Wednesday, September 28, 2022

15 साल नौकरी करने के बाद लौटे गांव, ड्रैगन फ्रूट और स्ट्रॉबेरी की खेती से कायम किया मिसाल: उन्नत कृषि

जीवन में क्या करना है अक्सर इस बात का फैसला हम बचपन या फिर युवावस्था में ही कर लेते हैं, लेकिन कुछ लोगों को यह तय करने में एक लंबा समय बीत जाता है कि उन्हें जीवन में करना क्या है। कुछ ऐसा ही हुआ पंजाब के पठानकोट के रहने वाले रमन सलारिया (Raman Salaria) के साथ भी। वह B.Tech करने के बाद 15 साल तक दिल्ली में एक नौकरी किए, लेकिन उनका मन उस काम में नहीं लगता था इसलिए रमन नौकरी छोड़कर गांव आ गए। – Raman Salaria from Pathankot, did a job for 15 years after doing B. tec, and is now cultivating many things.

ड्रैगन फ्रूट से किए खेती की शुरूआत

रमन गांव वापस लौट कर खेती शुरू किए और अपना हुनर बागवानी में दिखाने लगे। पहले रमन ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) पर बागवानी शुरू किए, जिससे उन्हें लाखों का मुनाफा हुआ। अब रमन ड्रैगन फ्रूट के साथ-साथ स्ट्रॉबेरी (strawberries) की खेती कर दूसरे किसानों के लिए प्रेरणास्रोत बने हुए है। ज्यादातर युवा पढ़ाई करने के बाद किसी बड़ी कंपनी को ज्वाइन करना चाहते हैं, जिसमें कम मेहनत में अच्छी सैलरी हो।

Raman Salaria left his job and started dragon fruit and strawberry farming

यह भी पढ़ें :- YouTube से सीखकर शुरू की जैविक मशरूम की खेती, आज 15 लाख से अधिक है सलाना कमाई

सिविल इंजीनियरिंग को नौकरी छोड़ शुरू किए खेती

आज के युवाओं से बिल्कुल अलग रमन सलारिया(Raman Salaria) ने एक अलग ही राह चुनी। दरअसल रमन B-Tech की डिग्री लेने के बाद करीब 15 साल तक दिल्ली के मेट्रो में सिविल इंजीनियरिंग की नौकरी किए, लेकिन रमन को अपने गांव में खेती से एक अलग ही लगाव रहता था। कृषि के क्षेत्र में रमन ने सबसे पहले ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) की खेती करनी शुरू की, जिसमें उन्हें अच्छा मुनाफा भी हुआ।

Raman Salaria left his job and started dragon fruit and strawberry farming

स्ट्रॉबेरी की खेती (Strawberry Farming) से हो रही है अच्छी कमाई

अब रमन ने ड्रैगन फ्रूट के साथ-साथ स्ट्रॉबेरी की भी खेती शुरू कर दी है। इस बार रमन सीजन के अनुसार स्ट्रॉबेरी में काफी चीजों की खेती भी करते हैं। इस बार रमन को स्ट्रॉबेरी में अच्छा मुनाफा हुआ है। रमन के अनुसार 1 एकड़ जमीन पर स्ट्रॉबेरी में करीब 3-4 लाख तक मुनाफा कमाया जा सकता है। रमन सलारिया (Raman Salaria) अन्य किसानों को भी रिवायती खेती से बाहर आकर मल्टी क्रॉपिंग खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। Raman Salaria from Pathankot, did a job for 15 years after doing B. tec, and is now cultivating many things.

सकारात्मक कहानियों को Youtube पर देखने के लिए हमारे चैनल को यहाँ सब्सक्राइब करें।