Sunday, October 24, 2021

भारत ने खोज निकाला प्लास्टिक विघटन का आसान तरीका , बना डाला लाखों किमी. सङकें !

आज प्लास्टिक के अधिकाधिक मात्रा में प्रयोग ने सम्पूर्ण प्राणीजगत का जीवन बुरी तरह प्रभावित किया है ! प्लास्टिक एक ऐसा तत्व है जो जल्दी खत्म नहीं होता ! इसका विघटन सैंकड़ों सालों के बाद होता है ! ऐसे में लोगों के प्लास्टिक प्रयोग के कारण हर तरफ प्लास्टिकों का अंबार सा लग रहा है ! ऐसे में उससे छुटकारा पाने के लिए भारत सरकार ने उन प्रयोग में लाए गए प्लास्टिकों से सड़क बनाकर उसे ठिकाने लगाने का सटीक तरीका ढूँढ लिया है ! आईए जानें कि भारत ने किस तरह प्लास्टिकों का प्रयोग कर लाखों किलोमीटर सड़क बना डाला और समस्या को कम कर दिया !

बेहद नुकसानदेह है प्लास्टिक

प्लास्टिक पूरे प्राणिजगत के लिए बहुत हीं नुकसानदेह है ! इस बात को जानते हुए भी लोग प्लास्टिक का प्रयोग अधिक मात्रा में करते हैं जिससे समस्याएं और बढती हीं जा रही हैं ! इंसानों द्वारा प्रयोग में लाए गए प्लास्टिकों में खाने-पीने की चीजें रखकर फेंक देने या यूँ हीं जहाँ-तहाँ फेंक देने से जानवर उसे भी खा लेते हैं जिससे उनकी मौत तक हो जाती है ! उसका विघटन अत्यंत हीं कठिन है ! अगर जलाकर उसे खत्म करने की कोशिश की जाए तो विघटित होते प्लास्टिक में से निकलने वाले अत्यंत दूषित धुएँ पर्यावरण को बुरी तरह प्रभावित करते हैं ! इस प्रकार हर तरह से प्लास्टिक का होना हमारे जीवन को कुप्रभावित करता है !

सड़क निर्माण का बेहतर आईडिया 

प्लास्टिक के अधिक मात्रा में प्रयोग और फलस्वरूप प्लास्टिकों के खड़े होते अंबार से उत्पन्न समस्याओं से निजात पाने के लिए भारत सरकार ने वस्तुओं द्वारा पर्यावरण को दूषित होने से बचाव हेतु तीन उपायों “Reduce , Recycle और Reuse” में से ‘Reuse’ को अपनाया और एक नए और बेहतर आईडिए पर काम करना शुरू किया ! लोगों द्वारा प्रयोग किए गए प्लास्टिकों से सड़क निर्माण का सरकार का आईडिया बेहद कारगर साबित हुआ जिससे सड़क बनाकर पूरी तरह से परखा गया ! प्लास्टिक से बनने वाली सड़क अपेक्षाकृत ज्यादा टिकाऊ , सस्ती और गड्ढा रहित होती है ! 

सरकार दे रही जोर

प्लास्टिक से सड़क निर्माण को सरकार बढावा दे रही है ! 2016 में तत्कालीन सड़क व परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जी ने सड़क निर्माण में प्लास्टिक कचरे का इस्तेमाल करने की घोषणा की थी ! एक रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग में 10 फीसदी प्लास्टिक कचरे का इस्तेमाल किया गया है ! नोएडा सेक्टर 14ए में महामाया फ्लाईओवर तक सड़क निर्माण में 6 टन प्लास्टिक कचरे का प्रयोग किया गया ! देश की कई अन्य सड़कों को बनाने में भी प्लास्टिक कचरे का इस्तेमाल किया जाएगा ! दैनिक समाचार पत्र हिन्दुस्तान के अनुसार भारत में प्लास्टिक कचरे के इस्तेमाल से लगभग 1 लाख किलोमीटर से भी अधिक सड़क का निर्माण किया जा चुका है !

यह भी पढ़े :-

इस स्कूल में फीस के बदले प्लास्टिक का कचड़ा लिया जाता है और कचड़े से स्ट्रक्चर बनाना सिखाया जाता है

प्लास्टिक विघटित करने का यह बेहद हीं कारगर उपाय है ! भारत द्वारा प्लास्टिक कचरे का इस्तेमाल सड़क निर्माण करने का आईडिया विश्व में अद्वितीय है ! ऐसा करने वाला भारत दुनिया का पहला देश है ! भारत के इस सफल प्रयास ने विश्व भर के देशों के लिए प्लास्टिक विघटित करने का एक नया तरीका दिया है !