Tuesday, September 28, 2021

थाने को बना दिए कम्युनिटी किचन और पुलिस खुद पका रही है खाना :वडोदरा पुलिस

हिंदुस्तान में कोरोना संकट के समय हमलोगों ने पुलिस वालों को कई रूपों में देखा है । हमने उन्हें हमारी सुरक्षा करते हुए देखा है , हमने उन्हें लोगों तक राशन पहुंचाते हुए देखा है । देश के लिए , देश के नागरिकों के लिए जब कभी भी उनकी जरूरत पड़ती है वो न दिन देखते हैं न रात , न तपती धूप देखते हैं न बरसात , भूखे प्यासे रहते हैं फिर भी निःसंकोच उस कार्य को करने में लग जाते हैं । बात गुजरात के बड़ोदरा पुलिस की करते हैं जो अपनी ड्यूटी करने के बाद भी हर रोज 600 से अधिक भूखे , बेसहारा लोगों के लिए खाना बनाते और खिलाते हैं।

इस तरह करते हैं भूखे और बेसहारों की मदद

देश आज कोरोना महामारी के भीषण संकट से गुजर रहा है । भूखे , बेसहारा लोगों के लिए तो एक वक्त का खाना मिलना भी मुश्किल हो रहा है । कुछ ऐसा ही मंजर बड़ोदरा की सड़कों व गालियों में था । हजारों की तादाद में लोग भूखे-प्यासे जिंदगी जीने को मजबूर थे लेकिन जब बड़ोदरा पुलिस ने ऐसे असहाय लोगों को देखा तो उन्होंने कुछ करने की ठानी और पुलिस हेडक्वार्टर को ही रसोईघर बना दिया जिसमें की ऐसे भूखे , बेसहारा लोगों के लिए खाना बनाया जा सके । बड़ोदरा पुलिस की DCP “सरोज कुमारी” बताती हैं की हर रोज अपनी डयूटी पूरी करने के बाद 8 महिला पुलिसकर्मी रोज 600 से अधिक लोगों के लिए भोजन तैयार करती हैं और फिर शाम के वक़्त खाने को लोगों के बीच वितरित करती है।

कहाँ से मिलती है सहायता

वो कहते हैं ना कि नेक काम करने वालों के साथ लोग जुड़ना जरूर पसंद करते हैं , ऐसा ही कुछ इन पुलिस वालों के साथ भी हुआ । शुरुआत में भोजन बनाने में इन पुलिस वालों को अपनी जेब से खर्च करना पड़ता था , लेकिन ऐसा करके वो ज्यादा दिन तक इन भूखे , बेसहारा लोगों के लिए खाना नहीं तैयार कर सकते थे । उन्हें रसोई के सामानों के लिए फंड की आवश्यकता थी । उसी समय इतने सारे लोगों के लिए खाना बनाने की बात जब वहां के स्थानीय लोगों में फैली तब आसपास के लोग भी मदद करने के लिए आगे आने लगे । लोग पैसे इकट्ठा कर , खाद्य सामग्री , सब्जियां आदि इक्कट्ठा कर पुलिस वालों की मदद करने लगे । कुछ लोग तो अपने जन्मदिन , सालगिरह की पार्टी न मनाकर पुलिसवालों को रसोई का सामान देने लगे । लोगों के इतने बड़े स्तर पर समर्थन के कारण बड़ोदरा पुलिस नियमित प्रतिदिन 600 से अधिक लोगों को खाना खिला रही है और ये कार्य जब तक लॉकडाउन है निरंतर चलता रहेगा ।

संकट की इस परिस्थिति में बड़ोदरा पुलिस का यह कार्य पूरे देश को प्रेरित करने वाला है ‌‌।
Logically उनके प्रयास को नमन करता है ।