Tuesday, September 28, 2021

10वीं में फेल होने पर स्कूल से निकाले गए, माता पिता के सपने को पूरा करने के लिए की मेहनत और बन गए आईपीएस अफसर

हम सबके बीच एक ऐसी धारणा बन चुकी है कि वही कैंडिडेट यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा पास कर सकते हैं, जो बचपन से ही पढ़ाई में बहुत अच्छा हो, वही कैंडिडेट अपनी मेहनत से ये धारणा तोड़ते भी है। आज हम एक ऐसे कैंडिडेट की बात करेंगे जो बचपन से एक एवरेज स्टूडेंट थे लेकिन आगे चलकर उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त की। – Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

बचपन से थे पढ़ाई में कमजोर

राजस्थान (Rajasthan) के बीकानेर के रहने वाले आकाश कुलहरि (Akash Kulhari) की गिनती हमेशा से कमजोर छात्रों में रही, लेकिन उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त कर हर किसी की सोच बदल दी। एक इंटरव्यू के दौरान आकाश बताते हैं कि दसवीं में फेल होने की वजह से उन्हें स्कूल से निकाल दिया गया था उनके माता-पिता इससे काफी दुखी थे इस घटना के बाद आकाश पढ़ाई को लेकर गंभीर हो गए। -Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

यह भी पढ़ें :- बकरी और बैल चराने वाले शख्स ने पहले ही प्रयास में पास की यूपीएससी परीक्षा, DSP बनकर करेंगे देश सेवा

ग्रेजुएशन के दौरान किया परीक्षा देने का फैसला

उन्हें 12वीं की परीक्षा में 85% अंक मिले। इससे वे दोबारा अपने माता-पिता का विश्वास हासिल कर पाए। आकाश कॉमर्स बैकग्राउंड से थे इसलिए उन्होंने बीकॉम से अपना ग्रेजुएशन पूरा किया। इस दौरान उनके आगे दो विकल्प थे। पहला की वह एमबीए में दाखिला लेकर कारपोरेट सेक्टर ज्वाइन करें और दूसरा सिविल परीक्षाओं के तरफ आगे बढ़ें और दूसरा विकल्प सिविल सेवा में जाने का था।- Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

पहले प्रयास में हुए सफल

आकाश बताते हैं कि मैं कभी पढ़ाई को लेकर सीरियस नहीं था लेकिन जब से सिविल सर्विस ज्वाइन करने का फैसला किया उस दिन से पढ़ाई में जुट गया। साल 2006 में आकाश कुलहरि ने (Akash Kulhari) अपने पहले प्रयास में सफलता हासिल की। एक इंटरव्यू के दौरान आकाश बताते हैं कि उनकी मां चाहती थी कि उनके बच्चे अधिकारी बनकर देश सेवा करें। वे अपनी मां की इच्छा को पूरी करने के लिए इस राह पर निकल पड़े।- Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

आकाश को सफल देख उनके छोटे भाई भी इसी राह पर निकल पड़े और आज वह भी अधिकारी बन देश की सेवा कर रहे हैं। – Success story of Akash Kulhari from Rajasthan of becoming an IPS officer

अगर आप गार्डेनिंग सीखना चाहते हैं तो हमारे “गार्डेनिंग विशेष” ग्रुप से जुड़ें – जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें