Thursday, January 28, 2021

थाईलैंड अमरूद, ड्रैगन फ्रूट जैसे दुर्लभ फलों की प्रजाति को ब्रम्हदेव अपने छत पर ही उगाते हैं: आप भी जानें तरीका

आज के समय मे सबकी जीवनशैली इतनी व्यस्त हैं कि हम चाह के भी अपना मनपसंद का काम नही कर पा रहे हैं या यूं कहें कि हम आलसी भी हो गए हैं।परंतू आज भी ऐसे बहुत से लोग है जो अपनी व्यस्त जीवन शैली से समय निकाल कर अपना मनपसंद काम करते हैं जिनसे उन्हें खुशी मिलेती हैं।आइये आज आपको ऐसे ही सक्श से मिलवाते है

ब्रह्मदेव कुमार का परिचय:-

ब्रह्मदेव कुमार उत्तरप्रदेश के गोरखपुर में रहते है ।उनकी आयु 48 वर्ष हैं। ब्रह्मदेव गोरखपुर यूनिवर्सिटी में इलेक्ट्रिक टेक्नीशियन के पद पर कार्य करते हैं।

उसके साथ ही 20 सालों से गार्डनिंग कर रहे है।उसके साथ ही अपना यु ट्यूब चैनल “growing fruits on Terrace”चला रहे हैं।

 gardening by Bramhdev

4-5 पौधों से की थी शुरुआत:-

वैसे तो आज ब्रह्मदेव के गार्डन में 400 से अधिक पौधे है।परंतु ब्रह्मदेव ने शुरुआत सिर्फ 4-5 पौधों से ही कि थी। ब्रह्मदेव को गार्डनिंग का शौक बचपन से ही था। घर मे सबसे छोटे होने के कारण ब्रह्मदेव की बात कोई गंभीरता से लेता भी नही था।

यह भी पढ़ें :- शिक्षक ने अपने घर पर सैकड़ो पौधों से बागवानी बना दिये, अब उसी से बच्चों को पर्यावरण के गुर सिखाती हैं

नौकरी लगने के किया अपने सपनों को पूरा:-

जब ब्रह्मदेव की नौकरी हो गई तब उन्होंने अपने शौक पूरे करने की सोची। ब्रह्मदेव ने पेंड़-पौधे लगाने शुरू किए तथा पेड़-पौधों के बारे में पढ़ना भी शुरू किया।ब्रह्मदेव ने जब बागवानी शुरू की उस समय सोशल मीडिया इतना चलन में नही था।इसलिए पेड़-पौधों के बारे में पढ़ने के लिए ब्रह्मदेव हमेशा लाइब्रेरी जाते थे।

ब्रह्मदेव का पेड़-पौधों के प्रति लगाव दिन प्रतिदिन बढ़ता गया।ब्रह्मदेव ने अपने बागवानी की शरुआत कुछ सजावटी फूलो से की थी परन्तु आज उनके गार्डन पे फलों के पेड़-पौधे भी हैं।

 gardening by Bramhdev

तरह -तरह के फलों के पौधें लगाए:-

अनार,अमरूद तो आपको सबके गार्डन में मिल जाएंगे।परन्तु ब्रह्मदेव के बागवानी में आपको तरह -तरह के फलों के पौधे मिलेंगे जैसे:-थाईलैंड अमरूद,थाई एप्पल बेर,मौसमी,निम्बू,अंजीर,चीकू,आम सारे फल हैं।इसके अलावा ब्रह्मदेव सब्जियों में शिमला मिर्च,लौकी,केरेला, मिर्च भी उपजाते हैं।

ब्रह्मदेव ने गमलो में पेड़-पौधे लगाए हैं। ब्रह्मदेव ने अपने गार्डन में काफी एक्सपेरिमेंट भी किये हैं।वर्टीकल गार्डनिंग का भी प्रयोग किया है अपने गार्डन में ।एक दिन में ब्रह्मदेव की बागवानी इतनी बड़ी नही हुई है ये उनकी कड़ी मेहनत का नतीजा है आज उनके बागवानी में 400 से अधिक पेड़-पौधें हैं।

ब्रह्मदेव अपने बागवानी की देखभाल खुद ही करते हैं।ताकि उनका परिवार ताजी फल और सब्जियां खा सके ।क्योंकि उनकी पत्नी भी अपने काम मे व्यस्त रहती है और बच्चें पढ़ाई में।

 gardening

मौसम के हिसाब से ही ब्रह्मदेव करते है बागवानी:-

ब्रह्मदेव मौसम के हिसाब से फल सब्जियां उगाते हैं ताकि उनके परिवार को बाजार से फल सब्जियां नही खरीदना पड़े। कई बार तो फल सब्जियां इतने अधिक हो जाते है कि ब्रह्मदेव अपने पड़ोसियों को बाट देते हैं फल और सब्जियां।

ब्रह्मदेव की बागवानी की सब लोग तारीफ करते हैं।ब्रह्मदेव अपनी ख़ुशी के लिए बागवानी करते हैं।इसलिए जब उनका कोई पेड़-पौधा खराब हो जाता हैं तो वो दुखी नही होते हैं बल्कि और मेहनत से बागवानी करते हैं। बहुत से लोग ब्रह्मदेव से प्रेरणा लेकर बागवानी कर रहे हैं।ब्रह्मदेव का कहना है कि प्रकृति से प्यार करे और कोई पौधा खराब भी हो जाये तो फिर से कोशिश करे।आपको सफलता जरूर मिलेगी।

जैविक तरीके से करते है खेती:-

ब्रह्मदेव जैविक तरीके से अपने बागवानी का ध्यान रखते हैं। पौधे के अच्छी विकाश के लिए ब्रह्मदेव खाद,वर्मीकम्पोस्ट,सरसो खली, नीम खली और कोकोपिट का उपयोग करते हैं।साथ ही साथ बिना मिट्टी के पॉटिंग मिक्स भी तैयार कर के आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

ब्रह्मदेव का कहना है जब आप पौधे लगाते है तो आपको जागरूक होना पड़ेगा।समय समय पर आपको पौधों को पानी और धूप दिलाते रहना होगा।महीने में एक या दो बार पौधो को खाद या लिक्विड खाद दे तथा गमले के मिट्टी को ऊपर नीचे करते रहे ।आप चाहे तो घर पे ही केले के छिलके या प्याज के छिलके का स्प्रे बना कर अपने पौधे के लिए इसको इस्तेमाल कर सकते हैं।

ब्रह्मदेव अपने किचन के गीले कचरे से खाद बना कर अपने पौधो के लिए इस्तेमाल करते है साथ साथ नीम के तेल का भी उपयोग करते है अपने पौधों को कीड़े से बचाने के लिए।

यु ट्यूब चैनल की मदद से जानकारी करते है साझा :-

ब्रह्मदेव के यु ट्यूब चैनल का नाम “सिटी गार्डनिंग”है।जिसको ब्रह्मदेव ने 3 साल पहले शुरू किया था।यहाँ ब्रह्मदेव अपने बागवानी से जुड़ी बातें लोगो को बताते है जिनसे लोगो को मदद मिले।यु ट्यूब पे ब्रह्मदेव के 2.5 लाख सब्सक्राइबर हैं।

Terrace gardening

पड़ोसी लड़के से मिली युट्यूब चैनल बनाने की प्रेरणा:-

ब्रह्मदेव के पड़ोस में एक लड़का रहता था जिसका यु ट्यूब चैनल था उसके ब्रह्मदेव को अपना चैनल सब्सक्राइब करने को कहा तब ब्रह्मदेव ने भी यु ट्यूब चैनल बनाया और बागवानी से संबंधित वीडीओ डालने लगे। ब्रह्मदेव ने इसलिए भी अपना चैनल शुरू किया ताकि दुसरो को सही जानकारी मिल सके। और जो परेशानी उनको हुई शुरूआत में वो बाकी किसी को ना हों।

पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए सबको करनी चाहिए बागवानी:-

ब्रह्मदेव का मानना है कि सबको बागवानी करनी चाहिए।शहरी क्षेत्रों के लोगो को जरूर बागवानी करनी चाहिए ताकि पर्यावरण स्वच्छ रहे।साथ ही साथ आपको इससे अवसाद में भी फायेदा होगा तथा आपको मन की शांति भी मिलेगी।और आप स्वस्थ भी रहंगे।

बागवानी के बारे में और जानकारी पाने के लिए आप ब्रह्मदेव का यु ट्यूब देख सकते है या ब्रह्मदेव के फेसबुक पेज से भी जुड़ सकते हैं।

The Logically ब्रह्मदेव को अपना शौक पूरा करने के लिए सलाम करता है साथ ही साथ उनके मंगल भविष्य की भी कामना करता हैं

अंजली
अंजली पटना की रहने वाली हैं जो UPSC की तैयारी कर रही हैं, इसके साथ ही अंजली समाजिक कार्यो से सरोकार रखती हैं। बहुत सारे किताबों को पढ़ने के साथ ही इन्हें प्रेरणादायी लोगों के सफर के बारे में लिखने का शौक है, जिसे वह अपनी कहानी के जरिये जीवंत करती हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय