Tuesday, September 28, 2021

बहन के इलाज के लिए बिहार की लड़की ने मांगी मदद, सोनू सूद ने AIIMS में कराया आपरेशन

बॉलीवुड के स्टार सोनू सूद के बारें में हम सभी जानतें हैं। कोरोना के संकट काल में गरीबों और बेसहारा लोगों के लिये सोनू सूद भगवान के दूत बनकर सामने आए। जब लॉकडाउन में गरीब मजदूर दर-दर की ठोकरें खा रहें थे तब सोनू सूद उनके लिये मसीहा बन गयें। लाखों की संख्या में उन्होंने गरीब मजदूरों को खाने-पीने की व्यवस्था के साथ उनके घर तक पहुंचाया है। ऐसे ही सोनू सूद ने कितने गरीब छात्रों को अधययन सामग्री भी मुहैया कराया है।

सोनू सूद (Sonu Sood) एक बार फिर से साबित कर दिये है कि वह दूसरें की मदद करने के लिये हमेशा तत्पर हैं। उन्होंने फिर से एक बिमार बच्ची की सहायता की है। आईये जानतें है इसके बारे में।

नेहा (Neha) नवादा (Nawada) थाना क्षेत्र की कर्मण टोला मुहल्ले की रहने वाली हैं। नेहा ने एक सितंबर को सोनू सूद के ट्वीटर (Twitter) पर टैग किया था। उसमें लिखा था कि मेरी बहन दिव्या सहाय की तबियत बहुत खराब है। ऐसे में उसे एक ऑपरेशन की सख्त जरुरत है।

नेहा ने अपने ट्विट में लिखा कि, कोरोना के लॉक डाउन में दिल्ली एम्स में मिली हुई डेट पर सर्जरी नहीं हो पाई। इसके अलावा नेहा ने सोनू सुद से निवेदन किया कि किसी भी प्रकार से एम्स में सर्जरी की तारिख दिलवा दें इसके बाद और कुछ नहीं चाहिए।

5 सितंबर को नेहा के ट्विट का रिप्लाई करतें हुयें सोनू सूद (Sonu Sood) ने लिखा, “आपकी बहन हमारी बहन। उनका हॉस्पिटल में इन्तज़ाम करवा दिया गया है। उन्हें ठीक करने का जिम्मा मेरा।” सोनू सूद के इस काम से नेहा की बहन दिव्या उर्फ चुलबुल को ऋषिकेश एम्स में तारिख मिल गईं और HYPOECHOIC MASS IN PANCREAS (पेट दर्द) की सर्जरी सफलतापूर्वक हो गईं। पेट दर्द की ऑपरेशन के बाद दिव्या स्वस्थ है हालांकि ऋषिकेश (Rishikesh) एम्स में अभी उनका उपचार चल रहा है।

यह भी पढ़े :-

माता पिता के देहांत के बाद तीनों बच्चे अनाथ हो गए थे , केवल एक ट्वीट पर सोनू सूद ने इन्हें गोद ले लिया: GodFather

दिव्या सहाय (Diwya Sahay) उर्फ चुलबुल के सफल सर्जरी के बाद दिव्या की बहन नेहा और उनका पूरा परिवार सोनू सूद का शुक्रिया अदा कर रहा है। नेहा ने ट्वीटर पर सोनू सूद को टैग कर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्होंने सोनू सूद को बहन की सफलपूर्वक सर्जरी के लिये बहुत आभार व्यक्त किया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली एम्स में तारिख नहीं मिलने के कारण और बार-बार एम्स का चक्कर काटने से घरवाले बहुत परेशान थे। लेकिन ऐसे में आपने (सोनू सूद) हमारी सहायता की जिसके कारण मेरी बहन का सफल ऑपरेशन हो पाया है। इसके अलावा नेहा ने ऋषिकेश एम्स हॉस्पिटल के डॉक्टर और स्टाफ के आचरण की भी सराहना की है।

नेहा ने बताया कि बहन की सर्जरी को लेकर 31 मार्च से पूरा परिवार परेशान था। लेकिन सोनू सूद के कारण दिव्या की सर्जरी सफलतापूर्वक हो सकी और उसका भविष्य सुरक्षा में है। नेहा की बहन दिव्या ने भी सोनू सूद को ऑपरेशन थिएटर में जाने से पहले कहा कि सोनू सर एक जिन्नी है। कुछ भी मांगने पर मिल जाता है। सोनू सूद की इतनी बड़ी मेहरबानी को मैं और मेरा परिवार कभी नहीं भूलेगा और इसके लिये आभार प्रकट करता है।

The Logically सोनू सूद के द्वारा किये गयें कार्यों की सराहना करता है। साथ ही दूसरों की मदद करने के लिये उन्हें नमन करता है।