Wednesday, August 4, 2021

ख़ुद हैं चौथी पास लेकिन अपने परिवार को बनाया अफ़सरों का घराना, एक घर से IAS, IPS समेत 11 अफ़सर

आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) ऑफिसर बनना आसान नहीं है।

आज हम भारत के एक ऐसे परिवार की बात करेंगे, जिसमें IAS और IPS समेत 11 फर्स्ट क्लास अफसर हैं। यह परिवार हरियाणा (Haryana) के जींद जिले के गांव डूमरखां कलां में रहता है। इस परिवार की सफलता का पूरा श्रेह चौधरी बसंत सिंह श्योंकद (Chaudhary Basant Singh Shyokad) को जाता है।

This family has 11 first class government officers

एक परिवार ने 11 क्लास वन अफसर दिया

बसंत सिंह एक ऐसे व्यक्ति हैं, जिसे कलम की ताकत का ख़ूब तकाज़ा है, जबकि चौधरी बसंत सिंह खुद केवल चौथी क्लास पास थे। इसी साल मई महीने में 99 साल की उम्र में बसंत सिंह श्योंकद (Basant Singh Shyokad) का देहांत हो गया, परंतु उनके परिवार की सफलता के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

बसंत सिंह के परिवार ने देश को अब तक दो (IAS), एक IPS समेत 11 क्लास वन अफसर दिया है। रिपोर्ट के अनुसार बसंत सिंह के कम पढ़े-लिखने होने के बावजूद भी उनकी दोस्ती हमेशा बड़े अफसरों से रहती थी। इससे प्रेरित होकर उन्होंने अपने बच्चों को शिक्षा देने का फैसला किया।

This family has 11 first class government officers

परिवार का हर व्यक्ति है बड़े पद पर नियुक्त

बसंत सिंह के चार बेटे हैं और सभी क्लास वन अफ़सर हैं, जबकि उनकी बहु और पोता आईएएस (IAS) हैं। इसके अलावा उनकी एक पोती आईपीएस (IPS) और एक आईआरएस (IRS) अफसर है। बसंत सिंह के बड़े बेटे का नाम रामकुमार श्योकंद (Ramkumar Shyokand) है, जो कॉलेज के रिटायर्ड प्रोफेसर हैं। जिनका बेटा यशेंद्र (Yashendra) आईएएस (IAS) है और बेटी स्मिति चौधरी (Smiti Chaudhary) अंबाला में बतौर रेलवे एसपी (ACP) तैनात हैं। स्मिति के पति बीएसएफ BSF में आईजी (IG) हैं।

बसंत सिंह के दूसरे बेटे कॉन्फेड में जीएम (JAM) थे। उनकी पत्नी डिप्टी (Depty) डीइओ DEO हैं। इसी तरह बसंत सिंह श्योंकद (Basant Singh Shyokad) के बहु-बेटे, पोता-पोती हर कोई किसी न किसी बड़े सरकारी पद पर नियुक्त हैं।