Saturday, December 3, 2022

मात्र 5000 रूपये में लें पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी और कमाएं खूब पैसे, जानें आवेदन करने का तरीका

आजकल पैसे कमाने के लिए कई तरह के क्षेत्र उपलब्ध हैं या कहें तो उसमें इजाफा भी हो रहा है। आजकल निजी कम्पनियों की फ्रेंचाइजी लेकर लोग अच्छी खासी आमदनी कर रहे हैं। ऐसे में सरकार भी अब अपने विभागों के अंतर्गत सेवा के लिए फ्रेंचाइजी का प्रावधान किया है। बैंकों के अंतर्गत चलने वाले ग्राहक सेवा केन्द्र तो कई लोगों को बेहतर करने का अवसर दिया है। उसी कङी में भारतीय डाक विभाग ने एक प्रस्ताव दिया है जिसके लिए आप पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी लेकर आप अच्छी आमदनी कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी लेने के लिए कई तरह के सवाल मन में कौंधने लगते हैं कि इसे कैसे लें, इसमें कितनी लागत लगानी होगी, कितनी कमाई होगी और इसे लेने के लिए किस तरह की एलिजिबिलिटी चाहिए। तो आइए जानते हैं इन सभी सवालों का जबाव…

भारतीय डाक गांव के लिए लाइफ लाइन माना जा सकता है। ऐसे कई कागजात है जिसे डाक विभाग के जरिए लोगों के घर तक पहुंचाया जाता है। डाकघर में बीमा पॉलिसी, लोन एवं बैंकिंग से जुड़ी कई तरह के कार्य किए जाते हैं जिसके कारण भारतीय डाक विभाग में ग्राहकों की तादाद पहले से बढ़ गई है। ऐसे में फ्रेंचाइजी लेकर कार्य करना रोजगार का बेहतर साधन बन सकता है।

डाक विभाग फ्रेंचाइजी के अंतर्गत डाक टिकट स्पीड पोस्ट रजिस्ट्री मनी ऑर्डर आदि का कार्य सौंप रहा है। डाक विभाग इस फ्रेंचाइजी को पोस्ट ऑफिस के रूप में दे रहा है यदि आपको एक बार इसकी फ्रेंचाइजी मिल जाती है तो 6 महीने बाद आपके कार्य का आकलन किया जाएगा यदि आपका कार्य बढ़िया रहा है तो आपके अभी को आगे बढ़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:- अब हवा से निकाला जाएगा पीने का पानी, रेलवे द्वारा लगाई जा रही यह अनोखी मशीन

डाक विभाग के फ्रेंचाइजी लेने के लिए योग्यता

पोस्ट ऑफिस के फ्रेंचाइजी पाने के लिए कुछ नियम निर्धारित किए गए हैं इसके लिए आप की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए तथा आप कम से कम आठवीं पास भी होनी चाहिए। सबसे अच्छी बात है यह है कि इसमें अधिकतम उम्र की कोई सीमा निर्धारित नहीं की गई है। इसके लिए आवेदन करने में आपको सिक्योरिटी के तौर पर 5000 रूपये डाक विभाग में जमा कराने पड़ेंगे और आपके पास लगभग 200 स्क्वायर फीट का एक ऑफिस भी होना चाहिए। सभी कागजी समीक्षा के बाद आपको डाक विभाग द्वारा फ्रेंचाइजी का लाइसेंस दिया जाएगा।

किस जगहों पर खोल सकते जा सकता हैं डाक विभाग का फ्रेंचाइजी

डाक विभाग के फ्रेंचाइजी के लिए स्थानों की बात करें तो यह वहीं खोला जा सकता है जहां पर वर्तमान में डाकघर नहीं है। जिन जगहों पर डाकघर नहीं है वहां डाक विभाग का उद्देश्य फ्रेंचाइजी देकर वहां के आसपास के लोगों को सुविधाएं मुहैया कराया जाना है। इसलिए सुदूर गांवों में जहां पर डाकघर की सुविधा नहीं है वहां पर पढ़े-लिखे युवा भी इस तरह के फ्रेंचाइजी ले सकते हैं और आमदनी का जरिया बना सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- 6 टन प्लास्टिक कचरे से बना है गाजियाबाद का यह “गजब स्ट्रीट” लोगों द्वारा फेंके गए कचरे को दिया शानदार लुक

फ्रेंचाइजी के तौर पर होने वाली आमदनी

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जब आप डाक विभाग द्वारा पोस्ट ऑफिस का फ्रेंचाइजी लेते हैं तो आप की कमाई कितनी होगी इस संदर्भ में भारतीय डाक विभाग की वेबसाइट के अनुसार आपको एक रजिस्ट्री करने पर 3 रूपये, एक स्पीड पोस्ट करने पर 5 रूपये, टिकट बेचने पर टिकट प्राइस का 5% एवं स्पीड पोस्ट पार्सल पर 7%से 10% का कमीशन मिलेगा। इसके अतिरिक्त यदि आप विस्तार से इन चीजों के बारे में जानना चाहते हैं तो आप ऑफिशियल वेबसाइट जाकर जानकारी प्राप्त करें

डाक विभाग किस तरह की फ्रेंचाइजी देती है

भारतीय डाक द्वारा फ्रेंचाइजी देने के संदर्भ में बात करें तो वह दो प्रकार की फ्रेंचाइजी दे रही है, पहला फ्रेंचाइजी आउटलेट खोलने का है और दूसरा एजेंट बनने का। जिन स्थानों पर पोस्टल सर्विस की मांग अधिक है और वहां डाकघर की सुविधा नहीं है, वैसे में वहां पर डाकघर की फ्रेंचाइजी लेकर आसानी से पैसा कमाया जा सकता है। वहीं एजेंट गांव में जाकर टिकटों एवं स्टेशनरी के सामानों का बिक्री कर सकते हैं।