Saturday, July 31, 2021

तीन दोस्तों की अनोखी शुरुआत, मात्र 4 साल में खड़ी किये 450 करोड़ की कम्पनी, अपने एम्प्लोयी से परिवार जैसा बर्ताव रखते हैं

हमारे बड़े हमेशा कहतें हैं कि एकता में बल होता है। अगर किसी भी कार्य को 2 या 4 व्यक्ति मिलकर करे तो वह उसमें आसानी से सफल हो सकता है। यह कहानी 3 दोस्तों की है जिन्होंने एक साथ होकर एक कम्पनी का निर्माण किया और सफल हुयें। आज इनकी यह कम्पनी 450 करोड़ रुपये की आमदनी प्रदान कर रही है।

शॉप किराना

आज से लगभग 5 वर्ष पूर्व इंदौर (Indore) में शॉप किराना (Shop Kirana) नामक स्टार्टअप की शुरुआत हुई और अब इससे करोड़ो के फायदे हो रहें हैं। इस साल इसका विस्तार 90 शहरों में होने वाला है। इस कम्पनी में 7 सौ कर्मचारी काम करते हैं। यह कम्पनी यूनिकॉर्न कहलाती है क्योंकि यह हजार करोड़ की आमदनी वाली कम्पनी है। दीपक धनोतिया (Deepak Dhanotiya), सुमित घोरावत (Sumit Ghorawat) और तनुतेजस सारस्वत (Tanutejas saraswat) ये तीन मित्र शॉप किराना के संस्थापक हैं। फोर्ब्स के सर्वे के अनुसार उसने 50 कम्पनी को सिलेक्ट किया था जो इस तरह थी। आगे 10 का सेलेक्ट हुआ जिसमें शॉप किराना अव्वल है। शॉप किराना का मुख्यालय इंदौर में है और यह 8 शहरों में अपना हुनर दिखा रहा है।

three friends starts Shop Kirana

कर्मचारियों को समझतें हैं अपनी फैमिली

इसकी इतनी बड़ी सफलता का राज ये है कि इस कम्पनी के संस्थापक अपने कर्मचारियों को अपनी फैमिली की तरह समझतें हैं। यहां के कर्मचारी यह खुद निश्चय करतें हैं कि उन्हें किस माहौल में और कैसे काम करना है। इन्हें अपने अनुसार काम करने की छूट है।

यह भी पढ़े :- MNC की नौकरी छोड़कर अपने गांव में शुरू किए दूध का कारोबार, अपने अनोखे आईडिया से लाखों रुपये कमा रहे हैं

450 सौ करोड़ का है वार्षिक टर्नओवर

इन्होंने यह बताया कि वर्ष 2015 में इनकी टर्नओवर 2 करोड़ रुपये थी। धीरे-धीरे यह बढ़कर 2 सौ करोड़ हुआ। लेकिन अब यह 4 सौ करोड़ से भी अधिक हो चुकी है। वर्ष 2018 में इन्हें जापान की “इनक्यूबेट फंड” संयुक्त राष्ट्र अमेरिका की “बैटर कैपिटल” और इंडिया की नौकरी डॉट कॉम की तरफ से 14 करोड़ का फंडिंग मिला। साथ अन्य कम्पनियों से उन्हें और भी फंडिंग प्रदान हुई। वर्ष 2019 के फरवरी महीनों में इन्होंने जयपुर, बड़ौदा और सूरत में अपने कम्पनी की उपक्रम का विस्तार किया। साथ ही मार्च में इन्होंने अपना टारगेट लखनऊ वाराणसी और कानपुर को बनाया।

शुरू हुआ किसान किराना
 
इन्होंने यह भी मन बनाया है कि “किसान किराना” का शुभारंभ इसी वर्ष हो। इंदौर से शुरू करने के बाद भारत के 8 शहरों में विस्तार हुआ। पहले यह दूसरे ब्रांड से मसाले, अनाज और अन्य चीज़े खरीदते थे, परन्तु अब यह किसान से खरीदते हैं। यह भी अपनी तेज रफ्तार में आगे बढ़ रहा है और उम्मीद है जल्द ही अधिक विस्तार होगा। वैसे इसने जल्द ही 1 करोड़ का टर्नओवर कुछ ही माह में पूरा कर लिया है।