्रामीण बैंक में कार्यरत है। मीडिया से बातचीत में उन्होंने बताया कि शुभम बचपन से ही पड़ने में होनहार थे। शुभम की मां भी बेटे की इस सफलता पर बेहद खुश हैं। वह चाहती हैं कि बिहार के सभी बच्चे शुभम की तरह मेहनत कर सफलता हासिल करें।

Shubham kumar UPSC 2020 topper

बिहार में इस बार यूपीएससी परीक्षा में आईआईटियंस ने मारी बाजी, तीन अन्य छात्र भी सफल

इस बार शुभम के साथ बिहार के अन्य छात्रों ने भी परीक्षा पास की है। जमुई के चकाई बाजार निवासी सीताराम वर्णवाल के पुत्र प्रवीण कुमार ने भी सिविल सर्विसेज परीक्षा 2020 में सातवां स्थान हासिल किया हैं। प्रवीण कुमार की सफलता पर मां-पिता सहित अन्य परिजन खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं। समस्तीपुर के सत्यम गांधी को 10वीं रैंक, किशनगंज  के अनिल बसाक को 45 वीं, पूर्णियां के आशीष मिश्रा को 52 वीं रैंक मिली है। शुभम, प्रवीण, अनिल और आशीष चारों आईआईटियन हैं। UPSC Toppers 2020

अबतक बिहार के चार मेघावी UPSC टॉप कर चुके

बता दें कि बिहार में इससे पहले वर्ष 2001 में आलोक रंजन झा टॉपर बने थे, जबकि 1997 में गया के सुनील कुमार बरनवाल ने शीर्ष स्थान प्राप्त किया था। 1987 में आमिर सुबहानी ने टॉप किया था, जो अभी बिहार के विकास आयुक्त हैं। अभी तक बिहार के चार मेधावियों ने यूपीएससी में शीर्ष स्थान हासिल किया है।

ऐसे होता है यूपीएससी में चयन

सिविल सर्विसेज परीक्षाओं का आयोजन प्रति वर्ष यूपीएससी तीन चरणों में करता है, जिनमें प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार शामिल हैं। इन परीक्षाओं के माध्यम से भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित कई अन्य सेवाओं के लिए उम्मीदवारों का चयन होता है।