Sunday, September 19, 2021

पिता के एक्सीडेंट से डॉक्टर बनने के लिए हुईं प्रेरित, अब एग्जाम निकालकर सफलता के तरफ़ आगे बढ़ी

आप सभी को पता है कि NEET की परीक्षा का परिणाम आ चुका है। सफलता की कहानी शेयर करने का सिलसिला भी शुरु हो गया है। टॉपर छात्रों के बारें में भी सभी जानते हैं। सभी अपनी-अपनी सफलता के बारे में बातें साझा कर रहें है। छात्रों के पैरंट्स के खुशी का ठिकाना नहीं है। ऐसी ही एक छात्रा है जिसने नीट की परीक्षा में सफलता हासिल की है, जिससे अपने क्षेत्र और माता-पिता का नाम रोशन किया है। वह डॉक्टर बनना चाहती है।

मुस्कान माटिया रादौर की शास्त्री कालोनी की रहनेवाली है। मुस्कान ने नीट की परीक्षा में 720 में से 656 अंक प्राप्त किया है और इसके साथ ही वह देश में 2846वां रैंक भी हासिल की है। मुस्कान के उपलब्धि पर पूरे परिवार में खुशी की लहर है। मुस्कान के पिता एक प्राइवेट कंपनी में सीनियर मैनेजर के पद पर हैं तो उसकी माता सरकारी स्कूल में जेबीटी टीचर हैं।

मुस्कान ने बताया कि, वह MBBS करने के बाद कार्डोयोलॉजि मे जाना चाहती है। उनका कहना है कि बदलते लाईफ स्टाइल के कारण लोगों को दिल की बिमारी ने बहुत प्रभावित किया है। इसीलिए मुस्कान अपना लक्ष्य उनकी मदद करने को रखती है। मुस्कान अपनी कामयाबी का श्रेय अपने परिवार और टीचर को देती है।

Mushkan Matiya

मुस्कान ने अपनी सफलता के बारें में बताया कि, पहले यह सोचना होगा किस क्षेत्र में जाना है। क्षेत्र का चुनाव करके यदि पूरे मन और लगन से मेहनत किया जाए तो सफलता जरुर मिलती है। उन्होंने यह भी कहा कि, यदि सोशल मीडिया का इस्तेमाल पॉजिटिव तरीके से किया जाए तो उसकी सहायता से भी अधिक जानकारी हासिल किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :- रोज पढ़ने के लिए जाती थी 70 KM, आकांक्षा ने NEET एग्जाम में 720 में 720 रैंक हासिल किया

मुस्कान की माता का नाम मीना माटिया है। मीना माटिया मुस्कान की सफलता पर खुशी दिखाते हुए बताती हैं कि, आजतक उनके परिवार में कोई भी डॉक्टर नहीं बना है, इसलिए आज उनकी बेटी पर उन्हें बहुत गर्व महसूस हो रहा है। वह बेहद खुश हैं कि उनकी बेटी एक डॉक्टर बनने जा रही है। इसके साथ ही मुस्कान की मां कहती हैं कि कुछ वक्त पहले मुस्कान के पिता का एक्सीडेंट हो गया था। तब डॉक्टरों ने उनके जीवन को बचाया था। तभी से मन में बेटी को भी डॉक्टर बनाने का ख्वाब पल रहा था। इसके अलावा बेटियों की शिक्षा के बारें में कहा कि, बहुत सारे परिवार अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए बाहर नहीं जाने देते हैं, जो कि सही नहीं है। यदि बेटी में कुछ अच्छा करने और आगे बढ़ने की ललक और इच्छा हो तो उसको हमेशा प्रोत्साहित करना चाहिए। उसे आगे बढ़ने में उसकी सहायता करनी चाहिए।

The Logically मुस्कान माटिया को उनकी सफलता की लिए ढेर सारी बधाईयां देता है। इसके साथ ही मुस्कान की मां मीना माटिया की सोंच सलाम करता है।