Thursday, October 28, 2021

अपनी ड्यूटी के बाद , यह पुलिसवाला इस गरीब बच्चे को पढ़ाने उसके घर हर रोज जाता है

हमारे देश में गरीबी एक बहुत बड़ी समस्या है जिसके कारण बहुत बच्चे बाल मजदूरी के शिकार हो जाते है। स्कूली शिक्षा प्राप्त करने के समय कुछ बच्चे घर के कामों में हाथ बंटाते है तो कुछ खेतों में काम करने पर मजबूर हो जाते है। असमय बच्चों के सिर पे कभी काम का बोझ इतना ज्यादा हो जाता है कि वह कोई सपना देखने और बाहरी दुनिया से अनभिज्ञ रह जाते है। पढ़ने में होनहार बच्चा भी किसी का सहारा न मिलने के कारण अपनी पढ़ाई छोड़ देता है और घर के कामों में ही लीन हो जाता है। यदि ऐसे बच्चों को किसी का सहारा मिल जाए तो उसके साथ आने वाली पीढ़ी का भी भविष्य सँवर जाएगा। आज हम आपको एक ऐसे पुलिस ऑफिसर से रूबरू करवाएंगे जो गरीब बच्चे की पढ़ाई में मदद कर रहे है।

SHO vinod dixit
Photo credit- internet

एक ऐसे पुलिस अधिकारी जो अपनी ड्यूटी पूरी करने के बाद प्रतिदिन एक गरीब बच्चे को ट्यूशन पढ़ाने जाते है। बच्चे में पढ़ाई की ऐसी लगन है कि पुलिस वाले भी खुद को उसकी मदद करने से रोक नहीं पाए।

पुलिस ऑफिसर ने की गरीब बच्चों की मदद

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले के पुलिस ऑफिसर विनोद दीक्षित जो अभी जिले में पलासिया थाने में एस.एच.ओ. के पद पर कार्यरत हैं। कोरोना वायरस के कारण जब पूरे देश में लॉकडाउन हुआ था उस समय उन्हें ड्यूटी के दौरान रास्ते में एक बच्चा मिला, जिसका नाम राज है उसके माता – पिता बहुत गरीब हैं और गरीबी के कारण राज को अच्छे स्कूल में दाखिला नहीं करवा सकते । यहां तक कि वे उसे एक ट्यूशन पढ़ाने में भी असमर्थ है।

इनके कार्य को लोगों ने ट्विटर के जरिये लोगों ने खूब सराहा है

Indore: Vinod Dikshit, SHO Palasia teaches a young boy Raj, after completing his official duties every day. Vinod says,”I met this boy one day during patrolling.He said he wanted to be a policeman but can’t afford tuitions. So,I started teaching him English&Maths.” #MadhyaPradesh pic.twitter.com/pkn7L9Pqex

— ANI (@ANI) July 24, 2020

Humanity and knowledge sharing at its best… #salute Vinod Dikshit sir @ipskabra @ipsvijrk @ManMundra @arunbothra https://t.co/sxE1enxoEs

— Rajeev S. Ranjan (@vakilbhau) July 25, 2020

Policeman can be a teacher too.😊#GoodJobCop https://t.co/3sZKAMUQT9

— SACHIN KAUSHIK (@upcopsachin) July 25, 2020

ऑफिसर विनोद के अनुसार राज पढ़ाई कर उनके जैसा पुलिस ऑफिसर बनना चाहता है। बच्चे का पढ़ने का जज़्बा देख वह खुद उसकी मदद करने के लिए आगे आए। विनोद उसके घर जाकर ट्यूशन पढ़ाने के साथ राज की हर छोटी- बड़ी जरूरतें भी पूरी करते है। Logically ऑफिसर विनोद के कार्यों को नमन करता है।