Thursday, October 28, 2021

छात्रों को पढ़ाने के लिए एक शिक्षिका का अजब जुगाङ , लोग कर रहे जमकर तारीफ

एक शिक्षक हमेशा सम्मान का पात्र होता है ! अपने शिक्षा-संचार से बच्चों की जिंदगी प्रकाशित करने का उनका कार्य अतुल्य है ! आज जब पूरे देश में कोरोना संक्रमण के कारण स्कूल , कॉलेज व अन्य शैक्षणिक संस्थान बन्द हैं ऐसे में बच्चों की पढाई बाधित हो रही है ! ऐसी परिस्थिति में भी कई स्कूल इंटरनेट के माध्यम से , वीडियो कॉल के माध्यम से बच्चों को पढा रहे हैं ! उसी क्रम में एक महिला शिक्षक भी कम संसाधन होते हुए भी वीडियो कॉल के माध्यम से अपने छात्रों को पढा रही हैं ! लोग इनकी सोंच , जज्बे और कार्य को सलाम कर रहे हैं !

मोबाइल को बनाया ट्रायपॉड

ऑनलाइन क्लास के लिए ऐसे साधन चाहिए जिससे बच्चों को पढाने में दिक्कत नहीं हो , ट्रायपॉड के जरिए आज लोग ऑनलाइन क्लास पढा रहे हैं ! रसायन शास्त्र पढाने वाली इस शिक्षिका के पास ट्रायपॉड नहीं था तो उसने जुगाड़ लगाया और बिना किसी भी व्यय के अपने मोबाइल को हीं एक “देसी ट्रायपॉड” बना लिया !

कुर्सी , कपड़ों के टुकड़े , हैंगर

महिला शिक्षिका के पास अब अपने मोबाइल को टांगने हेतु स्टैण्ड्स उपलब्ध नहीं थे तो वो एक आईडिया लगाई और मोबाइल को हैंगर , कपड़े के चन्द टुकड़े और कुर्सी की मदद से उसे टांग दिया जिससे कि सामने रखी बोर्ड साफ-साफ नजर आ रही थी ! यह तस्वीर आईएफएस सुधा रोमन ने शेयर की है और लिखा है “इस तस्वीर में ढेर सारी सकारात्मकता और उम्मीद है , इस कमेस्ट्री टीचर की लगन देखिए” !

सोशल मीडिया पर हो रही जमकर तारीफ

महिला शिक्षिका द्वारा जुगत लगाकर बच्चों की पढाई करने वाली यह तस्वीर हर ओर वायरल हो रही है ! खासकर सोशल मीडिया पर इसे लेकर लोगों की कई प्रतिक्रियाएँ आ रही हैं ! एक ट्वीटर यूजर ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा कि “मैं कुछ नहीं जानता, लेकिन इस तस्वीर ने मेरा दिन बना दिया ! एक शिक्षिका मौजूद संसाधनों में ऑनलाइन क्लास ले रही हैं , कमाल का जज्बा है” ! किसी ने लिखा “आवश्यकता अविष्कार की जननि है” ! एक ने इसे यूट्यूब पर शेयर करते हुए लिखा “भारतीय जुगाड़” !

इस महिला शिक्षिका का बच्चों को पढाने का यह तरीका बेहद सराहनीय है जो एक शिक्षक को अपने बच्चों के प्रति गहरे लगाव को प्रदर्शित करता है ! Logically इस महिला शिक्षिका की भूरि-भूरि प्रशंसा करता है !