Sunday, December 5, 2021

भारतीय संस्कृति को देखने आईं थी स्पेन की ट्रेसा, सीख रही हैं खेती, गौ-पालन सहित कई कार्य !

भारतीय सभ्यता और संस्कृति की विशेषता और उसका प्रभाव सिर्फ भारत तक नहीं अपितु पूरे विश्व भर में फैला हुआ है ! वर्षों पहले से विश्व के कई देशों से लोग भारत की संस्कृति के प्रति आकर्षित होकर उसे देखने , उसकी अनुभूति करने , और उसे सीखने के लिए आते रहे हैं ! आज बात उसी क्रम में भारतीय संस्कृति को देखने और समझने के लिए भारत आई स्पेन की रहने वाली ट्रेसा की जो भारत आई तो कुछ दिनों के लिए थीं लेकिन कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन में वह यहीं फँस गई और इस कारण वह यहीं रहकर भारतीय खेती, रंगोली बनाने के साथ कई अन्य कार्य सीख रही हैं आईए जानते हैं पूरा वाकया…

Tresa स्पेन की रहने वाली एक महिला हैं जो भारतीय संस्कृति के प्रति बेहद आकर्षित थीं ! वह भारत आकर उन्हें नजदीक से देखना चाहती थीं ! ट्रेसा के भाई का एक दोस्त कृष्णा पुजारी जो कर्नाटक के उडुपी में रहते हैं ! अपने भाई के कहने पर ट्रेसा ने भारत आने का निर्णय लिया ! वह इसी साल मार्च महीने में भारत आई थीं ! उसी बीच कोरोना संक्रमण के बढने और उससे निपटने के लिए भारत सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर दी जिसके कारण घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय उड़ान सेवा भी बन्द हो गई ! ट्रेसा के सामने अब भारत में रहने का एकमात्र विकल्प बच गया !


भाषा सीखने से लेकर खेती , गौ पालन सहित कई कार्यों को सीख रही

लॉकडाउन के कारण ट्रेसा को भारत में हीं रहना पड़ा ! इस अवधि में वे अपनी जिंदगी में नए आयाम को जोड़ने का निर्णय लिया और वह सर्वप्रथम् अपने दोस्त से कन्नड़ भाषा सीखी ! इसके बाद वह गाँव में रहकर वहाँ की जीवन शैली का अनुभव लेने लगीं ! Tresa अब वहाँ रहकर खेती का गुर सीखने लगीं ! वह भारतीय धान रोपण की विधि भी सीख रही हैं ! इसके साथ वे गौ पालन कैसे किया जाता है , गौ से दूध निकालना और भारतीय रंगोली बनाने के कार्य भी सीख रही हैं ! गाँव में रहकर ट्रेसा भारतीय संस्कृति और भारतीय ग्रामीण परिवेश को पूरी तरह सीख और जी रही हैं और खुद को काफी सहज महसूस कर रही हैं !

इस यात्रा को बताया बेहद खास

लॉकडाउन के कारण भारत में फंसी ट्रेसा भारत में बिताए अपने पूरे समय को बेहद खास बताती हैं ! वह लॉकडाउन को अच्छा बताती हैं कि जस कारण उन्हें भारत में इतने वक्त रहने का मौका मिला जिस कारण वह ना सिर्फ भारतीय संस्कृति को जानी बल्कि उसमें अपनी जिंदगी के कुछ पलों को जिया भी ! अपनी पहली भारत यात्रा को वह बेहद खास मानती हैं ! वह जिस भारतीय संस्कृति को देखने आईं थी उस संस्कृति में रहकर उसके कई पहलुओं और भारतीय जीवन शैली को जीना उनके लिए खास अनुभव रहा ! वह भारत में बिता रहे अपने पलों से बेहद खुश हैं ! वे कहती हैं कि अच्छा हुआ कि लॉकडाउन के कारण सभी कुछ बन्द हो गया ! कोरोना संक्रमण के लिहाज से गाँव शहर की अपेक्षा ज्यादा सुरक्षित है ! लॉकडाउन ने ट्रेसा के लिए भारतीय संस्कृति को सीेखने और जीने का अवसर प्रदान किया जिसे ट्रेसा खुद के लिए अच्छा मानती हैं !

स्पेन की रहने वाली ट्रेसा भारतीय सभ्यता और संस्कृति में रहकर जिस तरह यहाँ के कई कलाओं को सीखा वह भारत की महानता का परिचायक है ! The Logically ट्रेसा को भारत यात्रा के लिए धन्यवाद देता है !

Logically is bringing positive stories of social heroes working for betterment of the society. It aims to create a positive world through positive stories.