Thursday, January 20, 2022

पिता से प्रेरणा लेकर रचना ने शुरू की टेरेस गार्डनिंग, आज गमले में उगा रहीं कई सब्जियां

लोगों में गार्डेनिंग का शौक इस कदर बढ़ता जा रहा कि लोग अपने आंगन, छत और बालकनी में पौधों को लगा रहें हैं। आज हम आपको एक ऐसी महिला से रूबरू कराएंगे जिन्होंने अपने छत को टेरेस गार्डन में तब्दील कर दिया है। उन्होंने यहां फूल, सब्जियां और रागी उगाए है। उनके गार्डन में पक्षियों की चहचहाहट सुनकर मन प्रसन्न हो जाता है।

उगाए 100 से भी ज्यादा पौधें

रचना रोनांकी (Rachana Ronanki) आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) के विशाखपट्नम (Vishakhapatanam) से ताल्लुक रखती हैं। उनकी आयु अभी 23 वर्ष की है। उन्होंने बायोटेक्नोलॉजी से मास्टर की डिग्री हासिल की है। अपनी पढ़ाई संपन्न करने के उपरांत उन्होंने नौकरी ज्वाइन किया, परंतु कुछ पर्सनल कारणों से उन्होंने नौकरी छोड़ दी। उसके उपरांत उन्होंने कुछ वर्षों के बाद अपने छत पर किचन गार्डन का शुभारंभ किया एवं आज वह उसमें नए-नए प्रयोग कर सफलता हासिल कर रही है। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

Rachna started terrace gardening and growing vegetables in flowerpot

पिता से मिली प्रेरणा

प्रकृति के करीब रहना एवं पेड़-पौधों के प्रति लगाव रखना उनके पिता से मिली है। उन्होंने यह जानकारी दिया कि गार्डनिंग के बारे में उन्होंने अपने पिता से हीं सीखी है। शुरुआती दौर में उन्होंने कुछ पौधों को हीं लगाया परंतु आज वह हाई लेवल पर अधिक मात्रा में फल एवं सब्जियों का उत्पादन कर रही हैं। आज उनके गार्डन में एक या दो नहीं बल्कि 100 पौधे मौजूद हैं। उन्होंने यह बताया कि शुरुआती दौर में मैंने अपने पिता से यह सारे गुण सीखे कि किस तरह पौधों को उगाया जाता है। परंतु आज मैं सोशल मीडिया के जरिए अन्य लोगों को ट्रेनिंग दे रही हूं। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

वह बताती हैं कि अगर आपको गार्डेनिंग प्रारंभ करनी है तो बीजों को विश्वसनीय स्थान से हीं खरीदें। बहुत बार ऐसा होता है कि बीजों की क्वालिटी सही ना होने के कारण पौधों की उपज नहीं होती और हम यह सोचने लगते हैं कि हमें गार्डेनिंग करनी नहीं आती। जिस कारण हमसे यह नहीं हो सकता इसलिए आपको हताश नहीं होनी है और अपने कोशिश को जारी रखना है। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

Rachna started terrace gardening and growing vegetables in flowerpot

छोटे गमलें से की शुरुआत

उन्होंने बताया कि मैंने शुरूआती दौर में छोटे गमलों में ही पौधों को लगाया था। परंतु आज मेरे पास कुछ ग्रो बैग्स हैं, जिनमें पौधे उगे हुए हैं। वह भिंडी, तरोई मक्का, अमरुद , सूरजमुखी, लौकी, खीरा, एवं अमरूद आदि अपने छत पर उगा रही है। वह अपने उत्पादों को अन्य लोगों को भी देती है। उन्होंने कुछ वक्त पूर्व रागी के बारे में एक्सपेरिमेंट किया और अपने गार्डन में रागी को उगाया। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

Rachna started terrace gardening and growing vegetables in flowerpot

नही पड़ती ज्यादा देखभाल की जरूरत

उन्होंने बताया कि रागी को लोग सुपर ग्रीन कहते हैं और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होता है इसीलिए मैंने इसे उगाना जरूरी समझा और इसे मुझे सफलता में मिली। उन्होंने बताया कि रागी के बीज को लाया और गमले में लगाया। वह बताती है कि इसे उगाने में कोई झंझट नहीं है क्योंकि इसे अधिक देखभाल की आवश्यकता नहीं होती। वह अपने पौधों में उर्वरक के तौर पर ऑर्गेनिक कंपोस्ट ही डालती हैं। उन्होंने बताया कि अगर आप छत पर खेती कर रहे हैं तो इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि गमले में पानी अधिक ना भरे और ना ही गमला ज्यादा भारी हो। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

Rachna started terrace gardening and growing vegetables in flowerpot

फूल का गार्डन में है अहम भूमिका

उन्होंने रागी उगाया और फिर उसके आटे बनवाएं। उन्होंने पक्षियों को भी इसके स्वाद चखने दिए और भुसों को जानवरों के खाने के लिए दिया। उन्होंने बताया कि बहुत लोग हैं जो कहते हैं कि गार्डन में फूलों का क्या काम?? परंतु अगर आप गार्डनिंग कर रहे हैं तो फूलों को अवश्य लगाएं क्योंकि गार्डन में इनकी अहम भूमिका होती है। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

यह भी पढ़ें :- इन आसान तरीकों से घर की छत पर उगाएं सब्जियां, बस रखना होगा इन बातों का ध्यान

फूलों के फायदे

उन्होंने बताया कि फूलों के बहुत से फायदे हैं इसकी रंग और सुगंध के कारण बहुत से कीट-पतंग एवं तितली आपके गार्डन में आकर्षित होते हैं। फूलों की सुगंध के कारण कीट-पतंग सिर्फ फूलों की तरह हीं जाएंगे एवं आपकी सब्जियां सुरक्षित रहेंगी। अगर तितली आपके गार्डन में आ रही है तो इससे आपके पौधे का पॉलिनेशन होता रहेगा। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam

Rachna started terrace gardening and growing vegetables in flowerpot

गार्डेनिंग से मिलेगी खुशी

रचना कहती हैं कि अगर आप मार्केट से किसी सब्जी को खरीद कर लाते हैं तो वह केमिकल युक्त होंगे जिससे हमारे शरीर पर घातक प्रभाव पड़ेगा। परंतु अगर स्वयं उगाए गए सब्जी का सेवन करें तो यह हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा एवं साथ हीं हमें यह खुशी भी मिलेगी कि हमने स्वयं अपने खाने योग्य उत्पाद को तैयार किया है। उनका कहना है कि सभी को गार्डनिंग अवश्य करनी चाहिए। जो बच्चे स्कूल जा रहे हैं तो उन्हें भी इसके बारे में सीख लेनी चाहिए। -Terrace Gardening by Rachana Ronanki From Vishakhapatanam