Thursday, October 29, 2020

30 वर्षों में 3 KM लम्बी नहर खोदने वाले लौंगी भुइँया को आनन्द महिंद्रा ने खेती करने के लिए दिया ट्रैक्टर

“अच्छे कर्मों का फल अच्छा ही मिलता है।” अभी हाल ही हमने आपको लौन्गीं भुईयां के बारे में बताया था। बिहार के गया के रहनेवाले लौन्गीं भुईयां ने 30 साल कड़ी मेहनत कर के पहाड़ को काट कर अपने कठिन परिश्रम के दम पर 5 फीट चौड़ी और 3 फीट गहरी नहर का निर्माण किया है। इस नहर की लंबाई 3 किलोमीटर है!

“प्रतिभा का सम्मान हर कोई नहीं करता है लेकिन कुछ लोग ऐसे भी है जो प्रतिभा को प्रोत्साहित करते और उनके मेहनत का सम्मान करते हैं।” लौंगी भुईयां के काम से प्रभावित होकर आनंद महिन्द्रा (Aanand Mahindra) ने उन्हें इनाम के रूप में महिन्द्रा ट्रैक्टर देने का निर्णय लिया है। लौंगी भुईयां की उनके काम के लिये उपहार में ट्रैक्टर देने के लिये ट्वीटर का मदद लिया। किसान की सहायता करने के लिये उन्होंने एक ट्विट के जरिये उसका जवाब देते हुयें कहा कि, “जैसा की आप जानतें हैं, मैनें ट्विट किया था कि मुझे लगता है कि उनकी नहर ताज या पिरामिडों के समान प्रभावशाली है। हम @Mahindra पर इसे एक सम्मान मानते हैं। हम उन्हें ट्रैक्टर भेंट करना चाहतें हैं कैसे पहुँचाया जाए?”

आनंद महिन्द्रा ने ट्रैक्टर को किसान तक पहुंचाने के लिये लौंगी भुईयां के मेसेंजर से महिंद्रा टीम को कहा। हाल ही में लौंगी भुईयां ने गांव में जल की पूर्ति करने के लिये गया के कोठीलावा गांव के पास की पहाड़ से गिरने वाले बारिश के पानी को इकट्ठा करने के लिये पहाड़ को काटकर नहर का निर्माण किया है। जिसके कारण वह काफी चर्चा का विषय बने हुयें हैं।

लौंगी भुईयां के द्वारा किया गया यह कार्य दशरथ मांझी की याद दिलाता है। जिन्होंने अपनी पत्नी के मौत के बाद 25 फुट उंचे, 360 फुट लम्बी और 30 फुट चौड़ी गहलौर पहाड़ को काटकर रास्ता बना दिया था।

The Logically लौंगी भुईयां को आनंद महिंद्रा के द्वारा उपहार दिये जाने के लिये उन्हें नमन करता है।

Shikha Singh
Shikha is a multi dimensional personality. She is currently pursuing her BCA degree. She wants to bring unheard stories of social heroes in front of the world through her articles.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

घर चलाने के लिए पिता घूमकर दूध बेचते थे, बेटे ने UPSC निकाला, बन गए IAS अधिकारी: प्रेरणा

हमारे देश में करोड़ों ऐसे बच्चे हैं जो गरीबी व सुविधा ना मिलने के कारण उचित शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते हैं।...

गांव से निकलकर नासा तक पहुंचे, पहली बार मे ही मिला था 55 लाख का पैकेज: गांव का नाम रौशन किये

अच्छी कम्पनी और विदेश में अच्छी सैलरी वाली नौकरी सभी करना चाहते हैं। देश के युवा भी मेहनत कर विदेश की अच्छी...

अगर खेत मे नही जाना चाहते तो गमले में उगाये करेले: जानें यह आसन तरीका

हमारे यहां खेती करने का शौक हर किसी को हो रहा है। हर व्यक्ति अपने खाने युक्त सब्जियों और फलों को खुद...

MNC की नौकरी छोड़कर अपने गांव में शुरू किए दूध का कारोबार, अपने अनोखे आईडिया से लाखों रुपये कमा रहे हैं

जैसा कि सभी जानते हैं कि दूध हमारे सेहत के लिए के लिए बहुत लाभदायक है। डॉक्टर भी लोगों को प्रतिदिन दूध...