Thursday, August 18, 2022

4 हाथ और 4 पैर वाली चहुंमुखी, सोनू सूद ने ऑपरेशन करवाकर दी नई जिंदगी

भारतीय सिनेमा जगत के जाने-माने अभिनेता सोनू सूद सोशल मीडिया पर चर्चे में बने रहते हैं। इन्होंने कई बच्चे-बच्चियों तथा आम नागरिकों की मदद की है। इनकी यह दरियादिली को देखकर लोग इन्हें भगवान का दूसरा रुप मानते हैं। पिछले कुछ दिन पहले उन्होंने बिहार की रहने वाली एक सीमा नाम की लड़की की मदद करने का एलान किए था जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था।

एक बार फिर से सोशल मीडिया पर अभिनेता सोनू सूद की काफी जमकर तारीफ हो रही है। सोनू सूद ने फिर से बिहार की रहने वाली एक बच्ची की मदद की है। यह बच्ची जन्म से ही 4 हाथ और 4 पैर से थी। सोनू सूद ने उसकी इस समस्या को देखकर उसकी सर्जरी करवा कर एक नई जिंदगी दी है। सोनू सूद की इस दरियादिली को देख कर लोग उनकी तारीफ के पुल बांध रहे हैं।

चहुंमुखी (Chahunmukhi)

चहुंमुखी बिहार के नवादा जिले के वरसलीगंज प्रखंड के सौर पंचायत के हेमदा गांव की रहने वाली हैं। इस बच्ची की उम्र मात्र ढाई साल है। चहुंमुखी के जन्म से ही इसके चार हाथ और चार पैर थे जिसकी वजह से इस बच्ची का जीवन काफी अस्त-व्यस्त था। यह बच्ची काफी कष्टमय तरीके से जिंदगी जी रही थी। बच्ची की इस हालत को देखते हुए इनके माता पिता और गांव के मुखिया गुड़िया देवी के पति दिलीप राउत समेत सभी लोग 30 मई को बिहार से मुंबई इलाज करवाने के लिए ले गए थे।

यह भी पढ़ें:-घूमने के लिए जा रहे हैं हिमाचल तो घूमें बेहद खूबसूरत गांव कल्पा को, शिमला-मनाली भी इसके आगे फेल

जब इन लोगों ने चहुंमुखी को इलाज करने के लिए अस्पताल ले गए थे तब इनकी मुलाकात सोनू सूद से हुई। सोनू सूद ने इस बच्ची की हालत को देखते हुए उस बच्ची को मुंबई से सूरत भेज दिया, जहां उस बच्ची को इलाज करने के लिए एक एक्सपर्ट डॉक्टर की टीम चहुंमुखी की इलाज में जुट गई। जिसके बाद इस बच्ची का काफी बारीकि से चेकअप किया गया। जब सारा चेकअप हो गया तो वहां के डॉक्टर मिथुन और इनकी टीम ने इस बच्ची की सर्जरी की। चहुंमुखी की सर्जरी करीब 7 घंटे तक चली। चहुंमुखी का इलाज सूरत के किरण अस्पताल में किया गया। जिसके बाद यह सर्जरी सफल हुई और चहुंमुखी को एक नई जिंदगी मिल गई।

सोनू सूद ने मदद का किया एलान

चहुंमुखी जो जिसके 4 हाथ और 4 पैर थे और जिस तरह वह काफी तकलीफ में थी, जिसके बाद इस बच्ची का एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाला गया था, जो काफी तेजी से वायरल हो रहा था। जब सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर बच्ची की इस वीडियो को देखा तो उन्होंने बच्ची के इलाज करवाने के लिए मदद का एलान कर दिया। इसके बाद उस बच्ची का सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया गया और इस ऑपरेशन में जितने भी खर्च हुए वह सोनू सूद ने दिए हैं।

जल्द ही चहुंमुखी से मिलेंगे सोनू सूद

चहुंमुखी की सर्जरी होने के बाद किसी कारणवश सोनू सूद चहुंमुखी को देखने अस्पताल में नहीं पहुंच पाए। लेकिन सोनू सूद इस नन्ही सी चहुंमुखी बच्ची से जल्दी मिलेंगे। किरण अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि चहुंमुखी अभी कुछ दिनो तक डॉक्टर की निगरानी में यही रहेगी। जब तक को अच्छी तरह ठीक नहीं हो जाती वह अस्पताल में ही रहेगी। यह जानकारी दिलीप राउत ने दिया है। सर्जरी होने के बाद चहुंमुखी काफी बेहतर हालात में है और वह अब लोगों के साथ काफी अच्छी से बात विचार कर रही है।

यह भी पढ़ें:-700 साल पुराने इस गांव में “चूहे के बिल” जैसे घरों में रहते हैं लोग, सर्दी में गर्म और गर्मी में ठंडा रहता है

चहुंमुखी के नाम पर खोलना चाहते हैं स्कूल सोनू सूद

सोनू सूद ने कहा है कि वह चहुंमुखी के नाम पर एक स्कूल खोलना चाहते हैं। जब इनके गांव के मुखिया को यहां जानकारी मिली तो मुखिया गुड़िया देवी के पति दिलीप राउत ने तुरंत अपने गांव की जमीन को स्कूल बनवाने के लिए दे दिया। बताया जा रहा है कि स्कूल बनाने का काम जल्द ही स्टार्ट किया जाएगा। जो चहुंमुखी के नाम पर यह स्कूल बनेगा। जब चहुंमुखी की सर्जरी सफलता पूर्ण तरीके से हो गई तो इस नन्ही से बच्ची के माता पिता और अन्य लोगों ने सोनू सूद की अभार व्यक्त करते हुए कहा कि आपने हमारी इस नन्ही सी बच्ची को एक नई जिंदगी दे दी है इसके लिए हम आपको तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।

यह नन्ही सी बच्ची चहुंमुखी की सोनू सूद द्वारा एक सफल सर्जरी होने के कारण आज यह हुआ कि सभी बच्चों की तरह वह भी खेलकूद सकेगी और वह सभी बच्चों की तरह स्कूल पढ़ने जाएगी। सोनू सूद को इस बच्ची की मदद करने के लिए लोग काफी तारीफ और इनका धन्यवाद कर रहे हैं।