Monday, June 14, 2021
Home Social Heroes

Social Heroes

50 की उम्र लेकिन पर्यावरण संरक्षण के किये बने मिसाल- आर्गेनिक खेती, पौधा वितरण और पक्षी संरक्षण जैसे अनेको कार्य करते हैं: प्रदीप कुमार

सम्पूर्ण विश्व मे पर्यावरण संरक्षण एक बहुत ही गम्भीर मुद्दा बन चुका है, हर दिन कहीं न कहीं बड़े स्तर पर आंदोलन होते हैं...

खुद की बीमारी से मिली प्रेरणा, आज यह युवा भूखे लोगों को पेट भरने के साथ-साथ उनके इलाज में भी मदद कर रहा है:...

खाना इंसान की सबसे बड़ी जरूरतों में से एक है। इसकी सहजीय कल्पना की जा सकती है कि जिन लोगों को 2 जून की...

बुजुर्गों का एक ऐसा क्लब जो स्वक्षता अभियान, शिक्षा, स्वास्थ्य और कचड़ा प्रबन्धन जैसे अनेकों कार्य करता है: Club-60

उम्र के 60वें पड़ाव के बाद ज्यादातर लोग अपनी निजी जिंदगी में मशगूल हो जाते हैं लेकिन वहीं उत्तर प्रदेश में कुछ ऐसे बुजुर्ग...

खुद से करते हैं कुष्ठरोगियों की सेवा, उन्हें प्रेम से मरहम पट्टी लगाते हैं और भोजन भी कराते हैं: दिल्ली के करमवीर की करुणा...

"परं परोपकारार्थं यो जीवति स जीवति" अर्थात् "जो परोपकार के लिए जीता है वही सच्चा जीना है" खुद के लिए जिंदगी जीना बेहद आसान...

एक ऑटो वाले ने फरिश्ता बनकर 15000 से भी अधिक मरीजों को पहुंचाया अस्पताल, पेश की मानवता की मिसाल

कोरोना के इस दर्दनाक दौर में पीड़ितों और संक्रमित की मदद के लिए सैकड़ों लोग रात-दिन एक किए हुए हैं। कोई संक्रमितों को अस्पताल...

25 हज़ार मजदूरों को आर्थिक मदद देंगे सलमान खान, बोले…देश के लिए हम हमेशा तैयार हैं

कोरोनावायरस की दूसरी लहर से देशभर में हाहाकार मचा हुआ है। चारों तरफ लोग इससे बचने के उपाय ढूंढ रहे हैं। वहीं कुछ लोग...

सिंगर मीका सिंह लोगों को भोजन बांट रहे हैं, महामारी के वक्त लोगों की सेवा में जुटे

कोरोना की दूसरी लहर की भयावह मंजर को देखते हुए सभी राज्य सरकार द्वारा सभी राज्यों में लॉकडाउन लगाया गया है। इस लॉकडाउन में...

आनन्द महिंद्रा ने शुरू किया ‘ऑक्सिजन ऑन व्हील्स’, अब घर तक पहुंचाएंगे ऑक्सिजन

कोरोना की दूसरी लहर ने पूरे भारत में हाहाकार मचा दिया है। रोजाना इस संक्रमण से ग्रसित तथा इससे मरने वालों का आँकड़ा बढ़ता...

देश बेहाल हुआ तो इंग्लिश टीचर बना ऑटो ड्राइवर, कोरो’ना मरीज़ों को मुफ्त अस्पताल पहुंचाता है

भारत मे कोरोना की दूसरी लहर ने एक भयावह मंजर खड़ा कर दिया है। इस महामारी में कुछ लोग अपनो से भी दूरी बना...

महाराणा प्रताप: जंगलों में जीवन बिताया, घास की रोटी खाई लेकिन कभी भी दुश्मनों की गुलामी स्वीकार नहीं की।

“द्वंद कहाँ तक पाला जाए,युद्ध कहाँ तक टाला जाए,तू भी है राणा का वंशज,फेंक जहाँ तक भाला जाए"महान शायर वाहिद अली वाहिद द्वारा रचित...

MBA की डिग्री लेकिन तनिक भी घमण्ड नही, 100 से भी अधिक लाशों के अंतिम संस्कार किया

भारत मे रोजाना बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या तथा उस वायरस से मरने वालों की संख्या ने चारों तरफ एक तबाही का मंजर खड़ा...

वह मुसलमान जिसने इंसानियत के लिए रोजा छोड़ा, मुफ्त एम्बुलेंस सेवा देकर लाशों का अंतिम संस्कार करा रहे हैं फैज़ल

कोरोना वायरस ने पूरे भारत में तबाही मचा रखी है। चारो तरफ केवल तबाही का मंजर है। रोजाना देश के कई लोग इस बीमारी...

अन्य लोकप्रिय खबरें