Thursday, August 18, 2022

महज 22 वर्ष की यह लङकी पहले प्रयास में क्रैक की UPSC की परीक्षा, बनी IAS अधिकारी

किसी भी सफलता को हासिल करने के लिए कद, काठी, अमीरी-गरीबी या फिर उम्र मायने नहीं रखता। मायने रखता है आपका परिश्रम और दृढ़ इच्छाशक्ति। अब चाहे वह सफलता राजनीतिक क्षेत्र में हो या कम्पटीशन के क्षेत्र में या फिर यूपीएससी जैसे कठिन एग्जाम को क्रैक करने में। ऐसे बहुत से युवा हैं जो अपनी मेहनत के बदौलत यूपीएससी को क्रैक कर अन्य युवाओं का मनोबल बढ़ाते रहते हैं।

आज हम आपको एक ऐसी आईएएस (IAS) अधिकारी से रुबरु कराएंगे जिसने मात्र 22 की आयु में यूपीएससी को पहली में क्रैक कर सफलता के ध्वज लहराया है। वह आईएएस (IAS) ऑफिसर सिमी करन (Simi Karan) हैं जिन्होंने आईआईटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हुए यूपीएससी को मात्र 22 वर्ष की आयु में क्रैक की। -Success story of IAS Simi Karan

simi Karan got success in UPSC and became an IAS officer in age 22

सिमी की प्रारंभिक शिक्षा

ऑफिसर सिमी करन (Simi Karan) उड़ीसा (Odisa) से ताल्लुक रखती है। परंतु उन्होंने अपना बचपन छत्तीसगढ़ के भिलाई में गुजारा है। उनके पिता का नाम डीएन करन है जो कि भिलाई स्टील प्लांट में कार्य करते हैं। वही उनकी मां सुजाता भिलाई के दिल्ली पब्लिक स्कूल में शिक्षिका के तौर पर कार्यरत हैं। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा भिलाई के दिल्ली पब्लिक स्कूल से ही संपन्न की। वह शुरू से ही पढ़ने में तेज-तर्रार थी और वह एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाया करती थी। उन्होंने 12वीं कक्षा में लगभग 98.4% मार्क्स लाया एवं वह अपने राज्य में टॉप रहीं। -Success story of IAS Simi Karan

simi Karan got success in UPSC and became an IAS officer in age 22

प्रारंभ की इंजीनियरिंग की पढ़ाई

प्रारंभिक शिक्षा संपन्न करने के उपरांत उन्होंने आईआईटी का एंट्रेंस एग्जाम दिया। उन्होंने सिविल सर्विस में जाने के लिए कोई योजना नहीं बनाई थी जिस कारण उन्होंने इंजीनियरिंग के क्षेत्र को चुना। अब वह आईआईटी बॉम्बे से इंजीनियरिंग करने लगी। -Success story of IAS Simi Karan

simi Karan got success in UPSC and became an IAS officer in age 22

प्रारंभ की यूपीएससी की तैयारी

उन्होंने स्नाकोत्तर के लास्ट ईयर में यूपीएससी की तैयारी प्रारंभ की और सेल्फ स्टडी करने का निश्चय किया। उन्होंने बताया कि मैंने सबसे पहले टॉपर्स के इंटरव्यू देखे एवं इंटरनेट की मदद ली ताकि किताबों की लिस्ट तैयार कर सकूं। उन्होंने तैयारी के लिए स्टैंडर्ड बुक्स का चयन किया और तैयारी में जुट गई। उन्होंने बताया कि अगर आप तैयारी कर रहे हैं तो सिलेबस को छोटे-छोटे पार्ट में विभाजित कर लें ताकि यह आपको सरल लगे और आप उनका रिवीजन बार-बार कर सकें। -Success story of IAS Simi Karan

simi Karan got success in UPSC and became an IAS officer in age 22

1 साल में बनी यूपीएससी टॉपर

अब उन्होंने पढ़ाई प्रारंभ की और सेल्फ स्टडी को अपनाया। वह अपनी मेहनत के बदौलत पहले हीं प्रयास में यूपीएससी में सफल हुई। उन्होंने बताया कि इस स्मार्ट तरीके से अपनाई गई पढ़ाई मेरे काम आई और मेरी मेहनत का फल मुझे बहुत ही जल्द प्राप्त हो गया। -Success story of IAS Simi Karan

कम उम्र में बनी आईएएस ऑफिसर

यूपीएससी में सफलता हासिल करने के उपरांत वह मात्र 22 वर्ष की आयु में आईएएस (IAS) ऑफिसर बन गई। उन्होंने यूपीएससी सीएसई 2019 (UPSC CSE) में ऑल इंडिया रैंक में 31वीं रैंक हासिल कर सफलता की इबारत लिखी। -Success story of IAS Simi Karan