Sunday, October 24, 2021

बिहार के एक छोटे से गांव से निकलकर बिना कोचिंग किये पहले प्रयास में निकाले UPSC, अब IAS बन चुके हैं

किसी परीक्षा में सफल होने के लिए सेल्फ स्टडी बहुत हीं जरूरी है। अधिकतर लोग यह बताते हैं कि अगर आप कोई कोचिंग या क्लास ज्वाइन नहीं करेंगे तो आप अपनी पढ़ाई सही से नहीं कर सकते, जिस कारण आपको असफलता हीं हाथ लगेगी। लेकिन बिहार के मुकुंद कुमार ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने मात्र 22 साल की उम्र में ही यूपीएससी परीक्षा 54वीं रैंक से पास किया है और वह भी बिना किसी कोचिंग में पढ़ाई किए हीं।

आइए पढ़तें हैं मुकुंद कुमार की कहानी
 
अगर आप कुछ करना चाहते हैं तो इसकी सीख आपको मधुबनी (Madhubani) के मुकुंद कुमार (Mukund kumar) से जरूर लेनी चाहिए। बात अगर प्रतियोगिताओं की परीक्षा के बारे में हो तो सभी व्यक्ति हर मुमकिन कोचिंग क्लासेस के माध्यम से और खुद की मेहनत से सफलता प्राप्त करने में लगे रहते हैं। मुकुंद जब स्कूलों में अपनी पढ़ाई कर रहे थे उसी दौरान उन्होंने अपना लक्ष्य साध लिया था। उनका जन्म किसान परिवार में हुआ और उनकी मां प्राथमिक विद्यालय में पढ़ाया करतीं। मुकुंद की जिंदगी में उनके माता-पिता और तीन बहने हैं। उन्होंने 2019 यूपीएससी परीक्षा में 54वीं स्थान पाकर यह दिखा दिया है कि किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग की नहीं बल्कि खुद के मन में सपने को पूरा करने के प्रति निष्ठा जरूरी है।

Mukund kumar

5वीं कक्षा में सुना था इसके विषय में

उन्होंने इंटरव्यू में बताया कि जब यह पांचवी कक्षा की शिक्षा ग्रहण कर रहे थे उसी दौरान उन्होंने IAS और PCS के विषय में सुना था। वै उसके विषय में जानकारी प्राप्त करने के लिए बहुत प्रयास किए और जब वह इसे समझ गए तो उन्होंने अपना लक्ष्य उसे हीं बनाया। उन्होंने यह भी जानकारी दिया कि इसमें सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति इस कदर नहीं थी वह कोचिंग के लिए पैसे दे पाएं इसीलिए उन्होंने स्वयं ही यूपीएससी की तैयारी की है।

यह भी पढ़ें :- 4 बार UPSC में हुए फेल लेकिन हार नही मानी और आखिरी बार मे पूरे भारत में टॉप किये, रैंक 1 लाकर बने IAS

बिना किसी कोचिंग के पाई सफलता

उन्होंने अपने 12वीं कक्षा तक कि पढ़ाई असम से सम्पन्न की और आगे यह दिल्ली गए। उन्होंने वहां अंग्रेजी लिटरेचर से अपना स्नाकोत्तर संपन्न किया। अभी उनकी उम्र यूपीएससी के लिए नहीं थी फिर भी उन्होंने इसकी तैयारी प्रारंभ कर दी और खुद से पढ़ाई करने लगे।

Mukund kumar IAS

12 घण्टे से भी अधिक की पढ़ाई

वह स्वयं को लकी मानते हैं क्योंकि उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा पहली बार में ही पास किया है। उन्होंने यह जानकारी दिया कि अगर आप यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं तो उसके लिए टाइम टेबल जरूर निर्धारित करना चाहिए। वह जब इसकी तैयारी कर रहे थे तो वह लगभग 12 से 14 घंटे अपनी पढ़ाई किया करते थे और सोशल साइड से दूर रहते। उन्होंने अपने ऑप्शनल विषय के लिए लगभग 5 महीने तक इसी पर अपना ध्यान केंद्रित किया और UPSC की तैयारी के लिए जी जान लगाकर दी। तब उसमें सफलता हासिल किया।

अपनी मेहनत से बिना किसी कोचिंग में पढ़ाई किए वह जिस तरह सेल्फ स्टडी से प्रथम प्रयास में ही यूपीएससी 54वीं रैंक से पास किया। उसके लिए The Logically मुकुंद जी को सलाम करता है।