Sunday, September 19, 2021

माता पिता के देहांत के बाद तीनों बच्चे अनाथ हो गए थे , केवल एक ट्वीट पर सोनू सूद ने इन्हें गोद ले लिया: GodFather

किसी की तारीफ़ में शब्दों का कम पड़ जाना किसे कहते हैं. इस बात के सबसे बेहतरीन उदाहरण हैं रियल लाइफ हीरो सोनू सूद. लॉकडॉउन में देश का एक हिस्सा जब ख़ुद को सुरक्षित रखने के लिए घर के अंदर बैठा था… तब बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद अपने घर से बाहर आकर देश के उस दूसरे हिस्से की मदद कर रहें थें… जो सड़कों पर भूखा-प्यासा पैदल अपने घर जा रहा था. फिलहाल देश के हर वर्ग के लोगों का दिल जीतने के बाद भी नहीं रुके हैं सोनू के द्वारा किए जाने वाले नेक काम. इन्होंने एक बार फिर हमें अच्छाई की परिभाषा का एहसास कराया है. इस बार इन्होंने तीन बच्चों को गोद लेने का फैसला किया है. ये बच्चे तेलंगाना के यदाद्रि-भुवनगिरि जिले के रहने वाले हैं. इन बच्चों के माता-पिता का निधन हो गया है.

राजेश करणम नाम के एक सोशल मीडिया यूजर ने सोनू को इन तीन बच्चों के बारे में बताया. राजेश ने ट्वीट करते हुए लिखा, ” @Sonu Sood ये तीन बच्चे तेलंगाना के यदाद्री भुवनगिरी जिले के रहने वाले हैं. इन्होंने अपने माता पिता को खो दिया है। अब इन बच्चों के पास कोई नहीं है. इनमें बड़ा वाला बच्चा दोनों छोटे बच्चों की देखभाल कर रहा है. अब वे अनाथ हो गए हैं. वे आपकी सहायता मांग रहे हैं. कृपया उनकी मदद करें.”

तुरंत रीट्वीट कर दिया जवाब

राजेश करणम के इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए अभिनेता सोनू सूद ने लिखा, ‘वे अब अनाथ नहीं हैं. वे मेरी जिम्मेदारी हैं.’ इतने नेक दिल और उदार व्यक्तित्व के इंसान के लिए तारीफ़ में बोले गए चंद अल्फ़ाज़ बहुत ही कम हैं.

They are no longer orphans.
They will be my responsibility ❣️ https://t.co/pT0hQd4nCx

— sonu sood (@SonuSood) July 31, 2020

यह भी पढ़े :-

ट्विटर पर हुए अपील के बाद , सोनू सूद ने बिहार के बेघर महिला को घर दिया : उम्मीद

एक साल पहले इन बच्चों ने पिता को खोया था, अब माता को

इन बच्चों ने एक साल पहले अपने पिता को खो दिया था. मां मजदूरी कर के अपने बच्चों का लालन पालन करती थी.
पिछले कुछ दिनों से वह भी बहुत बीमार थी. अंततः उनका भी निधन हो गया. जिसके बाद तीनों छोटे-छोटे बच्चे अनाथ हो गए. अब इनकी देख-रेख करने वाला कोई नहीं है. घर में दादी है जो बहुत बूढ़ी हैं.


सोनू सूद से की सहायता की अपील

इन तीन बच्चों में बड़े वाले का नाम मनोहर है जो 9 साल का है. मनोहर ने बताया कि उसने सोनू अंकल के कई वीडियो देखें हैं. वे जरूरतमंदो की सहायता करते हैं. अगर ऐसे कोई उनकी भी सहायता करे तो वह बड़ा होकर डॉक्टर बनेगा और गरीबों की देखभाल करेगा. सच हम मदद की मांग भी तो उनसे ही करते हैं जिन पर हमें यकीं होता है कि वे हमारी मदद को आगे आएंगे.

कभी-कभी आश्चर्य होता है कि कोई इतना उदार और नेक इंसान कैसे हो सकता है. मैंने सुना था, एक इंसान हर किसी का दिल नहीं जीत सकता। सोनू सूद ने इसे ग़लत साबित कर दिया है। The Logically सोनू सूद के द्वारा किए जाने वाले कार्यों के प्रति आभार प्रकट करता है।

Logically is bringing positive stories of social heroes working for betterment of the society. It aims to create a positive world through positive stories.