Monday, November 30, 2020

बिहार: चौथी बार विधानसभा जीतने के बाद भी इस विधायक के पास खुद का पक्का मकान नही है

अगर देखा जाए तो अधिकतर व्यक्ति पॉलिटिक्स से इसलिए जुड़ते हैं ताकि अपने औहदे और जीवनशैली आनन्द ले सकें। राजनीतिज्ञ अक्सर इलेक्शन से पहले जनता के भलाई की बात करतें हैं लेकिन चुनाव जीतने के बाद देखने तक नहीं आते कि उनकी जनता किस हालात में है और किस तरह अपना जीवन बसर कर रही है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपने पद का सदुपयोग कर लोगों की भलाई का कार्य करतें हैं और अपने लिए कुछ बेहतर नहीं कर पाते। आज हम आपको एक ऐसे विधायक के विषय मे बताएंगे जो 4 बार MLA बन चुके हैं लेकिन इनके पास रहने के लिए पक्के का मकान तक नहीं है।

विधायक महबूब आलम

बात अगर विधायकों की हो तो हमें लगभग 81% विधायक करोड़पति मिल जाएंगे। लेकिन महबूब आलम (Mahboob Alam) उनमें से नहीं है। यह 4 बार विधायक बन चुके हैं लेकिन इनके पास रहने के लिए अपना पक्का मकान तक नहीं है। महबूब आलम बिहार (Bihar) के बलरामपुर (Balrampur) विधानसभा में चौथी बार विधायक के रुप में नियुक्त हुए हैं। यह ऐसे विधायक हैं जो जनता की भलाई में ज्यादा वक्त देतें हैं।

Four time winning mla

रहते हैं कच्चे घर में

विधायक महबूब आलम बेहद शांतिपूर्ण और सादगी जीवन व्यतीत करते हैं। आजकल सोशल मीडिया पर इनकी बहुत सारी तस्वीरें देखने को मिल रही है। लोग इनकी काफी तारीफ़ कर रहें हैं। तारीफ करें भी क्यों ना। यह ऐसे व्यक्ति हैं जो 4 बार एमएलए बन चुके हैं और बिल्कुल सादगीपूर्ण जीवन व्यतीत करते हैं। आलम साहब जनता की भलाई के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं जो सच में प्रशंसा के योग्य है। शायद अपनी उदारता की वजह से ही यह चौथी बार एमएलए बने हैं। जनता के दिलों में इन्होंने अपनी एक अलग पहचान बना रखी है। इनके पास अपना पक्का मकान भी नहीं है। यह कच्चे मकान में रहते हैं।

बनाया एक रिकॉर्ड

इन्होंने इस बार की सफलता में एक रिकॉर्ड कायम किया है। इन्होंने अपने जीत को लगभग 53 हजार से भी अधिक सीट से हासिल की है। इनके दिए गए जानकारी में यह बताया गया है कि इनका पेशा खेती है और यह 10वीं तक शिक्षा ग्रहण किए हैं। साथ ही इनका कुल घोषित आमदनी शून्य है।

अपने पद का सदुपयोग करने और जनता के दिलों में प्यार बनाये रखने के लिए The Logically महबूब आलम को शुभकामनाएं देता है और उम्मीद करता है कि वह हमेशा यूं हीं जनता का प्यार हासिल करतें रहें।

Khusboo Pandey
Khushboo loves to read and write on different issues. She hails from rural Bihar and interacting with different girls on their basic problems. In pursuit of learning stories of mankind , she talks to different people and bring their stories to mainstream.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

पैसे के अभाव मे 12 साल से ब्रेन सर्ज़री नही हो पा रही थी, सोनू सूद मसीहा बन करा दिए सर्जरी

इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं होता। कोरो'ना की वजह से हुए लॉकडाउन में बहुत सारे लोगों ने एक दूसरे की मदद कर के...

500 गमले और 40 तरह के पौधे, इस तरह यह परिवार अपने छत को फार्म में बदल दिया: आप भी सीखें

आजकल बहुत सारे लोग किचन गार्डनिंग, गार्डनिंग और टेरेस गार्डनिंग को अपना शौक बना रहे हैं। सभी की कोशिश हो रही है कि वह...

MS Dhoni क्रिकेट के बाद अब फार्मिंग पर दे रहे हैं ध्यान, दूध और टमाटर का कर रहे हैं बिज़नेस

आजकल सभी व्यक्ति खेती की तरफ अग्रसर हो रहें हैं। चाहे वह बड़ी नौकरी करने वाला इंसान हो, कोई उद्योगपति या फिर महिलाएं। आज...

इस दसवीं पास ने ट्रैक्टर से लेकर पावर ग्लाइडर तक बना डाले, पिछले 2 दशक में 10 अविष्कार कर चुके हैं

अगर आपमे कुछ करने की चाहत हो तो फिर आपको किसी डिग्री की ज़रूरत नही होती। डिग्री आपको सिर्फ किताबी ज्ञान दे सकती है...