Tuesday, September 28, 2021

10 साल की बच्ची ने प्याज, टमाटर और लहसुन के छिलकों से बनाए इको फ्रेंडली पेपर, UN वाटर ने की तारीफ

बच्चे बहुत ही कम उम्र कई कार्य कर देते हैं, जो बड़े नहीं कर पाते।

आज का यह लेख एक 10 साल की छोट्टी बच्ची का है, जिसने पेड़ो की रक्षा के लिए इको-फ्रेंडली पेपर का निर्माण किया है।-10 years old girl Manya Harsha makes Eco Friendly paper

10 years old girl Manya Harsha from Bengaluru makes Eco Friendly paper

10 वर्षीय मान्या हर्ष (Manya Harsha) की हो रही है हर जगह तारीफ़

उस 10 वर्षीय बच्ची का नाम मान्या हर्ष है। (Manya Harsha) पर्यावरण के संरक्षण के लिए मान्या को संयुक्त राष्ट्र-जल (यूएन-वाटर) की तरफ से बहुत सराहना मिली है क्योंकि मान्या ने मात्र 10 प्याज के छिलकों का उपयोग कर दो से तीन A4 साइज के पेपर का निर्माण किया है। -10 years old girl Manya Harsha makes Eco Friendly paper

द बेटर इंडिया की खबर के अनुसार मान्या ने अपने अनोखे प्रयास द्वारा इको-फ्रेंडली पेपर का निर्माण किया है। मान्या हर्ष (Manya Harsha) ने टमाटर, प्याज और लहसुन के छिलकों से पेपर का निर्माण किया है। -10 years old girl Manya Harsha makes Eco Friendly paper

10 years old girl Manya Harsha from Bengaluru makes Eco Friendly paper

प्रकृति के विषय पर लिखी है 5 किताबें

मान्या हर्षा मात्र छठवीं क्लास में पढ़ती है। वह पर्यावरण के संरक्षण के लिए हमेशा तत्पर रहती हैं। वह अपनी दादी के साथ बेंगलुरु (Bengaluru) में रहती है। जब उन्होंने देखा कि शहरों में कचरे बढ़ रहे हैं, तो उन्हें यह महसूस हुआ कि इसके लिए कुछ करना चाहिए। पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगों में जागरूकता बढ़े इसलिए उसने ब्लॉक का निर्माण किया और प्रकृति के विषय पर 5 किताबें भी लिखी।
-10 years old girl Manya Harsha makes Eco Friendly paper

10 years old girl Manya Harsha from Bengaluru makes Eco Friendly paper

कचरा प्रबंधन के लिए मार्कोनहल्ली बांध तथा वरका समुद्र तट पर एक सफाई अभियान भी प्रारंभ किया। वर्ष 2020 में पर्यावरण के लिए जागरूकता फैलाने के लिए उन्हें इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स द्वारा एनिमेटेड लघु फिल्म निर्माण में सबसे कम उम्र के होने के बावजूद भी मान्यता मिली। -10 years old girl Manya Harsha makes Eco Friendly paper