Wednesday, December 2, 2020

नौकरी छोड़ इंजीनियर ने चाय बेचकर करोड़ों की कम्पनी खड़ी कर दी: Chai Calling

कभी किसी को इंजीनियरिंग कर के चाय बेचते देखा हैं। चलिए आज किसी ऐसे ही चाय वाले इंजीनियर की कहानी बताती हूँ। उत्तर प्रदेश के अभिनव टंडन(Abhinav tandon) और प्रमीत शर्मा(Pramit sharma) दो दोस्त हैं जिन्होंने लाखों की नौकरी छोड़ कर चाय बेचने की सोची। अभिनव टंडन पेशे से इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं तो वही प्रमीत शर्मा सॉफ्टवेयर इंजीनियर। अभिनव और प्रमीत बताते हैं कि जब यह दोनों कॉलेज में थे तब इन्हें बिज़नेस मैगज़ीन पढ़ना पसंद था । बिज़नेस का विचार उस समय मन मे था पर पहले जॉब लेकर कुछ पैसे जमा करने की सोची।

चाय कालिंग के शुरुआत के पीछे की कहानी

अभिनव बताते हैं कि कॉलेज के दिनों में या आफिस के समय भी चाय पीने के लिए चाय की दुकान पर जाते थे। वहा चाय बहुत ही गंदे और अस्वास्थ्यकर तरीके से बनाई जाती थी , जिसे देखकर चाय पीने का मन तो नही करता पर मजबूरी में पीनी पड़ती थी। तब इन दोनो दोस्तो को यह विचार आया कि अगर चाय को साफ-सुथरे तरीके से बनाया जाए तो सभी इसे पीना पसंद करेंगे। यहाँ से शुरुआत हुई चाय कालिंग(Chai calling) की।

Chai calling startup by two engineers

चाय कालिंग और चाय ब्रिगेड की शुरुआत

अभिनव और प्रमीत अपनी इंजीनियर की नौकरी में सेटल हो चुके थे पर चाय के बिज़नेस के लिए इन्होंने एक बड़ी MNC में अपनी लाखो की नौकरी छोड़ दी। इसके बाद अपनी बचत के 1 लाख रुपए से चाय कालिंग की शुरआत की। सबसे पहले नोएडा सेक्टर16 के मेट्रो स्टेशन के समीप चाय की दुकान खोली। यहाँ से मिले अच्छे रेस्पांस से उन्होंने चाय कॉलिंग की शुरआत अन्य शहरों में भी की। चाय की होम डिलीवरी के लिए इन दोनों न चाय ब्रिगेड की शुरुआत की और अब तो एक फ़ोन कॉल पर 15 मिनट के अंदर चाय की होम डिलीवरी भी की की जाती हैं।

यह भी पढ़े :- कोरोना के दौर में चाय की दुकान बंद कर बेच रहे हैं आयुर्वेदिक काढ़ा,अच्छे स्वास्थ्य के साथ हो रहा बेहतर मुनाफ़ा

15 किस्म की चाय मिलती हैं चाय कालिंग में

Chai calling

चाय कॉलिंग में 1एक नही बल्कि 15 किस्म की चाय मिलती है । यहाँ आपको एक चाय 5 रुपये से लेकर 25 रुपये तक में मिलेगी हैं।

1 लाख रुपये से शुरू किए गए इस चाय बेचने के बिज़नेस का टर्न ओवर 2014-15 में 50 लाख का था और आज इसका टर्न ओवर करोड़ो में हैं। आज अभिनव टंडन(Abinav tandon) और प्रमीत शर्मा(Pramit sharma) एक सफल स्टार्टअप के मालिक हैं और वह बताते हैं की भविष्य में उनकी योजना चाय कॉलिंग(Chai calling) को अन्य शहरों में विस्तार करने की हैं।

मृणालिनी सिंह
मृणालिनी बिहार के छपरा की रहने वाली हैं। अपने पढाई के साथ-साथ मृणालिनी समाजिक मुद्दों से सरोकार रखती हैं और उनके बारे में अनेकों माध्यम से अपने विचार रखने की कोशिश करती हैं। अपने लेखनी के माध्यम से यह युवा लेखिका, समाजिक परिवेश में सकारात्मक भाव लाने की कोशिश करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

अपने स्वाद के लिए मशहूर ‘सुखदेव ढाबा’ आंदोलन के किसानों को मुफ़्त भोजन करा रहा है

किसान की महत्ता इसी से समझा जा सकता है कि हमारे सभी खाद्य पदार्थ उनकी अथक मेहनत से हीं उपलब्ध हो पाता है। किसान...

एक ही पौधे से टमाटर और बैगन का फसल, इस तरह भोपाल का यह किसान कर रहा है अनूठा प्रयोग

खेती करना भी एक कला है। अगर हम एकाएक खेती करने की कोशिश करें तो ये सफल होना मुश्किल होता है। इसके लिए हमें...

BHU: विश्वविद्यालय को बनाने के लिए मालवीय ने भिक्षाटन किया था, अब महामाना को कोर्स में किया गया शामिल

हमारी प्राथमिक शिक्षा की शुरुआत हमारे घर से होती है। आगे हम विद्यालय मे पढ़ते हैं फिर विश्वविद्यालय में। लेकिन कभी यह नहीं सोंचते...

IT जॉब के साथ ही वाटर लिली और कमल के फूल उगा रहे हैं, केवल बीज़ बेचकर हज़ारों रुपये महीने में कमाते हैं

कई बार ऐसा होता है जब लोग एक कार्य के साथ दूसरे कार्य को नहीं कर पाते है। यूं कहें तो समय की कमी...