Saturday, July 31, 2021

अम्फान की तबाही से जन-जीवन को उबारने के लिए भारतीय सेना मसीहा बन रेस्क्यू कार्य कर रही है

सैनिक जो त्याग , समर्पण , साहस , वीरता , दृढ संकल्प , कर्तव्यपरायणता की पराकाष्ठा होता है ! हमें यूं हीं नहीं अपने वीर सैनिकों पर गर्व है , जिनके नाम भर से हमारे अंदर आदर की भावना जागृत होने लगती है ! हमारे सैनिक अर्थात् हमारे सुरक्षा प्रहरी ! देश के सामने जब-जब आपदाओं और विषम परिस्थितियों ने अपने विध्वंसकारी कार्यों से देश को चोटिल किया है , आघात पहुँचाया है , तब-तब हमारे वीर सैनिकों ने उससे निपटने और स्थिति सामान्य करने हेतु अपनी अदम्य वीरता का परिचय दिया है और अपनी जिंदगी को समर्पित करने तक की पराकाष्ठा कर दी है ! जन-जीवन को पटरी पर लाने हेतु दिन-रात एक कर देने वाले हमारे जवान हमेशा से लोगों के दिलों में रहते हैं ! आज देश के सामने कोरोना वायरस के गहराए हुए दंश के बीच एक और बड़ी समस्या ने दस्तक दिया है ! “अम्फान” नामक तूफान ने देश के कुछ राज्यों को अस्त-व्यस्त कर दिया है ! इस दौरान तेज हवाओं और बारिश ने वहाँ के हालात बिल्कुल हीं प्रतिकूल कर दिया है ! जहाँ-तहाँ बड़े-बड़े वृक्ष उखड़ गए हैं ! कई घर गिर-उड़ गए हैं ! विशाल वृक्षों के गिरने और हवाओं के साथ आए मलवों ने सड़कों और अन्य मार्गों को अवरूद्ध कर दिया है जिससे यातायात की साधनें बन्द हो चुकी हैं ! बिजली की समस्या गहरा गई है ! कई लोगों की मौत भी हो चुकी है ! अम्फान से उपजे हालातों से निपटने हेतु बंगाल सरकार ने केन्द्र से सेना की मदद मांगी थी जिसे पूरी कर दी गई है !

हमेशा की तरह इस बार भी सेना उत्पन्न हालातों से निजात दिलाने के लिए इस बार के प्रभावित बंगाल राज्य पहुँच चुकी है और एनडीआरएफ के टीम के साथ मिलकर युद्ध स्तर पर कार्य कर रही है ! सेना हालातों से निपटने के लिए सभी उपकरणों के साथ बंगाल के सभी बुरे प्रभावित क्षेत्रों में पहुँच चुकी है ! वे सड़कों पर गिरे वृक्षों को काट-काटकर हटा रहे हैं ! तेज हवाओं व अन्य कारणों से आए मलवों को हटा रहे हैं ! सेना द्वारा यह सारे कार्य युद्ध स्तर पर किए जा रहे हैं ताकि उन क्षेत्रों में यातायात की सभी साधनें संचालित किए जा सकें और जन-जीवन पटरी पर लौट सके ! 

  हमेशा की तरह इस बार भी अपने कार्यों से आपदा की स्थिति को सामान्य करने में लगे वीर सैनिकों को नमन है !